Hindi News »Madhya Pradesh »Sagar» खरीदी केंद्र के निरीक्षण में एसडीएम को नदारद मिले कर्मचारी, नोटिस जारी होंगे

खरीदी केंद्र के निरीक्षण में एसडीएम को नदारद मिले कर्मचारी, नोटिस जारी होंगे

खरीदी केंद्रों पर शुरुआत से ही अनाज तुलावाने के लिए किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ा है। गुरुवार को परिवहन न...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 12, 2018, 05:25 AM IST

खरीदी केंद्रों पर शुरुआत से ही अनाज तुलावाने के लिए किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ा है। गुरुवार को परिवहन न होने से अनाज की इतनी बोरियां रखीं रही जिससे तुलाई नहीं हो सकी। भास्कर ने मुददा प्रकाशित किया गया।

शुक्रवार को एसडीएम एलके खरे ने मंडी स्थित गेहूं-चना मसूर सरसों के खरीद केंद्र का निरीक्षण कर तुलाई के लिए इंतजार कर रहे किसानों की उपज तुलावाई। निरीक्षण के दौरान एसडीएम को ड्यूटी कर्मचारी नदारद मिले। उन्होने किसानों से बातकर उनकी समस्याएं सुनीं। किसानों ने एसडीएम को बदइंतजामी और परेशनी किसानों का कहना है कि एसएमएस आधार पर तुलाई नहीं हो रही है। व्यापारियों के अनाज को जल्दी तौल दिया जाता है जबकि किसानों को इंतजार कराया जाता है। एसडीएम ने कर्मचारियों को किसानों की समस्याओं को दूर करने के निर्देश दिए।

मंडी के शेड पर रखी अनाज की बोरियों का आज से परिवहन शुरू हो जाएगा। एसडीएम ने बताया मंडी के पास वेयरहाउस को किराए पर लिया है। आज से परिवहन होगा। इस दौरान ड्यूटी पर तैनात कर्मचारी गैरहाजिर मिले। एसडीएम ने इसे गंभीर लापरवारी मानते हुए पंचमाना बनाया गया है।

गलत फीडिंग, 6 माह से अटका भावांतर का पैसा

शाहगढ़ | भावंतर योजना में उड़द बेच चुके 60 से अधिक किसानों को छह माह से भावांतर की राशि का इंतजार है। पंजीयन में कंप्यूटर की वजह से हुई गलत फीडिंग से ये किसान परेशान हैं। दिसंबर में उड़द बेच चुके प्रेमसिंह के पंजीयन में रजिस्टर्ड बैंक खाते मैं हुए अंको का उलटफेर की वजह से उनकी इक्कीस हजार की राशि ट्रेजरी में वापस हो गई। कृषि विभाग के एएसडीओ वीएन शर्मा ने कहा गलतियों को सुधार करने संबंधी बीते रोज बैठक के दौरान आवेदन जमा कराए गए हैं। शीघ्र सुधार कार्य कराया जा रहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×