• Hindi News
  • Rajya
  • Madhya Pradesh
  • Sagar
  • Sagar News mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country

शहर के 25 चित्रकारों ने मिलकर विलुप्त होते बुंदेलखंड के 50 लोक चित्रों को कैनवास पर उकेरा, अब देशभर में लगाएंगे प्रदर्शनी

Sagar News - शहर के लोग बुंदेलखंड के लोकगीत और लोकनृत्यों के बारे में तो बखूबी जानते हैं, लेकिन क्या बुंदेलखंड के लोक चित्रों...

Bhaskar News Network

Sep 17, 2019, 09:06 AM IST
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
शहर के लोग बुंदेलखंड के लोकगीत और लोकनृत्यों के बारे में तो बखूबी जानते हैं, लेकिन क्या बुंदेलखंड के लोक चित्रों की जानकारी है? इसी सवाल का जवाब तलाशते हुए शहर के 25 चित्रकारों ने मिलकर करीब दो माह की रिसर्च के बाद 50 बुंदेली लोक चित्रों को कैनवास पर उकेरने का काम किया है। अब ये कलाकार देशभर में बुंदेली लोक चित्रों की प्रदर्शनी का आयोजन करेंगे और इसकी शुरुआत सागर से होगी।

चित्रकार असरार अहमद ने जानकारी देते हुए बताया कि बुंदेली लोक चित्रों की जानकारी जुटाने के लिए न केवल उन्होंने सागर के ग्रंथालय खंगाले बल्कि भोपाल के संस्कृति संचालनालय और ट्राइबल म्यूजियम से भी जानकारी जुटाई। इस दौरान उन्हें नागपंचमी पर घर के बाहर बनाए जाने वाले पांच नाग, गोवर्धन की पूजा और लक्ष्मी पूजा आदि का महत्व चित्रों के माध्यम से मिला। जिसके बाद उन्होंने अपनी 25 कलाकारों की टीम के साथ मिलकर इन चित्रों को कैनवास पर उकेरने का काम किया है। असरार ने बताया कि बुंदेलखंड के लोक चित्र विलुप्त होते जा रहे है। इनका संरक्षण जरूरी है, नहीं तो आने वाली पीढ़ी को इन चित्रों का नाम ही नहीं पता होगा। चित्रों को बनाने में डॉ. निधि मिश्रा, वैशाली वैघ, ज्योति पांडे, स्वाति हलवे, अंशिता बजाज, रश्मि पवार, शालू सोनी, भारती पटेल समेत 25 चित्रकारों ने मदद की।

चित्रकार ज्योति पांडे ने जानकारी देते हुए बताया कि बुंदेली चित्र शैली में सामान्य तौर पर दो रूपों में देखने को मिलते हैं। पहला जिसमें गृहस्थ स्त्रियां तीज, त्योहार, संस्कार और कुल देवी-देवताओं के पूजन पर घरों में चित्र बनाती हैं। दूसरा रूप वह है जिसमें कुम्हार, कमनीगर आदि मिट्टी की मूर्ति, रगवारा आदि कलाओं से अपना व्यवसाय करते हैं।

 बुंदेली द्वार शिल्प : घर, मंदिर के प्रवेश द्वार पर परंपरागत चित्र होते हैं, इसमें नवग्रह यंत्र बनाए जाते हैं। इन चित्रों की मान्यता है कि घर के लोगों को बुरी नजर नहीं लगती।

 सुरांती : दीपावली के दिन पूजा घर की दीवार पर सुरांती गेंहूू से लिखी जाती है। इसमें एक ही चित्र में लक्ष्मी और नारायण होते हैं। तुलसी, गाय, आदि का भी चित्रांकन होता है।

 हरछठ : इसमें महिलाएं गोबर से घर दीवार पर हलधर(बलराम) और गाय, बछड़ा आदि का चित्र बनाकर उनकी पूजा करती हैं।

 सुअटा : किशोरियों का नवरात्रि व्रत है। जिसे नौरता कहते हैं। यह रंगोली पर्व है, जिसमें अविवाहित किशोरियां लगातार आठ दिन तक अलग-अलग चौक बनाती है।

 ऋषिपंचमी : पान के पत्ते पर सप्त ऋषियों का चित्राकंन कर उनकी पूजा की जाती है।

 सांझी : दतिया में अश्विन कृष्ण पक्ष से शुक्ल पक्ष तक सांझी उत्सव की परंपरा है। जिसमें लीलाओं का चित्राकंन रहता है। इस कला में कल्पवृक्ष के नीचे कामधेनू का चित्रांकन किया है।

 कुलभूसु पूने : घर की भीतरी दीवार पर स्त्रियां गोबर से बहूए (चार देवी) लिखती हैं। घी, हल्दी और दूध-भात से पूजा करती हैं।

Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
X
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
Sagar News - mp news 25 painters of the city put together 50 folk paintings of extinct bundelkhand on canvas will now put up exhibitions across the country
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना