खेत में पानी भरने स

Sagar News - केसली के पलोह गांव में नहर का किया घटिया निर्माण; तीन साल से खेतों में भर रहा था पानी, बार-बार अफसरों से गुहार लगाई,...

Dec 04, 2019, 10:20 AM IST
Sagar News - mp news filling the field with water
केसली के पलोह गांव में नहर का किया घटिया निर्माण; तीन साल से खेतों में भर रहा था पानी, बार-बार अफसरों से गुहार लगाई, पर सुधार नहीं हुआ, किसान के नाराज रिश्तेदार ने सिंचाई विभाग के ईई को जड़ दिया मुक्का


खेत में पानी भरने से नाराज एक युवक ने सिंचाई विभाग के ईई को मुक्का जड़ दिया। घटनाक्रम मंगलवार दोपहर करीब 12.30 बजे का है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार भैंसवाही गांव निवासी युवक मोहनसिंह लोधी अपने साथी रामबाबू लोधी के साथ कलेक्टोरेट स्थित सिंचाई विभाग पहुंचा।

वह अपने रिश्तेदार गंर्धवसिंह लोधी की जमीन में सूरजपुरा जलाशय की नहर का पानी भरने के मामले में ईई पीएन तिवारी से मिलने गया था। बताया जाता है कि मोहनसिंह ने अचानक ईई तिवारी को गालियां देना शुरु कर दी। इसके बाद दोनों में झूमा-झटकी हो गई। उसने तिवारी को मुंह में मुक्का जड़ दिया। उन्हें नाक और आंख के बीच में चोट आई। शोर-गुल सुनकर कार्यालय का बाकी स्टाफ आ गया और उन्होंने मोहनसिंह को पकड़कर धुन दिया। इसके बाद यह युवक अपने को वहां छुड़ाकर कलेक्टोरेट ऑफिस तरफ भाग गया। वहां डिप्टी कलेक्टर अमृता गर्ग को मोहनसिंह ने पूरा घटनाक्रम सुनाया जहां से उसे सिटी मजिस्ट्रेट आफिस भेज दिया गया। यहां उसे गोपालगंज पुलिस के हवाले कर दिया गया। युवक का कहना है कि ईई के कर्मचारियों ने मुझे न केवल पीटा बल्कि मेरे 40 हजार रु. और मोबाइल फोन छीन लिया। इसमें मैंने कार्यालय के कर्मचारियों मुझ से बातचीत का वीडियो रिकॉर्ड किया था।

केसली के पलोह गांव में नहर के रिसाव के कारण तीन साल से नहीं की बोवनी नहर का पानी खेत में भरने को लेकर उपजे इस विवाद को लेकर किसान गंधर्वसिंह का कहना है कि हम लोग 10 किसान हैं, जिनके करीब 8 एकड़ खेतों में बीते तीन साल से जलाशय से निकली नहर का पानी पूरे साल भरा रहता है। इस बारे में कलेक्टर से लेकर सीएम हेल्पलाइन, 181 आदि पर तीन साल से शिकायत कर रहे हैं लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही। स्थिति ये है कि हम लोग तीन साल से अपने इन खेतों से फसल नहीं ले पा रहे हैं।

Âटूट गया सब्र का बांध

भास्कर संवाददाता | सागर

खेत में पानी भरने से नाराज एक युवक ने सिंचाई विभाग के ईई को मुक्का जड़ दिया। घटनाक्रम मंगलवार दोपहर करीब 12.30 बजे का है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार भैंसवाही गांव निवासी युवक मोहनसिंह लोधी अपने साथी रामबाबू लोधी के साथ कलेक्टोरेट स्थित सिंचाई विभाग पहुंचा।

वह अपने रिश्तेदार गंर्धवसिंह लोधी की जमीन में सूरजपुरा जलाशय की नहर का पानी भरने के मामले में ईई पीएन तिवारी से मिलने गया था। बताया जाता है कि मोहनसिंह ने अचानक ईई तिवारी को गालियां देना शुरु कर दी। इसके बाद दोनों में झूमा-झटकी हो गई। उसने तिवारी को मुंह में मुक्का जड़ दिया। उन्हें नाक और आंख के बीच में चोट आई। शोर-गुल सुनकर कार्यालय का बाकी स्टाफ आ गया और उन्होंने मोहनसिंह को पकड़कर धुन दिया। इसके बाद यह युवक अपने को वहां छुड़ाकर कलेक्टोरेट ऑफिस तरफ भाग गया। वहां डिप्टी कलेक्टर अमृता गर्ग को मोहनसिंह ने पूरा घटनाक्रम सुनाया जहां से उसे सिटी मजिस्ट्रेट आफिस भेज दिया गया। यहां उसे गोपालगंज पुलिस के हवाले कर दिया गया। युवक का कहना है कि ईई के कर्मचारियों ने मुझे न केवल पीटा बल्कि मेरे 40 हजार रु. और मोबाइल फोन छीन लिया। इसमें मैंने कार्यालय के कर्मचारियों मुझ से बातचीत का वीडियो रिकॉर्ड किया था।

केसली के पलोह गांव में नहर के रिसाव के कारण तीन साल से नहीं की बोवनी नहर का पानी खेत में भरने को लेकर उपजे इस विवाद को लेकर किसान गंधर्वसिंह का कहना है कि हम लोग 10 किसान हैं, जिनके करीब 8 एकड़ खेतों में बीते तीन साल से जलाशय से निकली नहर का पानी पूरे साल भरा रहता है। इस बारे में कलेक्टर से लेकर सीएम हेल्पलाइन, 181 आदि पर तीन साल से शिकायत कर रहे हैं लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही। स्थिति ये है कि हम लोग तीन साल से अपने इन खेतों से फसल नहीं ले पा रहे हैं।

किसान के रिश्तेदार को पुलिस ले गई।

सिंचाई विभाग के ईई

मैं तो शांति से बात रहा था, वह तू-तड़ाक पर उतर आया

Ãमैंने मोहनसिंह से शांतिपूर्वक तरीके से बातचीत की लेकिन वह धीरे-धीरे तू-तड़ाक पर उतर आया। मैंने शांत करने की कोशिश की तो उसने मुझे मार दिया। इस दौरान कर्मचारियों ने आकर बीच-बचाव किया। मैं मानता हूं कि अगर नहर के निर्माण में गड़बड़ी हुई है तो उसे दुरुस्त किया जाना चाहिए। फिलहाल मैंने पुलिस को मोहनसिंह के खिलाफ शिकायती आवेदन दिया है। - पीएन तिवारी, ईई, सिंचाई विभाग, सागर

ग्राउंड रिपोर्ट: घटिया निर्माण पर पर्दा डाल हमारी सुनवाई नहीं कर रहे

किसान गजराजसिंह, कन्हैयालाल, प्रहलादसिंह, अंबिकाप्रसाद, राजा भैया, रामकिशन आदि का कहना है कि सिंचाई विभाग के अमले ने इस नहर का निर्माण घटिया तरीके से कराया। हम लोग दो साल पहले तक यह नहर कच्ची थी, इसलिए रिसाव की समस्या को झेलते रहे। लेकिन एक साल पहले जब नहर पक्की की गई तब भी पानी खेतों में आता रहा। कुछ महीने पहले तो नहर का कच्चा प्लास्टर भी गिर गया और खेतों में स्थाई रूप से पानी भरा रहता है।

टूटी नहर से खेतों में इस तरह भर रहा पानी।

Sagar News - mp news filling the field with water
Sagar News - mp news filling the field with water
Sagar News - mp news filling the field with water
Sagar News - mp news filling the field with water
X
Sagar News - mp news filling the field with water
Sagar News - mp news filling the field with water
Sagar News - mp news filling the field with water
Sagar News - mp news filling the field with water
Sagar News - mp news filling the field with water
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना