• Hindi News
  • National
  • Sagar News Mp News Hostels39 Toilet Choke Students On Hold Dean Opened A Guest House

हॉस्टल के टाॅयलेट चोक, धरने पर विद्यार्थी, डीन ने गेस्ट हाउस खोला

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के गर्ल्स और बॉयज हॉस्टल के टाॅयलेट चोक होने सहित अन्य समस्याओं के विरोध में शनिवार को विद्यार्थी डीन ऑफिस के सामने धरने पर बैठ गए। वे किराया देने के बाद भी सुविधाएं नहीं मिलने का विरोध कर रहे थे।

विद्यार्थियों के धरने की सूचना मिलने के बाद डीन डॉ. जीएस पटेल ने हॉस्टल का निरीक्षण किया। समस्याएं दूर करने के निर्देश पीडब्ल्यूडी विभाग के अफसरों को दिए तो उन्होंने इंकार कर दिया। इसके बाद वैकल्पिक तौर पर विद्यार्थियों के लिए गेस्ट हाउस खोला गया है। जानकारी के अनुसार मेडिकल कॉलेज के गर्ल्स और बॉयज हॉस्टल में वर्तमान में करीब 500 विद्यार्थी रह रहे हैं। हॉस्टल में दोयम दर्जे की सुविधाओं के विरोध में शनिवार काे विद्यार्थियों ने डीन ऑफिस का घेराव किया और धरने पर बैठ गए। इसकी सूचना मिलते ही डीन उनकी समस्याएं सुनने के लिए मौके पर पहुंच गए। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि पीब्ल्यूडी विभाग से कुछ महीने पहले ही टॉयलेट की मरम्मत कराई है। इतनी जल्दी उनकी हालत खराब नहीं हो सकती। इस पर छात्रों ने उनसे खुद निरीक्षण कर हॉस्टल की व्यवस्थाएं देखने की बात कही। छात्रों की मांग पर डीन ने स्टाफ के साथ दोनों हॉस्टलों का निरीक्षण किया। यहां उन्हें स्थिति बेहद खराब मिली। टॉयलेट गंदे, नल टूटे पाए गए। इसके अलावा बिजली व्यवस्था भी चौपट पड़ी पाई गई।

2 करोड़ रुपए की राशि सौंपी थी

गौरतलब है कि प्रबंधन ने पूरे परिसर में साल भर भवन के अंदर होने वाली टूट-फूट को सुधारने की जिम्मेदारी पीडब्ल्यूडी विभाग को सौंपी है। इसके लिए करीब 2 करोड़ 4 लाख रुपए की राशि भी पीडब्ल्यूडी को सौंपी थी। विभाग ने इस राशि से बीएमसी में रिनोवेशन का काम किया है। लेकिन इसकी गुणवत्ता कितनी बेहतर है इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। डीन डॉ. पटेल ने बताया कि जब तक हॉस्टल के टॉयलेट रिपेयर नहीं हो जाते तब के लिए गेस्ट हाउस में मेडिकल छात्रों के नहाने और निस्तार की व्यवस्था की गई है।

खबरें और भी हैं...