पोर्टल की गड़बड़ी से सिरदर्द बनी ऑनलाइन व्यवस्था, जिले में 166 शिक्षकों के तबादले होल्ड

Sagar News - तीन साल से अपडेट नहीं हुआ स्कूल शिक्षा विभाग का पोर्टल शिक्षकों के लिए सिरदर्द बन गया है। इसके कारण ऑनलाइन तबादलों...

Bhaskar News Network

Aug 23, 2019, 09:30 AM IST
Sagar News - mp news online system created headache due to portal disturbances 166 teachers transferred in district
तीन साल से अपडेट नहीं हुआ स्कूल शिक्षा विभाग का पोर्टल शिक्षकों के लिए सिरदर्द बन गया है। इसके कारण ऑनलाइन तबादलों के दौरान ऐसे स्कूलों में भी शिक्षकों का तबादला कर दिया गया है, जो सालों पहले बंद हो चुका है। ऐसे स्कूलों में भी शिक्षकों को भेजा गया है जहां पहले से ही शिक्षक अतिशेष हैं। लिहाजा इनके तबादले होल्ड हो गए हैं। सबसे ज्यादा परेशानी उन शिक्षकों को आ रही है, जो जिले के बाहर से आए या दिव्यांग हैं। इस गड़बड़ी का खुलासा शिक्षकों के ज्वाइनिंग लेने पहुंचने के बाद हुआ है।

दरअसल यहां प्राचार्य शिक्षकों को ज्वाइन नहीं करा रहे हैं। शिक्षकों के पास ज्वाइनिंग के लिए 24 अगस्त तक का वक्त है। यदि वे इस तारीख तक ज्वाइन नहीं करते तो तबादला रद्द हो जाएगा। अब विभाग ने इनके निराकरण की जिम्मेदारी जिला शिक्षा अधिकारियों को सौंपी हैं। गुरुवार को डीईओ ऑफिस में शिक्षकों का मेला लगा रहा। लेकिन काउंसिलिंग नहीं हो सकी। शाम तक विभाग 166 शिक्षकों के रजिस्ट्रेशन ही कर सका। इसके बाद काउंसिलिंग की प्रक्रिया शुक्रवार के लिए टाल दी गई। सुबह 10 बजे से एक्सीलेंस स्कूल में प्राइमरी व डीईओ ऑफिस के हॉल में मिडिल स्कूल के शिक्षकों की काउंसिलिंग होगी। अब हालत यह है कि शिक्षक ज्वाइनिंग के लिए कभी संकुल तो कभी जिला शिक्षा विभाग के चक्कर लगा रहे हैं। विभाग पहुंचे शिक्षकों ने बताया कि वह 10 बजे पहुंच गए थे, लेकिन उनकी यहां सुनने वाला भी कोई नहीं है।

गड़बड़ियों के किस्से ऐसे-ऐसे

Âरहली के पंडलपुर स्कूल में पदस्थ वीरेंद्र सिंह ठाकुर लगभग 10 साल से लापता हैं। लेकिन पोर्टल पर उनका नाम दिख रहा है। कुछ शिक्षकों ने बताया कि पोर्टल में जहां सीटें फुल दिख रही हैं, वहां पद खाली हैं। इसके विपरीत जहां सीटें खाली दिख रही हैं वहां पहले ही शिक्षक अतिशेष हैं।

Âसालों पहले जो स्कूल दूसरे स्कूलों में मर्ज हो चुके हैं, वह पोर्टल पर भी नजर आ रहे हैं। भोपाल स्तर से दो शिक्षकों की पदस्थापना कर दी गई। शिक्षक ज्वाइनिंग लेने पहुंचे तो उन्हें स्कूल ही नहीं मिला। उदाहरण के लिए रहली की पटनाककरी के नजदीक ग्राम मोहर का स्कूल मर्ज हो चुका है। फिर भी यहां दो शिक्षकों की पदस्थापना की गई।

Âपन्ना से खुरई जनपद में ट्रांसफर होकर आई शिक्षिका ने अपने तीनों बच्चों की टीसी निकलवा ली है। उसे जिस स्कूल में पदस्थापना दी गई है वहां पहले ही शिक्षक अतिशेष हैं। अब उसे ज्वाइनिंग नहीं दी जा रही। यदि मसला नहीं सुलझा तो परेशानी हो जाएगी।

Âदेवरी से आए दिव्यांग शिक्षक ने बताया कि उसका तबादला इसी ब्लॉक के एक अन्य स्कूल में किया गया है। जब वह इस स्कूल में ज्वाइनिंग लेने पहुंचा तो प्राचार्य ने बताया कि यहां तो पहले ही शिक्षक अतिशेष हैं। लिहाजा उनका तबादला होल्ड हो गया है।

Âछतरपुर से सदर सागर स्थानांतरित हुई एक महिला शिक्षक जैसे ही यहां ज्वाइनिंग लेने के लिए पहुंची तो उसे भी स्कूल में पहले से अतिशेष शिक्षक मिले। लिहाजा उसका तबादला भी होल्ड हो गया।

2017 से अपडेट नहीं हुआ पोर्टल

शिक्षा विभाग के जानकारों के अनुसार स्कूल शिक्षा विभाग का पोर्टल 2017 से अपडेट नहीं किया गया है। बीते तीन साल में कई स्कूल दूसरे स्कूलों में मर्ज हो गए हैं। साथ ही कई स्कूलों का नक्शा बदल गया है। इसके बाद भी खत्म हुए स्कूल पोर्टल पर दिख रहे हैं। साथ ही स्कूलों में स्टाफ की जानकारी भी पुरानी नजर आ रही है।

Ãपोर्टल की गड़बड़ी के कारण जिले के 166 शिक्षकों के तबादले होल्ड हो गए हैं। बुधवार को रात में विभाग ने इनकी काउंसिलिंग कर निराकरण करने के निर्देश दिए हैं। गुरुवार को शिक्षकों के रजिस्ट्रेशन व दस्तावेजों के वैरीफिकेशन में ही शाम हो गई। अब शुक्रवार को काउंसिलिंग की कार्रवाई की जाएगी। भोपाल से भेजी गई स्कूलों की लिस्ट में से किसी एक में जाने के लिए शिक्षक तैयार हुए तो ठीक नहीं तो असहमति वरिष्ठ अफसरों को भेज दी जाएगी। - डॉ. महेंद्र प्रताप तिवारी, जिला शिक्षा अधिकारी, सागर

Sagar News - mp news online system created headache due to portal disturbances 166 teachers transferred in district
X
Sagar News - mp news online system created headache due to portal disturbances 166 teachers transferred in district
Sagar News - mp news online system created headache due to portal disturbances 166 teachers transferred in district
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना