• Hindi News
  • Mp
  • Sagar
  • Sagar News mp news pwd will make report of the defects in construction dean will tell the government how much work the cleaning company did in two years

निर्माण में हुई खामियों की पीडब्ल्यूडी बनाएगा रिपोर्ट, डीन शासन को बताएंगे कि दो साल में सफाई कंपनी ने कितना काम किया

Sagar News - बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में चिकित्सा शिक्षा मंंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ के दौरे के बाद निर्माण और सफाई को लेकर...

Jan 16, 2020, 09:06 AM IST
बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में चिकित्सा शिक्षा मंंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ के दौरे के बाद निर्माण और सफाई को लेकर जांच शुरू हो चुकी है। बैठक के दौरान बीएमसी के निर्माण में खामियों का मुद्दा उठा था। जिस पर मंत्री ने पीडब्ल्यूडी के अफसरों को फटकार लगाते हुए कहा कि 2018 में जब हाउसिंग बोर्ड से भवन का हैंडओवर लिया गया था, तब रिपोर्ट तैयार क्यों नहीं की गई।

मंत्री के इस सवाल पर अफसर चुप रहे, जिसके बाद मंत्री ने निर्माण में हुईं खामियों को लेकर रिपोर्ट तैयार करने को कहा है। वहीं सफाई व्यवस्था की गड़बड़ियां उजागर होने के बाद डीन डॉ. जीएस पटेल सफाई और मेनपावर का ठेका लेने वाली कंपनी हाइट्स की जांच शुरू कर दी है। जांच में डीन शासन को बताएंगे कि पिछले दो सालों में कंपनी के खिलाफ कितनी शिकायतें सामने आई, कंपनी ने कितना काम किया और वर्तमान में व्यवस्थाओं का क्या आलम है।

बीएमसी में 45 लाख रुपए महीने की सफाई: बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में सफाई, सुरक्षा और मेनपावर का ठेका करीब 6 करोड़ रुपए सालाना का है। यानी 45 लाख रुपए महीने। लेकिन इतनी बड़ी राशि के हिसाब से यहां 10 फीसदी भी सफाई और सुरक्षा नहीं है। नतीजा बीएमसी में आने वाले चाहे मंत्री हों या अफसर। सभी को इस अव्यवस्था से होकर गुजरना पड़ता है और जिम्मेदार हर बार नोटिस देकर कंपनी को बचा लेते हैं। लेकिन इस बार मंत्री साधौ ने डीन को रिपोर्ट बनाने का काम सौंप दिया है। यानी कंपनी का पूरा ब्योरा अब शासन को भेजा जाएगा और इसके बाद शासन ही तय करेगा कि कंपनी बीएमसी में काम करेगी या नहीं।

संभागायुक्त के निर्देशन में अब हर दिन एक अफसर करेगा बीएमसी की सफाई का निरीक्षण : इतना ही नहीं बीएमसी की सफाई व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए संभागायुक्त आनंद शर्मा ने छह अफसरों की एक टीम बनाई है। जिसमें टीम का एक अफसर हर दिन बीएमसी जाकर सफाई का निरीक्षण करेगा और रिपोर्ट संभागायुक्त को देगा। इस टीम ने अपर कमिश्नर से लेकर निगमायुक्त और महिला बाल विकास विभाग की संयुक्त संचालक भी शामिल हैं।

बीएमसी
जांच रिपोर्ट में पीडब्ल्यूडी बताएगा कि बीएमसी के निर्माण में कहां हुई लापरवाही

पीडब्ल्यूडी के अफसर जो रिपोर्ट बना रहे हैं उसमें बीएमसी के निर्माण में कहां-कहां लापरवाही हुई है इसकी विस्तृत रिपोर्ट होगी। इस रिपोर्ट में सीपेज, सीवर लाइन, पानी की लाइन, छात्रावासों की स्थिति, अस्पताल परिसर में भवन संबंधी समस्याएं आदि रहेंगी। इसके अलावा रिनोवेशन के कार्यों की जानकारी भी विभाग देगा। इतना ही नहीं निर्माण में हुई लापरवाही के साथ अफसरों को यह भी बताना है कि निर्माण हुई चूक का जिम्मेदार हाउसिंग बोर्ड है या संबंधित ठेकेदार। यह रिपोर्ट भी तैयार होने के बाद शासन को सौंपी जाएगी।

पशु चिकित्सालय की बाउंड्रीवॉल को 10 फीट अंदर करने का प्रस्ताव ताकि टर्निंग कर्व हो खत्म

सागर| शनि मंदिर कबूला पुल से भापेल तिराहा तक राष्ट्रीय राजमार्ग के तहत चल रहे सड़क निर्माण का काम देखने के लिए बुधवार को विधायक शैलेंद्र जैन ने विभागीय अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया। इस दौरान इसमें आ रही कठिनाइयों के संबंध में जानकारी ली। गौरतलब है कि मोतीनगर चौराहा पर टर्निंग पाइंट पर अंधा मोड़ होने के कारण विजन साइट जीरो है। इसके लिए विधायक जैन ने सुझाव दिया है कि यदि पशु चिकित्सालय बिल्डिंग की बाउंड्रीवॉल को लगभग 10 फीट अंदर कर दिया जाए तो कर्व खत्म हो जाएगा और टर्निंग आसानी से मिल जाएगी। उन्होंने इसका प्रस्ताव बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। उधर, उन्होंने कसाई मंडी के सामने किष्किंधा नगर और बाइसा मोहल्ला के सामने मुख्य सड़क को बेहतर करने के लिए कहा है। यहां इतवारी टोरी क्षेत्र का पूरा पानी नीचे की ओर आता है, लेकिन पर्याप्त निकास न होने के कारण क्षेत्र में जलभराव की स्थिति बन जाती है। अधिकारियों से इसकी लेवलिंग कर नाली निर्माण कराए जाने के लिए कहा है। उधर राहतगढ़ बस स्टैंड स्थिति ओवर ब्रिज के इंदिरा नेत्र चिकित्सालय के पास टर्निंग में आ रही खामियों को लेकर सुझाव दिया है कि बाउंड्रीवॉल पीछे करने से यह समस्या का निदान हो सकता है। उन्होंने खुरई रोड, सागर-बीना रोड, कृषि उपज मंडी तक फोरलेन सड़क डिवाइडर आदि का भी निरीक्षण किया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना