पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Sagar News Mp News The Guard Of The Free Service Was Charging Money 108 Staff Caught

मुफ्त सेवा का गार्ड वसूल रहा था पैसे, 108 स्टाफ ने पकड़ा

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल में एक प्रसूता महिला के परिजनों से जननी एक्सप्रेस से घर छोड़ने के एवज में सुरक्षा गार्ड द्वारा अवैध वसूली का प्रयास किए जाने का मामला सामने आया है। 108 एंबुलेंस के स्टाफ ने गार्ड को मौके पर ही पकड़ लिया। हालांकि कुछ देर हंगामा करने के बाद उसे छोड़ दिया गया। एंबुलेंस की संचालन एजेंसी जिगित्सा हेल्थ केयर के क्लस्टर लीडर तबरेज खान ने घटना की ऑनलाइन शिकायत भोपाल में 104 नंबर पर की है।

खान ने बताया कि दमाेह जिले की हटा तहसील निवासी नोशीन प|ी नजीर खान को 15 मई को प्रसव पीड़ा होने के कारण जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। ऑपरेशन के बाद नोशीन ने स्वस्थ शिशु को जन्म दिया। करीब 6 दिन के इलाज के बाद अस्पताल प्रबंधन ने बुधवार को दोपहर 12 बजे नोशीन की छुट्‌टी कर दी। इस बीच नोशीन के परिजन वाहन सुविधा का इंतजाम करने के लिए अस्पताल में घूम रहे थे। यहां उन्हें सुरक्षा गार्ड किशोर प्रजापति मिला। किशोर ने परिजनों से 1000 रुपए में हटा तक के लिए वाहन उपलब्ध कराने का झांसा दिया। दोनों पक्षों में बातचीत के बाद 800 रुपए में सौदा तय हुआ। इसके बाद किशोर ने अपने मोबाइल फोन से 108 एंबुलेंस के कॉल सेंटर पर कॉल किया और हटा तक जाने के लिए जननी एक्सप्रेस सुविधा देने की मांग की। कॉल सेंटर ने बंडा की जननी एक्सप्रेस भेजने की बात कही। इस दौरान मौके पर नौशीन के परिचित और 108 एंबुलेंस कर्मचारी शनीचरी निवासी अमजद खान किसी मरीज को लेकर अस्पताल पहुंचे।

परिजनों ने उन्हें खैर-खबर सुनाने के बाद 800 रुपए में वापसी के लिए वाहन करने की बात बताई। यहां से ही गार्ड की पोल खुल गई। अमजद ने क्लस्टर लीडर सहित अस्पताल आए अन्य 108 एंबुलेंस स्टाफ को बुलाकर गार्ड को अवैध वसूली करने से पहले ही पकड़ लिया। हंगामा होने के बाद मौके पर सिविल सर्जन डॉ. वीएस ताेमर तथा अन्य पहुंच गए। कुछ देर बाद गार्ड को छोड़ दिया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप धैर्य व विवेक का उपयोग करके किसी भी समस्या को सुलझाने में सक्षम रहेंगे। आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। परिवार के लोगों की छोटी-मोटी जरूरतों का ध्यान रखना आपको खुशी प्र...

और पढ़ें