• Hindi News
  • Mp
  • Sagar
  • Sagar News mp news the mind is happy to have feelings of neglect towards the infirm dr dubey

निकृष्ट लोगों के प्रति उपेक्षा की भावना रखने से मन प्रसन्न रहता है : डाॅ. दुबे

Sagar News - आज के समाज में तीन प्रकार के लोग होते हैं। पहले वे जो केवल अपना या अपनों का हित चाहते हैं। दूसरे जो सब का हित चाहते...

Feb 11, 2020, 09:01 AM IST
Sagar News - mp news the mind is happy to have feelings of neglect towards the infirm dr dubey

आज के समाज में तीन प्रकार के लोग होते हैं। पहले वे जो केवल अपना या अपनों का हित चाहते हैं। दूसरे जो सब का हित चाहते हैं और तीसरे जो दूसरों का अहित चाहकर ही प्रसन्न होते हैं।

चौथे उपाय में अपुण्यशाली या निकृष्ट लोगों के प्रति उपेक्षा की भावना रखने से चित्त की प्रसन्नता बनी रहती है। यह बात मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान नई दिल्ली से आए विद्वान डॉ. अर्पित दुबे ने कही। वे डाॅ. हरीसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय के योग विभाग में योग एवं मानसिक स्वास्थ्य विषय पर आयोजित व्याख्यान को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि समाज में अच्छाई में भी बुराई देखने वाले बहुत लोग होते हैं। उन्होंने योग साधक के लिए सात्विक आहार का महत्व बताते हुए कहा कि आधुनिक जीवन शैली में फास्ट फूड बेहद घातक हैं। इससे मानव शरीर का ह्रास होता है। इससे व्यक्ति में रोग, अल्पायु, ओज एवं बल की कमी हो जाती है। इस तनाव भरी जिंदगी में यौगिक एवं सात्विक आहार का बहुत महत्व है, क्योंकि जैसा होगा अन्न वैसा होगा मन। समाज में तनाव का मूल कारण चित्त की चंचलता है। चित्त को प्रसन्न, शांत एवं नियंत्रण करने के लिए योग में चार प्रमुख उपाय बताए गए हैं। सर्वप्रथम सुखी एवं साधन सम्पन्न व्यक्तियों के प्रति मित्रता की भावना रखना जरूरी है, परन्तु इसके विपरीत आजकल समाज में द्वेष की भावना अधिक दिखाई देती है। दूसरे कमजोर या कम सम्पन्न व्यक्तियों के प्रति करूणा की भावना रखनी चाहिए। इससे मन शांत होता है।

योग विभागाध्यक्ष प्रो. गणेश शंकर गिरि ने बताया कि आधुनिक जीवन शैली, उच्च तकनीकी एवं प्रतियोगी समय में प्रत्येक व्यक्ति तनावपूर्ण जीवन जी रहा है। इससे उसका मानसिक स्वास्थ्य निरंतर गिरता जा रहा है। योग मानसिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य को प्राप्त करने में अहम भूमिका अदा करता है। मन और शरीर का घनिष्ठ संबंध होने के कारण योग को चिकित्सक एवं मनोचिकित्सक भी अपनी चिकित्सा पद्धति में शामिल कर रहे हैं। आभार एवं कार्यक्रम का संचालन विभाग के सहायक प्राध्यापक डाॅ. अजय दुबे ने किया।

Sagar News - mp news the mind is happy to have feelings of neglect towards the infirm dr dubey
X
Sagar News - mp news the mind is happy to have feelings of neglect towards the infirm dr dubey
Sagar News - mp news the mind is happy to have feelings of neglect towards the infirm dr dubey

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना