अनदेखी के गड्‌ढे मनमानी का कीचड़

Sagar News - माेतीनगर से पथरिया जाट हाेते हुए भाेपाल राेड काे बम्हाेरी के पास फाेरलेन से जाेड़ने वाली शहर की बायपास राेड का 1.2...

Jul 09, 2019, 09:00 AM IST
माेतीनगर से पथरिया जाट हाेते हुए भाेपाल राेड काे बम्हाेरी के पास फाेरलेन से जाेड़ने वाली शहर की बायपास राेड का 1.2 किमी का हिस्सा नहीं बन पा रहा है। पिछली सरकार में करीब 38 कराेड़ लागत से 12 किमी लंबी इस राेड काे स्वीकृत कराने वाले काे शहर विधायक शैलेंद्र जैन साेमवार काे शेष राेड के लिए अपने समर्थकाें के साथ छाता लेकर सड़क पर उतर अाए। करीब सवा घंटे तक राेड जाम रहा। इस दाैरान दाेनाें तरफ वाहनाें की कतार लग गई। उनकी दाे प्रमुख मांगें थीं। पहली यह कि राेड का टेंडर लगने तक इसे 2-5 लाख रुपए खर्च कर अावागमन लायक बनाया जाए अाैर यहां से हैवी ट्रैफिक काे तत्काल डायवर्ट किया जाए। इन दाेनाें मांगाें पर अधिकारियाें ने 1 हफ्ते का समय मांगा। इसके बाद जाम समाप्त हाे गया है।

इसलिए अटकी राेड
शीतला माता मंदिर दिवालानाका से माेतीनगर तक राजघाट की मेन लाइन राेड के बीचाें-बीच डली हुई है। इसे शिफ्ट कराने के लिए निगम ने एमपीअारडीसी काे 1.8 कराेड़ का प्रस्ताव बनाकर भेजा था, जिस पर विभाग ने हाथ खड़े कर लिए अाैर राेड काे अधूरा ही छाेड़ दिया। इस राेड पर सीवर का काम भी हाेना है। बरसात में हालात यह हैं कि दीवालानाका से बीएस जैन बंगला हाेते हुए माेतीनगर तक राेड बड़े गढ्डाें अाैर कीचड़ में तब्दील हाे गई है। इसी राेड से हैवी ट्रैफिक के कारण अासपास के लाेगाें का जीवन दुश्वार हाे गया है। अाए दिन हादसे हाे रहे हैं।

सागर से कांग्रेस की हार का बदला ले रही सरकार, 6 बार पीएस से मिला पर राशि मंजूर नहीं की: विधायक जैन

विधायक ने किया शीतलामाता मंदिर राेड पर चक्काजाम ।

इस दाैरान विधायक जैन ने कांग्रेस सरकार पर अाराेप लगाया कि सागर विधानसभा से कांग्रेस काे मिली हार का बदला यहां की जनता से लिया जा रहा है। मैं, व्यक्तिगत ताैर पर इस राेड के लिए 6 बार पीडब्ल्यूडी के पीएस से मिला, लेकिन उन्हाेंने हर बार टालमटाेल कर राेड के लिए राशि मंजूर नहीं की। उन्हाेंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार अाने के बाद इस राेड का काम अटक गया। यह राेड शहर के अंदर ट्रैफिक का दबाव कम करने में कारगर साबित हाेगी। राेड का 1 छाेटा से टुकड़ा बचा हुअा। चक्काजाम के दाैरान स्कूल बसाें व एंबुलेंस काे छाेड़ तमाम वाहनाें दाेनाें तरफ से पुलिस ने पहले ही रुकवा दिए थे। इसी दाैरान एक स्कूल बस यहां एक गड्ढे में फंस गई। महापाैर अभय दरे चक्काजाम समाप्त हाेने के बाद पहुंचे। इस दाैरान भाजपा नेता श्याम तिवारी, पुरव्याऊ वार्ड पार्षद सीताराम पचकाेंड़ी, पार्षद धर्मेंद्र खटीक, जुगल प्रजापति, यश अग्रवाल, पिंटू बाेहरे, जगन्नाथ गुरैया, विक्रम साेनी, पराग बजाज, रामेश्वर नेमा, प्रभुदयाल साहू, डाॅ. प्रदीप पाठक, गाेपी पंथी, अंशुल गुप्ता अादि माैजूद थे।

सागर में सड़क पर संघर्ष

मकरोनिया
टाटा कंपनी औैर नपा के अफसराें को कलेक्टर ने दिए व्यवस्था बनाने के निर्देश

सागर| टाटा कंपनी द्वारा बिछाई जा रही वाटर सप्लाई लाइन के कारण मकरोनिया की गलियाें में फैले कीचड़ अाैर नगर पालिका द्वारा नाला सफाई न कराए जाने से जलभराव से त्रस्त जनता जब खुद सड़क पर उतर अाई, तब अफसर-नेताअाें काे उनकी याद अाई। रविवार काे नरयावली विधायक प्रदीप लारिया के धरना प्रदर्शन अाैर अफसराें के रवैए पर उठाए गए सवालाें के बाद साेमवार काे कलेक्टर प्रीति मैथिल ने जिम्मेदाराें की बैठक बुलाई। इस दाैरान उन्हाेंने नगरीय प्रशासन अायुक्त पी. नरहरि से फाेन पर बात की। उन्हें मकराेनिया के हालात बताए। जिस पर नरहरि ने भाेपाल से अफसराें काे सागर भेजने के निर्देश दिए। मंगलवार काे टीम जायजा लेने अाएगी।

कलेक्टर मैथिल ने बैठक में कहा कि मकरोनिया में डाली जा रही 38 किमी लंबी पाइप लाइन के कारण कालोनियों में रहवासियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सड़कें क्षतिग्रस्त हाे गई हैं। कालाेनियाें में बरसाती पानी जमा हाे रहा है। उन्हाेंने सीएमअाे अारसी अहिरवार काे फटकार लगाई, लेकिन टाटा कंपनी, एमपीयूडीसी के अफसराें की अभी तक काेई जिम्मेदारी तय नहीं की गई। बैठक में न ताे टाटा कंपनी अाैर न ही एमपीयूडीसी वरिष्ठ अधिकारी पहुंचे। निचले अमले काे भेजकर बैठक की अाैपचारिकता करा ली। कलेक्टर के निर्देश पर एसडीएम संतोष चंदेल ने बारिश के दाैरान मौके का मुआयना कर सागर-नरसिंहपुर रोड़ पर बन रहे पुल, शांति बिहार कॉलोनी, अंकुर कालोनी, दीनदयाल नगर, मकरोनिया रेल्वे स्टेशन आदि संबंधित अधिकारियों के साथ अावश्यक करने के निर्देश दिए। उन्होंने टाटा कंपनी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि अब जो भी पाइप लाईन बिछाई जाए उसके पहले पूर्व के गढ्डों को तत्काल हार्ड मुरम से भरकर समतलीकरण कर किया जाए, ताकि बारिश में पानी से कीचड़ न हो।

इधर पार्षद के भाई ने नाले पर बना लिया अावास, जलभराव काे लेकर लाेगाें ने जताया विराेध

मकराेनिया में लाेगाें ने लगाया जाम।

मकराेनिया नगर पालिका के संत रविदास वार्ड में कांग्रेस पार्षद राजू डिस्क के भाई ने नाले से लगी जमीन पर प्रधानमंत्री अावास बना लिया है। पूर्व में तहसीलदार व सीएमअाे इसका काम रुकवा चुके हैं। अब बरसात में पानी निकासी न हाेने पर जलभराव की स्थिति बन रही है। हालात यह है कि वार्ड पार्षद और उसके भाई द्वारा किए गए अतिक्रमण की वजह से पूरा वार्ड परेशान हाे रहा है। हर घर में पानी भर रहा है, जबकि यह मकान मकरोनिया नगर पालिका भवन के पीछे ही बनाया गया है। मंगलवार काे विराेध में वार्ड के लाेग सड़क पर उतर अाए अाैर जाम लगा दिया। माैके पर अधिकारी पहुंचे अाैर पानी निकासी की व्यवस्था कराई।

सड़कों का एक सप्ताह में काम पूरा करने का दिया आश्वासन

सागर. रविवार को मकरोनिया चौराहे पर किए गए धरना आंदोलन के बाद सोमवार को विधायक प्रदीप लारिया ने फोन पर निर्माण एजेंसी टाटा कंपनियों के प्रतिनिधियों से चर्चा की। प्रतिनिधियों द्वारा आश्वासन दिया गया है कि पाइप लाइन बिछाने और सड़क मरम्मत का काम 1 सप्ताह में पूरा कर लिया जाएगा। जहां कीचड़ है। वहां जीरो गिट्टी डाली जाएगी। ताकि मार्ग प्रभावित न हो।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना