• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • Sagar - जिन अपराधों में आरोपी दोषमुक्त हुए उनकी समीक्षा करें : एडीजी मंगलम
--Advertisement--

जिन अपराधों में आरोपी दोषमुक्त हुए उनकी समीक्षा करें : एडीजी मंगलम

सागर। एडीजी अन्वेष मंगलम ने मंगलवार को यहां पुलिस कंट्रोल रूम में महिला अपराधों की संभागीय समीक्षा बैठक ली।...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 05:01 AM IST
सागर। एडीजी अन्वेष मंगलम ने मंगलवार को यहां पुलिस कंट्रोल रूम में महिला अपराधों की संभागीय समीक्षा बैठक ली। पांचों जिले के एसपी व अफसरों से उन्होंने कहा कि जिन अपराधों में आरोपी कोर्ट से दोषमुक्त हो रहे हैं उनकी समीक्षा कर यह पता लगाएं कि पुलिस की विवेचना और पैरवी में कहां, क्या कमी रह गई। ऐसे केसों पर पुलिस का फोकस होना चाहिए। लंबे समय तक सागर आईजी रहे एडीजी मंगलम ने पुलिस अफसरों से कहा कि ऐसे थाने चिन्हित करें, जहां अपराध ज्यादा हो रहे हैं। उस हिसाब से अपराधों की राेकथाम की प्लानिंग होनी चाहिए। महिला अपराधों की रोकथाम को लेकर उनका विशेष जोर रहा। दुष्कर्म, छेड़खानी जैसे अपराधों में आरोपियों को सख्त से सख्त सजा दिलाने के लिए मामलों की सटीक विवेचना के निर्देश दिए।

सागर जिले में 26 परसेंट घटे महिला अपराध : सागर एसपी सत्येंद्र शुक्ल ने एडीजी को सागर जिले की स्थिति से अवगत कराया। उन्होंने महिला अपराधों के आंकड़े पेश करते हुए बताया कि कुल अपराधों में 26 परसेंट की कमी आई है। धारा 354 के अपराधों में 27 और 376 के अपराधों में 18 परसेंट की कमी आई। इसी तरह छतरपुर, दमोह, टीकमगढ़ व पन्ना एसपी ने अपराधों के आंकड़े पेश किए। एडीजी मंगलम व शशिकांत शुक्ल ने महिलाओं पर होने वाले अपराधों की रोकथाम के लिए हर संभव कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। बैठक में आईजी सतीष कुमार सक्सेना, डीआईजी सागर राकेश जैन, डीआईजी छतरपुर अनिल माहेश्वरी, एसपी छतरपुर विनीत खन्ना, एसपी टीकमगढ कुमार प्रतीक, एसपी पन्ना विवेक सिंह, एसपी दमोह विवेक अग्रवाल मौजूद थे।

डीजी होमगार्ड सागर पहुंचे, आज करेंगे निरीक्षण   : सागर। होमगार्ड के पुलिस महानिदेशक महान भारत मंगलवार देर शाम सागर पहुंचे। वे बुधवार सुबह होमगार्ड ऑफिस का निरीक्षण कर सैनिकों से मिलेंगे। सुबह 10.30 बजे पत्रकारों से चर्चा करेंगे।