--Advertisement--

घर छोड़ने में डरे नहीं, जीवन के अनुभव मिलते हैं

Sanavad News - अाप लोग पढ़ाई के साथ जीवन के बारे में हंसते खेलते सीखे। किसी भी सफलता को प्राप्त करने के लिए अन्य मोह को छोड़ना पड़ता...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 04:05 AM IST
घर छोड़ने में डरे नहीं, जीवन के अनुभव मिलते हैं
अाप लोग पढ़ाई के साथ जीवन के बारे में हंसते खेलते सीखे। किसी भी सफलता को प्राप्त करने के लिए अन्य मोह को छोड़ना पड़ता है। इसके लिए घर से दूर जाने या छोड़ने में डरे नहीं। क्योंकि यह पल आपको जीवन के अनुभव देते हैं। कुछ भी बनने के लिए पहले लक्ष्य निर्धारित करें। शिक्षक व कोचिंग पर केवल आपको दिशा दी जा सकती है। मेहनत तो आपको ही करना पड़ेगी। एक बार सफलता मिल गई तो आप जो कहेंगे वह सभी लोग सुनेंगे। जैसे की मैं कह रहा हूं और आप लोग सुन रहे हो।

बुधवार को श्री रेवा गुर्जर कॉलेज में दो दिनी वार्षिकोत्सव के समापन पर मुख्य अतिथि एसपी डी कल्याण चक्रवती ने यह बात कही। बुधवार को कार्यक्रम में विभिन्न कार्यक्रमों के विजेताओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। इसमें पूर्व सांसद जगदीश मोराण्या, गोपाल चौरे, सपना सोरलन, नयन सक्सेना, प्राचार्य डॉ. एसबी मिश्रा, अनुराग गीते, भूपेंद्र भार्गव, धीरज नेगी सहित अन्य उपस्थित थे। मंगलवार को सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ अन्य गतिविधियां हुई।

श्री रेवा गुर्जर कॉलेज में दो दिनी वार्षिकोत्सव के समापन पर एसपी डी कल्याण चक्रवती ने कहा-

कार्यक्रम में शामिल विद्यार्थी और अतिथि।

एकल गीतों की प्रस्तुति दी, पुरस्कार मिले

सनावद |
शहर के शासकीय काॅलेज में बुधवार को दो दिनी वार्षिकोत्सव समाप्त हुआ। इसमें मंगलवार को सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति विद्यार्थियों ने दी। साथ ही नाटक के माध्यम से संदेश दिया। बुधवार को कार्यक्रम के समापन पर एकल व सामूहिक गीत प्रतियोगिता हुई। इसमें विद्यार्थियों ने देशभक्ति व फिल्मी गीतों की प्रस्तुति दी। इनके लिए चार सदस्यों का दल निर्णायक के रूप में बैठा हुआ था। कार्यक्रम के अंत में विभिन्न प्रतियोगिता में विजेता रहे विद्यार्थियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में कॉलेज स्टाफ व विद्यार्थी उपस्थित थे।

X
घर छोड़ने में डरे नहीं, जीवन के अनुभव मिलते हैं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..