--Advertisement--

खंभे तिरछे, झूल रहे बिजली के तार

Sanavad News - शहर की तंग गलियों सहित मुख्य चौराहों पर कई बिजली के खंभे आड़े तिरछे हो गए है लेकिन इस ओर विविकं का अब तक कोई ध्यान...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 06:15 AM IST
खंभे तिरछे, झूल रहे बिजली के तार
शहर की तंग गलियों सहित मुख्य चौराहों पर कई बिजली के खंभे आड़े तिरछे हो गए है लेकिन इस ओर विविकं का अब तक कोई ध्यान नहीं गया है। खंभे के तिरछे होने के कारण बिजली के तार झूल रहे हैं। ऐसे में किसी दिन बड़ा हादसा हो सकता है। साथ ही कई स्थानों पर जर्जर व खराब खंभे लगे हुए जो बारिश के दौरान तेज हवा आने से गिर सकते हैं। इसके बाद भी विविकं द्वारा इन खंभे को बदलने या सीधे करने को लेकर कोई रणनीति नहीं बनाई गई है।

शहर में विविकं द्वारा बिजली कनेक्शन देने के लिए जो खंभे लगाए गए है। वे लंबे समय से लगे हुए है। ऐसे में खंभे समय के साथ कमजोर होते जा रहे हैं। कई स्थानों पर खंभे क्षतिग्रस्त होने पर रहवासियों ने शिकायत की थी जिस पर उन्हें दुरुस्त कर दिया गया है लेकिन इसके बाद भी शहर में आधे से अधिक खंभे ट्रक या अन्य कारण से तिरछे हो गए है। जो अन्य लोगों के लिए समस्या बने हुए है। खंभों के तिरछे होने के कारण तार झूल रहे हैं। साथ ही बड़े वाहनों के गुजरने के कारण उसमें अटकने का डर बना रहता है। रहवासियों ने बताया सकरी गलियों में निकलने के लिए पहले ही रास्ता कमजोर है। इसके बाद खंभों के तिरछे होने से मार्ग ओर छोटा हो जाता है। जानकारी के अनुसार एलटी का एक पाेल 10 हजार रुपए में आता है। जीएसटी, सर्विस टैक्स, लेबर, ट्रांसपोर्टेशन, सुपर विजन व अन्य खर्च मिलाकर करीब 40 हजार रुपए सहित नए तार लगाने के लिए अलग खर्च लगाता है।

इस्लामपुरा भील गली में तिरछे खंभे के पास पड़ा नया पोल अब तक नहीं लगा।

योजना के तहत होगा सुधार


मेंटेनेंस के नाम पर की खानापूर्ति

रहवासियों ने बताया खंभे तिरछे होने के कारण हमेशा डर बना रहता है। आगामी दिनों में बारिश होने वाली है। ऐसे में तेज हवा आने से खंभे या तार टूटने का हमेशा डर बना रहता है। विविकं द्वारा कुछ दिनों पूर्व मेंटेनेंस का काम किया गया था। जिसमें खानापूर्ति कर कई पेड़ों की शाखा को काटा गया लेकिन तिरछे पोल को दुरुस्त नहीं किया गया। लोगों ने विविकं से तिरछे खंभों को सीधे कर सुविधा देने की मांग की है।

खंभे लगाए, फिर निकाल लिए

शहर के खरगोन रोड स्थित एक कॉलोनी में पिछले दिनों विविकं ने स्ट्रीट लाइट व लाइन ले जाने के लिए करीब 7 खंभे लगाए थे। जिन्हें एक माह बाद वापस निकाल लिया गया। ऐसे में पोल को लगाने व निकालने के लिए जो राशि खर्च की गई वह लोगों के लिए चर्चा का विषय बना हुआ है। इस संबंध में जब कर्मचारियों से पूछा गया तो उन्होंने कहा योजना के तहत सुविधा देने के लिए नए खंभे लगा दिए गए थे जबकि योजना में जर्जर व क्षतिग्रस्त को बदलना था। इसके लिए उन्हें वापस निकाल लिया गया। जबकि शहर में कई खंभे क्षतिग्रस्त है।

दो साल से तिरछा है खंभा, नया भी लाकर रखा लेकिन अब तक नहीं लगा

रहवासी आमीर अली ने बताया शहर के वार्ड क्रमांक 4 स्थित इस्लामपुरा भील गली में करीब दो साल पहले एक वाहन ने बिजली के खंभे को टक्कर मार दी थी। इससे खंभा तिरछा हो गया है। इसकी रहवासियों ने शिकायत की। इस पर विविकं ने एक खंभा गली में लाकर रख दिया लेकिन आज तक वह नहीं लगा है। ऐसे में तार झुल रहे हैं। इसी गली में एक अन्य खंभा भी तिरछा है।

X
खंभे तिरछे, झूल रहे बिजली के तार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..