--Advertisement--

पीएम आवास बनाए, नहीं की तराई निर्माण तोड़कर फिर से बनाना होगा

प्रधानमंत्री आवास योजना में मोरडोंगरी क्षेत्र में बन रहे किफायती मकानों के काम में 9 बड़ी गड़बड़ियां सामने आईं हैं।...

Dainik Bhaskar

Feb 11, 2018, 05:05 AM IST
पीएम आवास बनाए, नहीं की तराई निर्माण तोड़कर फिर से बनाना होगा
प्रधानमंत्री आवास योजना में मोरडोंगरी क्षेत्र में बन रहे किफायती मकानों के काम में 9 बड़ी गड़बड़ियां सामने आईं हैं। नगरीय प्रशासन विभाग के चीफ इंजीनियर एचएन गुप्ता ने 3 फरवरी को यहां का सर्वे किया था। इसके बाद उन्होंने कमियां निकालकर इसका नोटिस नपा सीएमओ, नगरीय निकाय इंजीनियर, इजिस के इंजीनियर और साइट इंचार्ज को भेजे हैं। इसमें सामने आई गड़बड़ियों को 7 दिनों में सुधारने के निर्देश जारी किए हैं। खराब मटेरियल लगे और तराई नहीं हुए वाले हिस्सों को कंपनी को तोड़ना होगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना में कुल मिलाकर 876 मकान बनाए जा रहे हैं। इसकी लागत करीब 53.47 करोड़ रुपए है। काम में शुरुआत से गड़बड़ियां सामने आ रहीं थीं। इसे लेकर 3 फरवरी को नगरीय निकाय विभाग मध्यप्रदेश के चीफ इंजीनियर सारनी पहुंचे थे। जांच के बाद उन्होंने गड़बड़ियां निकालीं। नगर पालिका सारनी द्वारा 876 ईडब्ल्यूएच भवनों का निर्माण वार्ड 1 खसरा नं. 73/1 की 4.00 हेक्टेयर जमीन में किया जा रहा है। कार्य की तकनीकी एवं प्रशासकीय मंजूरी हो चुकी है। स्वीकृत कुल 876 में से 456 भवनों के 38 ब्लॉकों का काम प्रगति पर है। इसमें 48 भवन का प्रथम तल और 192 भवनों का ग्राउंड फ्लोर लेवल तक का आरसीसी काम पूरा कर लिया है। वहीं 72 भवनों की फ्लोटिंग की कांक्रीटिंग एवं 96 भवनों की खुदाई का कार्य हो गया है। शेष 420 भवनों का काम जल्द शुरू होगा। इसमें मटेरियल की खराबी, निर्माण की देखरेख की कमी और अन्य कमियां पाई गईं थी। सीई ने सीएमओ नपा, निकाय इंजीनियर, इजिस इंजीनियर और साइट इंचार्ज को पत्र जारी कर 7 दिनों में काम ठीक करने और जरूरी सुधार के निर्देश दिए।

बेचिंग प्लांट से ही बनाएं मिक्चर

जारी पत्र में स्पष्ट लिखा है स्थल पर बंसल एवं संगम कंपनी का स्टील रेनफोर्समेंट एकत्रित पाया गया। स्थल पर एकत्रित बंधे हुए कॉलम का स्टील बंसल कंपनी का है, उसमें रस्टिंग पाई गई। कालम बंधे रखे गए हैं। स्थल पर मिनी बेचिंग प्लांट स्थापित है, लेकिन यहां कॉलम आदि सीमेंट कांक्रीट का काम मिक्चर मशीन से किया जा रहा था। इंजीनियर ने इसे गलत पाया। वाल्युमेट्रिक सिस्टम से बॉक्स के माध्यम से कार्य कराने के निर्देश दिए।

सारनी। मोरडोंगरी रोड पर प्रधानमंत्री आवास योजना के भवनों का निर्माण किया जा रहा है।

तराई नहीं, तोड़कर बनाएं संरचना,

स्टेयर केस की सीमेंट कांक्रीट की गुणवत्ता मानक के अनुसार नहीं पाई गई। कांक्रीट की क्यूरिंग यानी तराई भी निर्धारित समय अवधि तक होना नहीं पाया गया। इजिस के रेसिडेंस इंजीनियर की उपस्थिति में स्टेयर केस को तोड़कर फिर से स्टेयर केस की कास्टिंग की जानी चाहिए। कुछ भवनों की प्लिंथ बीम, रूफ बीम, स्लैब और कॉलम की कांक्रीट में हनी कॉम्बिंग पाई गई। ठेकेदार को पिन वाइब्रेटर का उपयोग अनिवार्य रूप से करने को कहा है।

ये भी दिए निर्देश








इजिस और नपा के इंजीनियर मिलकर कर रहे सुधार


X
पीएम आवास बनाए, नहीं की तराई निर्माण तोड़कर फिर से बनाना होगा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..