--Advertisement--

जर्जर आवासों ने लिया नया रूप, संवरी नूरी मस्जिद कॉलोनी

वेस्टर्न कोल फील्ड्स लिमिटेड की आवासीय कॉलोनी के जर्जर क्वार्टर इसमें रहने वाले लोग हमेशा बारिश में पानी टपकने...

Dainik Bhaskar

Mar 13, 2018, 05:15 AM IST
वेस्टर्न कोल फील्ड्स लिमिटेड की आवासीय कॉलोनी के जर्जर क्वार्टर इसमें रहने वाले लोग हमेशा बारिश में पानी टपकने और ड्रेनेज के चोक होने परेशान रहते थे। मगर, कंपनी की एक योजना ने कॉलोनियों की तस्वीर बदल गई। करीब 11 करोड़ की लागत से कॉलोनियों में काम हो रहा है। नूरी मस्जिद कॉलोनी इसमें आदर्श बन गई है। यहां करीब सारे काम हो गए हैं। सोमवार को कोल इंडिया की विभिन्न कंपनियों के डायरेक्टर पर्सनल ने सर्वे किया। काम पर सभी अधिकारियों ने संतोष जाहिर किया।

वेस्टर्न कोल फील्ड्स की कॉलोनियों में सुधार कार्य चल रहा है। कॉलोनियों में आवासों का प्लास्टर, ड्रेनेज और अन्य सुधार कार्य किया जा रहा है। डब्ल्यूसीएल के डायरेक्टर पर्सनल डाॅ. संजय कुमार ने इसमें विशेष रुचि लेकर कार्य की सतत निगरानी की। इस कार्य के तहत शोभापुर कॉलोनी की नूरी मस्जिद कॉलोनी को आदर्श बनाया। सोमवार को एनसीएल की डायरेक्टर पर्सनल स्नेहलता साहू, ईसीएल के डायरेक्टर पर्सनल एके पात्रो और डब्ल्यूसीएल के डायरेक्टर पर्सनल डॉ. संजय कुमार ने हर आवास का सर्वे किया। छोटी-छोटी खामियों के अलावा यहां पूरे काम पर संतोष जताया। सीजीएम उदय ए. कावले ने कहा छोटे-छोटे कार्यों को जल्द सुधार दिया जाएगा। इसमें बिजली फिटिंग, छत की टारफेंल्टिंग और ड्रेनेज के कुछ काम शामिल हैं।

उनके साथ जीएम सिविल एएन सहाय, एचओडी डब्ल्यूई एल सीएसआर एके सिंह, आलाके सिंह, बीएमएस के डब्ल्यूसीएल वेलफेयर मैंबर सुधीर घुरड़े, एटक के डब्ल्यूसीएल वेलफेयर बोर्ड मैंबर रामकेरा यादव, डिप्टी मैनेजर विवेक सिंह, अलिया व्यास, संजय कोटा, जीएम ऑपरेशन मो. साबिर, एसओ सिविल एएन राव, एपीएम राजेश वी. नायर, अशोक मालवीय, रणधीर सिंह, बिजेंद्र सिंह, डीके भादे, विजय मिश्रा, लक्ष्मण झरबड़े, श्रीकांत चौधरी, गंगाराम तिवारी, हबीब अंसारी समेत अन्य लोग मौजूद थे।

जीर्णोद्वार

तीन कंपनियों से आए डायरेक्टर पर्सनल ने किया आवासों का सर्वे, सिविल जीएम और एरिया के अधिकारियों को दिए निर्देश

सारनी। शोभापुर की नूरी मस्जिद कॉलोनी में आवास और ड्रेनेज का सर्वे करते अधिकारी।

कॉलोनी के हर घर के सामने रंगोली, फूल देकर किया स्वागत

आवासों का काम देखने आई टीम के स्वागत के लिए पूरी कॉलोनी तैयार थी। हर घर के सामने रंगोली थी। महिलाएं आरती की थाली सजाए खड़ी थीं। फूल देकर टीम का स्वागत किया। टीम में शामिल स्नेहलता साहू ने कहा बच्चों ने स्वच्छ भारत पर रंगोली डालकर बेहतर संदेश दिया है। तीनों डायरेक्टर पर्सनल ने लोगों के बीच और घरों के भीतर घुसकर सीधे संवाद किया।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..