• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sarni
  • रात 1 बजे रजाई गद्दों की दुकान में लगी आग चौकी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने बुझाई
--Advertisement--

रात 1 बजे रजाई-गद्दों की दुकान में लगी आग चौकी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने बुझाई

Dainik Bhaskar

Mar 13, 2018, 05:15 AM IST

Sarni News - शहर के शॉपिंग सेंटर में रविवार रात एक रजाई-गद्दों की दुकान में शार्ट सर्किट से आग लग गई। आग में रजाई, गद्दे समेत...

रात 1 बजे रजाई-गद्दों की दुकान में लगी आग चौकी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने बुझाई
शहर के शॉपिंग सेंटर में रविवार रात एक रजाई-गद्दों की दुकान में शार्ट सर्किट से आग लग गई। आग में रजाई, गद्दे समेत अन्य सामान जलकर खाक हो गया। यदि समय रहते आग पर काबू नहीं पाया जाता तो पूरा मार्केट इसकी जद में आ जाता। आग पर काबू पाने में पुलिस की अहम भूमिका रही। शॉपिंग सेंटर पर लगे गश्त पाइंट के कर्मचारियों ने सबसे पहले आग उठती देखी और बगैर परवाह किए आग बुझाने कूद गए। बाद में पावर जनरेटिंग कंपनी की दमकल भी आ गई।

शॉपिंग सेंटर की ओल्ड ई कॉलोनी से सटकर रुई का काम करने वाले सलीम पिता मुनीर मंसूरी की दुकान है। रविवार रात 1 बजे दुकान में अचानक शार्ट सर्किट से आग लग गई। देखते ही देखते तेज लपटें निकलने लगी। शॉपिंग सेंटर पुलिस चौकी में तैनात कैलाश हर्णे और विनोद साहू ने इसे जलता देखा। तत्काल थाने में सूचना देने के बाद उन्होंने आग बुझाने के प्रयास किए। बचे रजाई गद्दों को हटाया। इस बीच दूसरे पाइंट पर तैनात संतोष मालवीय और भूपेंद्र पटेल भी यहां आ गए। इस बीच कॉलोनी और मार्केट के लोग भी इकट्ठा हो गए। लोगों ने मिलकर आग पर काबू पाने का प्रयास किया। पावर जनरेटिंग कंपनी की फायर ब्रिगेड भी आ गई और आग पर काबू पाने के लिए पानी शुरू किया। लोगों ने मिलकर सारा सामान बाहर निकाला। घटना में 3 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ है। आधे घंटे में आग पर काबू पाया गया।

सारनी। शॉपिंग सेंटर में सलीम मंसूरी की दुकान में लगी आग।

दर्जन भर दुकानें सटी, आग फैलती तो बड़ा हादसा होता

ओल्ड ई कॉलोनी वाले मार्केट में काटन हाउस वाली दुकान से एक दर्जन दुकानें एकदम सटी हुईं थीं। जबकि पीछे ओल्ड ई कॉलोनी के आवास सटे हुए हैं। यदि आग बढ़ती तो बड़ा नुकसान होता। ज्यादातर दुकानों के पीछे घर भी हैं। ऐसे में जन और धन दोनों की हानि होती। मगर, आम लोगों, पुलिस और पावर जनरेटिंग कंपनी की फायर फाइटिंग टीम ने मिलकर तत्काल आग पर काबू पा लिया। पावर जनरेटिंग कंपनी के उप अग्निशमन अधिकारी एसके तालमपुरिया की इसमें अहम भूमिका रही।

बड़ा हादसा टला, मददगार को पुरस्कृत


पुलिस के जवान बने रियल हीरो, व्यापारी संघ ने दिया पुरस्कार

रात को गश्त ड्यूटी पर तैनात पुलिस के चार जवानों ने रियल हीरो जैसी भूमिका अदा की। ड्यूटी पर तैनात आरक्षक भूपेंद्र ने बताया रात करीब 12.50 बजे शॉपिंग सेंटर पाइंट पर तैनात कैलाश हर्णे और विनोद साहू ने मोबाइल पर आग लगने की सूचना दी। उन्होंने संतोष मालवीय, कैलाश और विनोद के साथ मिलकर यहां आग पर काबू पाया। चारों पुलिसकर्मी आंशिक रूप से आग में झु़लस गए। इसके अलावा उनके जूते पूरी तरह से जल गए। यहां पहुुुंचे सतपुड़ा व्यापारी संघ के अध्यक्ष विनय मालवीय ने चारों पुलिसकर्मियों को उत्कृष्ट कार्य के लिए 500-500 रुपए देने की घोषणा की।

सलीम की इसी दुकान में 3 साल पहले भी लगी थी आग

सलीम मंसूरी की इसी दुकान में तीन साल पहले भी मार्च-अप्रैल के महीने में इसी तरह घटना हो चुकी थी। इसमें भी ढाई लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ था। शार्ट सर्किट से ही घटना हुई थी। इसके बाद मीटर और वायरिंग चेंज कराई थी। पीड़ित सलीम ने बताया रविवार रात को माल ज्यादा होने के कारण इसे जमाकर रखा तो गया, लेकिन यह मीटर तक पहुंच गया था। आशंका जताई जा रही है यहीं से आग लगी।

X
रात 1 बजे रजाई-गद्दों की दुकान में लगी आग चौकी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने बुझाई
Astrology

Recommended

Click to listen..