Hindi News »Madhya Pradesh »Sarni» नपा ने किराए के टैंकर किए बंद, पानी के लिए मचा हाहाकार, उपाध्यक्ष ने ली आपत्ति, दोबारा शुरू किए

नपा ने किराए के टैंकर किए बंद, पानी के लिए मचा हाहाकार, उपाध्यक्ष ने ली आपत्ति, दोबारा शुरू किए

सारनी। शहर के शोभापुर क्षेत्र में नल आते ही लगी लोगों की लंबी कतार। पानी सप्लाई के पहले होगी टेस्टिंग, नपा के ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 04, 2018, 05:25 AM IST

सारनी। शहर के शोभापुर क्षेत्र में नल आते ही लगी लोगों की लंबी कतार।

पानी सप्लाई के पहले होगी टेस्टिंग, नपा के

इंजीनियर्स करेंगे जांच

वार्डों में टैंकरों से पानी सप्लाई करने से पहले इसकी टेस्टिंग होगी। मंगलवार को सीएमओ ने एई एके दुबे, रविंद्र वराठे की मीटिंग ली। उन्हें सख्त हिदायत दी कि पानी की बाकायदा टेस्टिंग होनी चाहिए। इसके लिए किट मंगाकर रख लें इसी से जांच कर टैंकरों की सप्लाई हो। कहीं भी दूषित पानी सप्लाई नहीं होना चाहिए। इसके अलावा सप्लायर को पानी का स्रोत भी बताना होगा। एग्रीमेंट में सारी शर्तें रखने के निर्देश दिए।

इधर, कांग्रेसियों ने कहा अनधिकृत व्यक्ति की मौजूदगी में हुई पीआईसी, दबाव में हुए प्रस्ताव

सारनी| ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने पीआईसी की बैठक में अनधिकृत व्यक्ति के बैठे होने और दबाव में प्रस्ताव पारित कराने का आरोप लगाया। मंगलवार को कमेटी का एक दल सीएमओ से मिला और पीआईसी के सारे प्रस्ताव निरस्त करने की मांग की। सीएमओ ने जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के कार्यवाहक अध्यक्ष बटेश्वर भारती ने बताया नपा में अनधिकृत व्यक्ति (नपाध्यक्ष के पति महेंद्र भारती) भी बैठे हुए थे। इससे प्रस्ताव दबाव में आकर लिए गए। 28 मार्च को हुई इस बैठक में बैठने वाले अनधिकृत व्यक्ति के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने अध्यक्ष के चहेते लोगों को टेंडर दिए जाने का आरोप भी लगाए। बैठक में शामिल अधिकारियों और अन्य लोगों पर भी कार्रवाई की मांग की। उन्होंने कहा जितनी दरों पर स्टोन डस्ट के टेंडर हुए हैं उतनी दरों पर यहां तक ला पाना संभव नहीं है। इसकी जांच होनी चाहिए। इस मौके पर बलराम भैया, मिथलेश सिंह, शेख महमूद, संजीव सोनी, राजेश सिन्हा, शकील खान, अख्तर हुसैन, रहमत मंसूरी, मो. ताहिर, शमशेर आलम, रविंद्र पांसे के अलावा अन्य लोग उपस्थित थे। सीएमओ पवन राय ने जल्द ही कार्रवाई का आश्वासन दिया। नेताओं ने कहा 7 दिनों में कार्रवाई नहीं हुई तो वे प्रदर्शन करेंगे।

मैं बैठक के बाद भीतर गया था

पूर्व परिषद में मैं नेता प्रतिपक्ष रह चुका हूं। सालों से पार्षद हूं। पीआईसी की मर्यादा का ज्ञान है। बैठक खत्म होने के बाद ही मैं भीतर गया था। इसके बाद केवल कार्यों की गुणवत्ता और पेयजल संकट पर चर्चा हुई। बैठक में प्रस्ताव पीआईसी सदस्य, अध्यक्ष और अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में हुए। आरोप कुछ भी लगाए जा सकते हैं। महेंद्र भारती, नपाध्यक्ष के पति

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sarni

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×