सारणी

--Advertisement--

हिंसक हुए बंदर, 2 बिजलीकर्मियों को काटा, चल रहा इलाज

मठारदेव बाबा की पहाड़ी से उतरकर कॉलोनी में आने वाले बंदरों ने अब परेशानी खड़ी कर रखी है। बंदर हिंसक हो गए हैं। घर में...

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2018, 06:40 AM IST
मठारदेव बाबा की पहाड़ी से उतरकर कॉलोनी में आने वाले बंदरों ने अब परेशानी खड़ी कर रखी है। बंदर हिंसक हो गए हैं। घर में पूजा करते समय कर्मचारियों को घेरकर बंदरों के गुट ने हमला किया। इससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गया। दोनों का अस्पताल में उपचार चल रहा है। बंदरों के हिंसक होने और लोगों पर हमला करने की यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी कई लोग हमले में घायल हो चुके हैं। शहरी क्षेत्र में बंदरों का आतंक लगातार बढ़ते जा रहा है। पिछले सप्ताह बंदरों के हमले में एक महिला घायल हो गई थी। शहर की सुपर ई कॉलोनी, मठारदेव कॉलोनी, वेलफेयर कॉलोनी, सुपर एफ, ओल्ड ई और सुपर डी कॉलोनी के लोग बंदरों से सबसे ज्यादा प्रताड़ित है। मंगलवार को सुपर ई 727 में रहने वाले सुरेश यादव पूजन कर रहे थे। शिवरात्रि होने के कारण सुबह जल्दी उठकर वे घर में पूजन करने के बाद आंगन में तुलसी मंदिर के पास सूर्य को जल अर्पण कर रहे थे इस दौरान बंदरों के एक गुट ने उन्हें घेर कर उनके कंधे पर काट लिया। इसी तरह उनके पड़ोस में रहने वाले रमेश ठाकरे को भी बंदरों ने काट लिया।

घायल सुरेश यादव।

X
Click to listen..