• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sarni
  • जंगल में पैदल घूम रहा था मासूम से छेड़छाड़ का आरोपी, गिरफ्तार
--Advertisement--

जंगल में पैदल घूम रहा था मासूम से छेड़छाड़ का आरोपी, गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

Mar 27, 2018, 08:10 AM IST

Sarni News - शहर की पांच साल की बच्ची के साथ छेड़छाड़ करने वाले फरार आरोपी को सारनी पुलिस ने आमला के बोरदेही के पास बोरी गांव से...

जंगल में पैदल घूम रहा था मासूम से छेड़छाड़ का आरोपी, गिरफ्तार
शहर की पांच साल की बच्ची के साथ छेड़छाड़ करने वाले फरार आरोपी को सारनी पुलिस ने आमला के बोरदेही के पास बोरी गांव से गिरफ्तार किया है। आरोपी पिछले 12 दिनों से पुलिस को चकमा देकर जंगल के रास्ते पैदल फरारी काट रहा था। सूचना के आधार पर पुलिस ने 5 हजार रुपए के इनामी आरोपी की गिरफ्तारी की। हालांकि पुलिस अभिरक्षा में आरोपी ने किसी तरह की छेड़छाड़ करने से इनकार किया है।

शहर की सुपर एफ कॉलोनी के पास रहने वाली एक 5 साल की मासूम बालिका के साथ 15 मार्च को राम पिता किशोर धुर्वे (25) ने छेड़छाड़ की थी। उसे हाथ पकड़कर पास के खंडहर आवास में ले जाने का प्रयास किया था। इस मामले की रिपोर्ट इसी दिन रात काे परिजनों ने थाना सारनी में दर्ज कराई। रिपोर्ट होने के तत्काल बाद से आरोपी राम धुर्वे फरार हो गया था। पुलिस ने इसकी तलाशी के लिए चार अलग-अलग टीमों का गठन किया। एसडीओपी पंकज दीक्षित ने बताया टीआई महेंद्रसिंह चौहान, महिला एएसआई प्रीति पाटिल, फतेहबहादुर सिंह की टीम बनाई थी। इसके अलावा जमीनी स्तर पर स्टाफ अलग से तलाशी में जुटा था। सोमवार को सूचना के आधार पर संतोष मालवीय, हीरालाल तिनकर और चालक सुरेंद्र कनौजिया की टीम बोरी गांव पहुंची। यहां एक वेल्डिंग दुकान से आरोपी राम को गिरफ्तार किया।

सारनी। पुलिस गिरफ्त में छेड़छाड़ का आरोपी राम धुर्वे।

मैंने खरगोश को हाथ लगाने से रोका, कोई

छेड़छाड़ नहीं की

उस रात मैं अपने दामाद के घर गया था। उक्त बालिका शाम को उनके घर के सामने आई और खरगोश को हाथ लगाने लगी। मैंने उसे खरगोश को हाथ लगाने से मना कर दिया। इसके बाद उसने घर जाकर क्या बताया, उसके परिजन मुझे ढूंढने लगे तो मैं जामुनझिरिया के जंगल के रास्ते जय स्तंभ चौक पहुंचा। रात 8.30 बजे की बस पकड़कर दमुआ चले गया। इसके बाद घोड़ावाड़ी पैदल गया। मुझे तो पता भी नहीं ऐसे किसी आरोप में मेरे ऊपर केस दर्ज हो गया है। जब पता चला तो घोड़ावाड़ी में पुलिस पकड़ने आई थी। यहां से सतत पैदल भाग रहा हूं। वहां से घोड़ावाड़ी होते हुए बोरदेही पहुंचा। पैदल काम ढूंढा और बोरी गांव के पास वेल्डिंग की दुकान में मजदूरी करनी शुरू कर दी। अब पुलिस गिरफ्तार कर ले आई। मेरे पास तो केस लड़ने के भी रुपए नहीं है।

(जैसा पुलिस अभिरक्षा में आरोपी राम धुर्वे ने भास्कर को बताया)

नहीं मिल पा रही थी आरोपी की लोकेशन


X
जंगल में पैदल घूम रहा था मासूम से छेड़छाड़ का आरोपी, गिरफ्तार
Astrology

Recommended

Click to listen..