--Advertisement--

माइंस के कामगारों के लिए नहीं यूरीनल, महिलाएं होती हैं परेशान

सारनी| छतरपुर गांव में संचालित माइंस में यूरीनल नहीं है। स्वच्छ भारत मिशन का यहां पालन नहीं किया जा रहा है। इसे...

Dainik Bhaskar

Feb 24, 2018, 09:00 AM IST
सारनी| छतरपुर गांव में संचालित माइंस में यूरीनल नहीं है। स्वच्छ भारत मिशन का यहां पालन नहीं किया जा रहा है। इसे लेकर ग्रामीणों ने अापत्ति दर्ज की है। ग्रामीणों ने कहा इतनी बड़ी कंपनी होने के बाद भी डब्ल्यूसीएल ने यहां शौचालय और यूरीनल नहीं बनाया है। ग्रामीण प्रतिदिन रोजगार के लिए प्रात: माइंस से होते हुए जाते हैं। माइंस के आस-पास बॉउंड्री में वहां के कर्मचारी शौच करते हैं। बॉउंड्री से सटा हुआ ही रोड है इससे ग्रामीणों को परेशानी होती है। गांव के महेश वरकड़े ने बताया डब्ल्यूसीएल इतनी बड़ी कंपनी होने के बावजूद मजदूरों के लिए शौचालय का निर्माण नहीं करवा पाई। जबकि करोड़ों रुपए स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छता अभियान में खर्च करते हैं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..