Hindi News »Madhya Pradesh »Sarni» सलैया के जंगल में फैली आग खेतों तक आई, रास्ते में फंसी नपा की फायर ब्रिगेड

सलैया के जंगल में फैली आग खेतों तक आई, रास्ते में फंसी नपा की फायर ब्रिगेड

सलैया गांव से सटे जंगल में रविवार को आग लग गई। छोटे झाड़ के जंगल से सटे गांव के खेतों तक आग फैलने लगी। ग्रामीणों ने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 26, 2018, 05:10 PM IST

सलैया गांव से सटे जंगल में रविवार को आग लग गई। छोटे झाड़ के जंगल से सटे गांव के खेतों तक आग फैलने लगी। ग्रामीणों ने फायर ब्रिगेड को बुलवाया। लेकिन फायर ब्रिगेड से भी आग पर काबू पाना मुश्किल था। जंगल के रास्ते में एक फायर ब्रिगेड फंस गई। इससे परेशानी और बढ़ गई। बिजली गुल होने के कारण किसान कुएं से पानी भी नहीं ले पा रहे थे। ग्रामीणों के आक्रोशित होने के बाद बिजली कंपनी ने लाइन शुरू की। तब खेतों को बचाया जा सका। एक किसान के खेत में नुकसान के अलावा सभी सुरक्षित हैं। यदि समय रहते ग्रामीण बचाव नहीं करते तो बड़ा हादसा हो जाता।

सलैया से सटे जंगल में रविवार दोपहर करीब 1 बजे अचानक आग लगने की जानकारी मिली। तेज हवा के कारण आग खेतों की तरफ फैलने लगी। ग्रामीणों ने तत्काल डायल-100 और फायर ब्रिगेड को इसकी जानकारी दी। इसके बाद फायर ब्रिगेड पहुंची तो, लेकिन आग भीषण रूप ले चुकी थी। यहां रहने वाले ग्रामीणों ने आग रोकने के तमाम उपाय किए, लेकिन अाग ने किसान एकराज यादव, अंकित यादव, मनोज यादव और लख्मीचंद बरकुर के खेत तक पहुंच गई। किसानों ने बमुश्किल इसे बुझाया। मगर, आग पूरी तरह नहीं बुझ पाई। तीन बार दमकल का पानी खत्म हुआ, लेकिन आग पर काबू नहीं पाया जा सका। ग्रामीण शाम 5 बजे तक आग बुझाने में ही जुटे रहे। एक तरफ आग बुझती तो दूसरी तरफ भभक जाती। बार-बार दमकल खाली हुई। जंगल के सूखे पत्तों के कारण आग भीषण रूप से फैली। किसानों को 70 से 80 हजार रुपए का नुकसान हुआ है। ग्रामीण मिलकर आग नहीं बुझाते तो यह गांव तक पहुंच जाती। इसके बाद बड़ा नुकसान होता।

सारनी। सलैया गांव के पास जंगल में भीषण आग लग गई। ये खेतों तक पहुंच गई।

जंगल क्षेत्र में आग फैल रही थी, सूचना के बाद तत्काल दोनों फायर ब्रिगेड भिजवा दी थी। ऊबड़, खाबड़ जगह के कारण एक दमकल चल नहीं पाई। मगर, सतत पानी सप्लाई किया। आग भीषण थी, बड़ा हादसा हो सकता था। ग्रामीणों ने भी समन्वय से काम किया। वर्ना आग गांव के भीतर पहुंच जाती। केके भावसार, सीएमओ नपा सारनी

दोबारा भभकी आग, पेट्रोल पंप तक पहुंची

एक हिस्से में आग बुझने के बाद ग्रामीण शांति से बैठे ही थे, तभी दूसरे हिस्से में आग भभकने लगी। देखते ही देखते सूखे पत्तों के कारण खेतों से होती हुई आग सूखाढाना पेट्रोल पंप तक पहुंच गई। इससे डरे ग्रामीणों ने दोबारा फायर ब्रिगेड बुलवाई और बुझाई। लेकिन जंगल के ज्यादातर हिस्से में आग सुलगते रही। काफी स्थानों के पेड़ खाक हो गए।

जंगल में फंसी बड़ी दमकल छोटी से नहीं हो पाई काबू

जंगल की आग बुझाने के लिए नगर पालिका की बड़ी दमकल को भेजा। लेकिन ऊबड़, खाबड़ रास्ते में फायर ब्रिगेड फंस गई। इससे निकालने में आधा घंटा लग गया। जहां फायर ब्रिगेड फंसी थी, वहीं से पानी का प्रेशर देकर आग बुझाई। इसके बाद छोटी फायर ब्रिगेड से आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन यह नाकाफी थी। इससे आग और फैली। हालांकि बाद में कुएं के पानी से कुछ आग पर काबू पाया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sarni

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×