सारणी

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Sarni News
  • अनुकंपा आश्रितों के साथ अन्याय कर रही सरकार नियम बदलकर बेदखल करने की तैयारी शुरू
--Advertisement--

अनुकंपा आश्रितों के साथ अन्याय कर रही सरकार नियम बदलकर बेदखल करने की तैयारी शुरू

बिजली कंपनियों में बिना शर्त अनुकंपा नियुक्ति की लड़ाई 14 साल से लड़ रहे आश्रित अब परेशान हो गए हैं। अब आर-पार की लड़ाई...

Dainik Bhaskar

May 09, 2018, 03:55 AM IST
अनुकंपा आश्रितों के साथ अन्याय कर रही सरकार नियम बदलकर बेदखल करने की तैयारी शुरू
बिजली कंपनियों में बिना शर्त अनुकंपा नियुक्ति की लड़ाई 14 साल से लड़ रहे आश्रित अब परेशान हो गए हैं। अब आर-पार की लड़ाई की शुरुआत हो गई है। अनुकंपा आश्रितों ने सरकार में बैठे जिले के जनप्रतिनिधि व समाजसेवियों को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। उन्होंने जल्द ही बिना शर्त अनुकंपा नियुक्ति लागू करने की मांग की।

अनुकंपा आश्रित निराकार सागर, नीलेश त्रिपाठी ने बताया मप्र राज्य विद्युत मंडल 9 अप्रैल 2012 तक के सभी लंबित प्रकरणों में अनुकंपा नियुक्ति पाने के लिए बैतूल जिले के पूर्व सांसद, बैतूल विधायक एवं प्रदेश भाजपा कोषाध्यक्ष हेमंत खंडेलवाल, जिला अध्यक्ष जितेंद्र कपूर, क्षेत्रीय विधायक चैतराम मानेकर, समाजसेवी प्रदेश सह संयोजक भाजपा मीडिया प्रभारी प्रवीण गुगनानी से मुलाकात कर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।

जल्द से जल्द उनकी मांग पूरी करने का आग्रह किया। पिछले 14 वर्षों से 1995 से बिना शर्त अनुकंपा नियुक्ति पाने के लिए कई बार प्रत्यक्ष रुप से मुख्यमंत्री को मंत्रालय में पहुंचकर ज्ञापन सौंपा जा चुका है। मगर, आज तक कोई ठोस निर्णय नहीं लिया। इसी के चलते अनुकंपा आश्रितों ने जिले के जनप्रतिनिधियों से मुलाकात कर अनुकंपा आश्रितों ने मांग पूरी करने का आग्रह करते हुए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। आश्रितों ने बताया 15 नवंबर 2000 के पूर्व के प्रकरणों को आज तक नियुक्ति प्रदान नहीं की है। जबकि 15 नवंबर 2000 से लेकर 10 अप्रैल 2012 तक के दुर्घटना प्रकरणों पर ही नियुक्ति प्रदान की जा रही है। सामान्य प्रकरणों को नियुक्ति का लाभ नहीं दिया जा रहा है।

10 अप्रैल 2012 के बाद से सभी प्रकरणों पर बिना शर्त नियुक्ति दी जा रही है। ऊर्जा विभाग द्वारा दोषपूर्ण नीति बनाकर आर्थिक एवं मानसिक हनन किया जा रहा है। इस मौके पर रमेश हारोड़े, अजय भंडारी, फिरोज खान, जयंत काकडे, गेंदराव मानकर, प्रमोद लिखितकर, रामशंकर कहार समेत अन्य उपस्थित थे।

विरोध

आश्रितों ने जिले के जनप्रतिनिधियों और समाजसेवियों को सौंपा सीएम के नाम ज्ञापन

सारनी। बैतूल विधायक हेमंत खंडेलवाल को ज्ञापन सौंपते अनुकंपा आश्रित।

X
अनुकंपा आश्रितों के साथ अन्याय कर रही सरकार नियम बदलकर बेदखल करने की तैयारी शुरू
Click to listen..