--Advertisement--

शारीरिक विकास के लिए खेल बेहद जरूरी: चौकीकर

जिस तरह शिक्षा के क्षेत्र में शिक्षक की भूमिका होती है उसी तरह मैदान में स्पोर्ट्स टीचर की भी भूमिका होती है। यह...

Dainik Bhaskar

May 10, 2018, 04:05 AM IST
शारीरिक विकास के लिए खेल बेहद जरूरी: चौकीकर
जिस तरह शिक्षा के क्षेत्र में शिक्षक की भूमिका होती है उसी तरह मैदान में स्पोर्ट्स टीचर की भी भूमिका होती है। यह बात हाईस्कूल मैदान पर खेल प्रशिक्षण शिविर को संबोधित करते हुए त्रिर| बौद्ध विहार समिति अध्यक्ष नारायण चौकीकर ने कही। उन्होंने कहा बच्चों के शारीरिक विकास के लिए आधुनिक युग में खेल बेहद जरूरी है।

ग्रीष्मकालीन खेल शिविर में मंगलवार शाम को समय बौद्धविहार समिति ने बच्चों को मिठाई बांटी। सचिव विठ्ठल राव ढोके ने कहा मिठाई बांटने का मतलब यह है बच्चे शुभ कार्य की शुरुआत मुंह मीठा कर करें। उन्होंने खिलाड़ियों को संबोधित किया। प्रचार सचिव संदीप चौकीकर ने कहा मोबाइल और कंप्यूटर के युग में बच्चों को मैदान तक लाना बेहद मुश्किल काम है। मगर, हाईस्कूल मैदान में शिविर संचालन करने वालों ने यह काम किया है। वे निश्चित तौर पर बधाई के पात्र हैं। समाज में इस तरह का निशुल्क कार्य सराहनीय है। अन्य लोगों को आगे आकर मदद करनी चाहिए। इस अवसर खिलाड़ी सुनील पाटिल, राहुल कापसे, भूतपूर्व सैनिक धीरज सोनी उपस्थित थे। शिविर संचालन कर रहे रंजीत डोंगरे ने बताया बच्चों को यहां हर चीज निशुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। शिविर कोच श्याम डोंगरे, आशीष डोंगरे, राकेश डोंगरे ने कहा बच्चों में प्रतिभा की कमी नहीं है। इन बच्चों में से सारनी की प्रतिभाओं का खोज किया जाएगा।

आयोजन

हाईस्कूल मैदान पर चल रहा ग्रीष्मकालीन खेल शिविर, बौद्धविहार समिति ने बच्चों को बांटी मिठाई

सारनी। बौद्धविहार समिति अध्यक्ष चौकीकर शिविर में बच्चों को मिठाई बांटते हुए।

X
शारीरिक विकास के लिए खेल बेहद जरूरी: चौकीकर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..