सारणी

--Advertisement--

निकाय कर्मचारियों की मांगों को लेकर 20 को काम बंद हड़ताल

नगरीय निकाय में कार्यरत कर्मचारियों की मांगों को लेकर 20 अप्रैल को काम बंद हड़ताल का आह्वान किया है। इसमें नगर...

Dainik Bhaskar

Apr 18, 2018, 04:35 AM IST
नगरीय निकाय में कार्यरत कर्मचारियों की मांगों को लेकर 20 अप्रैल को काम बंद हड़ताल का आह्वान किया है। इसमें नगर पालिका, नगर पंचायत, भारतीय मजदूर संघ ने भी अपना समर्थन दिया है। मांगें पूरी नहीं होती हैं तो कर्मचारी उग्र आंदोलन करेंगे। सोमवार को नगर पालिका कर्मचारी संघ और बीएमएस नपा यूनियन ने मिलकर प्रदर्शन किया और सीएमओ को मांगों का ज्ञापन सौंपा।

मप्र नगर निगम, नगर पालिका कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष जीएस पांडे और बीएमएस कर्मचारी यूनियन के जिलाध्यक्ष केके भावसार ने बताया नगरीय निकाय कर्मचारियों की लंबित मांगों की ओर किसी का ध्यान नहीं है। मुख्यमंत्री और नगरीय प्रशासन मंत्री समेत अन्य मंचों पर मांगें रखी जिनका निराकरण नहीं हुआ। जिनका आश्वासन मिला उन पर भी अमल नहीं किया। उन्होंने निकायों के अधिकारी, कर्मचारियों को 7वां वेतनमान का लाभ देने, 9 वर्ष बाद भी समयमान वेतनमान का लाभ नहीं दिया, इसके आदेश करने की मांग रखी। इसके अलावा नगर पालिकाओं में सितंबर 2016 तक के सभी दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को स्थाई करने, स्थापना व्यय 70 फीसदी करने, सेवा भर्ती के नियमों में कंप्यूटर ऑपरेटर के पद समाहित करने की मांग की। इस मौके पर संरक्षक रंजीत सिंह, विनायक बागड़े, दिलीप भालेराव, उल्लास जोशी, महेश शर्मा समेत अन्य लोग उपस्थित थे। 20 अप्रैल की हड़ताल के अलावा 28 को मप्र संचालनालय का घेराव और 1 मई से बेमुद्दत काम बंद हड़ताल की जाएगी।

X
Click to listen..