• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sarni
  • वरिष्ठता सूची के आधार पर मांगी नियुक्ति चीफ इंजीनियर कार्यालय में किया प्रदर्शन
--Advertisement--

वरिष्ठता सूची के आधार पर मांगी नियुक्ति चीफ इंजीनियर कार्यालय में किया प्रदर्शन

Dainik Bhaskar

Apr 20, 2018, 04:40 AM IST

Sarni News - बिजली कंपनियों में बिना शर्त अनुकंपा नियुक्ति की लड़ाई लड़ रहे संगठन ने गुरुवार को सारनी में प्रदर्शन किया।...

वरिष्ठता सूची के आधार पर मांगी नियुक्ति चीफ इंजीनियर कार्यालय में किया प्रदर्शन
बिजली कंपनियों में बिना शर्त अनुकंपा नियुक्ति की लड़ाई लड़ रहे संगठन ने गुरुवार को सारनी में प्रदर्शन किया। उन्होंने मुख्यमंत्री के नाम चीफ इंजीनियर को ज्ञापन सौंपा। आश्रितों ने वर्ष 1997 के बाद से अनुकंपा नियुक्ति देने की मांग की है। उन्होंने बताया कि रिटायरमेंट की आयु बढ़ा दी गई है लेकिन आश्रितों को सरकार ने अनुकंपा नियुक्ति नहीं दी है।

अनुकंपा नियुक्ति संघर्ष समिति के के आश्रितों ने धूप में गेट नंबर 7 से रैली निकाली। चीफ इंजीनियर कार्यालय तक प्रदर्शन किया। उन्होंने बताया आश्रित 14 साल से अनुकंपा नियुक्ति के लिए भटक रहे हैं। सरकार का इस ओर ध्यान नहीं है। संगठन के निराकार सागर और राकेश विश्वकर्मा ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार आने के पहले चुनावी एजेंडा तय किया था। इसमें वर्ष 1997 तक अनुकंपा नियुक्ति देने का प्रस्ताव रखा था। अन्य विभागों में तीन माह में बिना शर्त अनुकंपा नियुक्ति प्रदान कर दी गई, लेकिन मप्र राज्य विद्युत मंडल की अधीनस्त कंपनियों मेंं इसे लागू नहीं किया गया। ऊर्जा कंपनियों में 10 अप्रैल 2012 के बाद के आश्रितों को नियुक्ति दी गई। जबकि कर्मचारियों की मृत्यु की तारीख के आधार पर वरिष्ठता सूची के आधार पर नियुक्ति दी जानी चाहिए। सरकार की गलत नीतियों के कारण दिवंगत बिजली कर्मी के परिवार को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपने वालों में मनोहर खंडाग्रे, विशाल फोफसे, गेंदराव मानकर, जयंत काकड़े, प्रमोद लिखितकर, रामशंकर कहार, गजेंद्र जावरे, भावेश लाकुड़कर, पूनम उपराले, दिलीप देशमुख, अजय भंडारी, रमेश हारोड़े और समिति के सदस्य शामिल थे।

अनुकंपा नियुक्ति आश्रित चीफ इंजीनियर कार्यालय में ज्ञापन सौंपाते हुए।

X
वरिष्ठता सूची के आधार पर मांगी नियुक्ति चीफ इंजीनियर कार्यालय में किया प्रदर्शन
Astrology

Recommended

Click to listen..