--Advertisement--

सफाई के लिए सोशल मीडिया का सहारा, एप से भी नहीं हुआ समाधान

स्वच्छता अभियान की लगातार कार्रवाई के बाद भी शहर के वार्डों में गंदगी साफ नहीं हो पा रही है। परेशानी इतनी बढ़ गई है...

Dainik Bhaskar

Apr 26, 2018, 05:10 AM IST
सफाई के लिए सोशल मीडिया का सहारा, एप से भी नहीं हुआ समाधान
स्वच्छता अभियान की लगातार कार्रवाई के बाद भी शहर के वार्डों में गंदगी साफ नहीं हो पा रही है। परेशानी इतनी बढ़ गई है कि लगातार शिकायतों के बाद भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। समस्याओं के समाधान के लिए लोगों ने अब सोशल मीडिया का सहारा लेना शुरू कर दिया है। वार्ड 28 के युवाओं ने गंदगी की फोटो नगर पालिका अध्यक्ष के पति को फेसबुक पर टैग कर दी। इसके बाद भी क्षेत्र में सफाई नहीं हो पाई है।

नगर पालिका क्षेत्र को सफाई के लिए सारनी, पाथाखेड़ा और शोभापुर तीन अलग जोन में बांटा गया है। हर जोन में अगल-अलग सुपरवाइजर रखे गए हैं। मॉनीटरिंग के अभाव में पाथाखेड़ा और शोभापुर कॉलोनी में नियमित सफाई नहीं की जा रही है। भाजपा नेताओं ने लापरवाही को देखते हुए यहां के सुपरवाइजरों को बदलने का प्रस्ताव सीएमओ को दिया था। पाथाखेड़ा के वार्ड 28 में भी सफाई व्यवस्था दुरुस्त नहीं है। नगर पालिका की सफाई व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। इस वार्ड के नाले और नालियों की सफाई नहीं होने के कारण यहां के लोग परेशान हैं। वार्ड के युवाओं ने फेसबुक पर गुस्सा उतारा। जिस पर लोगों ने पार्षद और नपा अधिकारियों की कार्यप्रणाली पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। संतोष, श्रीपत और परसराम समेत अन्य लोगों ने बताया कि सोशल मीडिया पर लोगों की प्रतिक्रिया के बाद भी नपा सक्रिय नहीं हुई और न ही सफाई व्यवस्था दुरुस्त हो सकी है। स्वच्छता एप पर भी शिकायत में कार्रवाई नहीं हुई।

वार्ड 28 के युवाओं ने इस तरह सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर गुस्सा उतारा।

X
सफाई के लिए सोशल मीडिया का सहारा, एप से भी नहीं हुआ समाधान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..