• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Sarni News
  • भाजपा पार्षदों का आरोप: चहेतों को उपकृत करने के लिए निकाले 1 लाख से कम के कार्यों के ऑफलाइन टेंडर
--Advertisement--

भाजपा पार्षदों का आरोप: चहेतों को उपकृत करने के लिए निकाले 1 लाख से कम के कार्यों के ऑफलाइन टेंडर

नगर पालिका में उपेक्षा से परेशान भाजपा के 22 पार्षदों ने मंगलवार देर शाम बैतूल पहुंचकर कलेक्टर शशांक मिश्र से...

Dainik Bhaskar

Apr 26, 2018, 05:10 AM IST
भाजपा पार्षदों का आरोप: चहेतों को उपकृत करने के लिए निकाले 1 लाख से कम के कार्यों के ऑफलाइन टेंडर
नगर पालिका में उपेक्षा से परेशान भाजपा के 22 पार्षदों ने मंगलवार देर शाम बैतूल पहुंचकर कलेक्टर शशांक मिश्र से मुलाकात की और नपाध्यक्ष पर चहेते ठेकेदारों को उपकृत करने के लिए 1 लाख से कम के काम के टेंडर ऑफलाइन निकालकर लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया। पार्षदों ने 7 बिंदुओं के आवेदन में बताया नपाध्यक्ष के पति शासकीय कार्य में बाधा डालते हैं। पीआईसी की बैठक में बैठकर मनचाहे काम करवाते हैं। नपाध्यक्ष अपने चहेते ठेकेदारों को ऑफलाइन निविदा देकर नियम विरुद्ध काम कर रही हैं। इस मामले को कलेक्टर ने गंभीरता से लिया। उन्होंने सीएमओ से चर्चा कर तत्काल 1 लाख रुपए से कम के ऑफलाइन कार्यों पर रोक लगाने के निर्देश दिए।

नगर पालिका में उपेक्षा से परेशान भारतीय जनता पार्टी के 22 पार्षदों ने एक सप्ताह पहले प्रदर्शन कर स्थाई समितियों से इस्तीफा भी दे दिया था। इसके बाद भी उनके आवेदन पर कार्रवाई नहीं हुई। नाराज पार्षदों ने बैतूल जाकर कलेक्टर से मुलाकात की। पार्षदों आरोप लगाया नपा में उनकी शिकायतों पर कार्रवाई नहीं होती। पार्षदों ने बताया बड़े कार्यों को कोटेशन पर करने के लिए उनकी इंक्वायरी टुकड़ों में ली जा रही है। पार्षदों से गैर जरूरी कार्यों की जानकारी लेन के बाद कलेक्टर ने सीएमओ को फोन कर कोटेशन के कार्यों पर रोक लगाने के निर्देश दिए।

ऐसे चला नाटकीय घटनाक्रम

नगर पालिका में 2 अप्रैल को सम्मेलन के बाद से नाटकीय घटनाक्रम जारी है। 17 अप्रैल को पार्षदों के दल ने नपा पहुंचकर उपेक्षा से परेशान होकर स्थाई समिति के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था। अपनी मांगों का ज्ञापन प्रभारी सीएमओ को दिया था, लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद नगर पालिका उपाध्यक्ष भीम बहादुर थापा, नेता प्रतिपक्ष संजय अग्रवाल, जिला मंत्री रंजीत सिंह और मंडल के अध्यक्ष सुधा चंद्रा के साथ भाजपा के पार्षदों के दल ने 24 अप्रैल की शाम बैतूल पहुंचे और कलेक्टर शशांक मिश्र से मुलाकात की। उन्होंने बताया शहर में विकास के नाम पर कुछ नहीं हो रहा।

उत्कल समाज के मंच के सांस्कृतिक मंच के भूमिपूजन में उपाध्यक्ष व भाजपा पार्षदों को नहीं बुलाया गया।

बजट बैठक में सीएमओ ने कहा मुझे पार्षदों की जरूरत नहीं

नगर पालिका में अधूरा बजट प्रस्तुत करने और पहले से बजट की जानकारी नहीं दिए जाने से नाराज होकर 2 अप्रैल की बैठक का भाजपा पार्षदों ने बहिष्कार किया था। नपाध्यक्ष भीम बहादुर थापा ने बताया सीएमओ पवन राय ने कहा उन्हें पार्षदों क जरूरत नहीं है। इससे निर्वाचित पार्षदों का अपमान हुआ है। नेता प्रतिपक्ष संजय अग्रवाल के कई आरटीआई आवेदनों को पेंडिंग रखा है।

उत्कल समाज के मंच भूमिपूजन में उपाध्यक्ष को नहीं बुलाया

वार्ड 6 में उत्कल समाज के सांस्कृतिक मंच का भूमि पूजन कार्यक्रम विवादित हो गया। इसमें नगर पालिका उपाध्यक्ष भीम बहादुर थापा को नहीं बुलाने से मामले ने तूल पकड़ लिया। मामले को लेकर उपाध्यक्ष ने नाराजगी जताई। वार्ड में नगर पालिका परिषद अध्यक्ष आशा भारती ने मंच का भूमिपूजन किया था। नियमानुसार इसमें उपाध्यक्ष को भी आमंत्रित किया जाना चाहिए था। इस मौके पर पीआईसी सदस्य शकुंतला पाटिल, शिवकली नर्रे, अनिता बेलवंशी उपस्थित थे। श्री थापा ने कहा चार दिन पहले ही ठेकेदारों की बैठक में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और संबंधित पार्षदों भूमिपूजन और अन्य नपा के कार्यक्रमों में आदर समेत आमंत्रित किए जाने के निर्देश दिए थे। इसके बाद भी ऐसा किया।


20 फीसदी कमीशन, बिलो के कार्यों से गुणवत्ता हो रही खराब

भाजपा पार्षदों ने आरोप लगाया नपा में 15 से 20 प्रतिशत तक कार्यों पर कमीशन लिया जा रहा है। इससे कार्यों की गुणवत्ता खराब हो रही है। इतना ही नहीं 8 महीने बीतने के बाद भी भाजपा पार्षदों के वार्ड में काम नहीं हो रहे हैं। पार्षदों ने कहा उच्चस्तरीय अधिकारियों की टीम बनाकर जांच कराई जाए तो सच्चाई सामने आ जाएगी।

X
भाजपा पार्षदों का आरोप: चहेतों को उपकृत करने के लिए निकाले 1 लाख से कम के कार्यों के ऑफलाइन टेंडर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..