• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sarni
  • अशंदान और समयदान में सबसे आगे है गायत्री प्रज्ञापीठ : मालवीय
--Advertisement--

अशंदान और समयदान में सबसे आगे है गायत्री प्रज्ञापीठ : मालवीय

Dainik Bhaskar

Apr 09, 2018, 06:20 AM IST

Sarni News - गायत्री परिवार ट्रस्ट व गायत्री प्रज्ञापीठ का वार्षिक अधिवेशन रविवार को शाम 4 बजे से गायत्री प्रज्ञापीठ शोभापुर...

अशंदान और समयदान में सबसे आगे है गायत्री प्रज्ञापीठ : मालवीय
गायत्री परिवार ट्रस्ट व गायत्री प्रज्ञापीठ का वार्षिक अधिवेशन रविवार को शाम 4 बजे से गायत्री प्रज्ञापीठ शोभापुर कॉलोनी में हुआ। इसमें उपजोन समन्वयक, जिला समन्वयक, जिला समन्वयक युवा प्रकोष्ठ, तहसील समन्वयक के अलावा, समस्त ट्रस्टीगण, कार्यकारिणी समिति सदस्य चारों व्यवस्था समिति सदस्य एवं बडी संख्या में जन सामान्य उपस्थित रहे।

मुख्य प्रबंध ट्रस्टी दीपचंद मालवी ने 2017-18 की समस्त उपलब्धियों एवं कार्यों का उल्लेख किया। उन्होंने बताया समयदान के क्षेत्र में बैतूल टीम के नाम से जाने जानी वाली प्रज्ञापीठ शोभापुर काॅलोनी की प्रदर्शनी टीम जिनने संपूर्ण देश के प्रत्येक क्षेत्र में श्रद्धांजलि समारोह 1990 से वर्तमान समय तक लगभग सभी बड़े आयोजनों में अपने स्वयं के खर्चे से समयदान किया। वर्ष 2011 में यहां मध्यप्रदेश शासन द्वारा विधि मान्य ट्रस्ट का गठन हुआ। इसके बाद आयकर अधिनियम 1962 के तहत 12ए एवं 80जी के तहत पंजीकृत हैं। स्थानीय क्षेत्रीय एवं केंद्रीय स्तर पर सामंजस्य, सुव्यवस्था एवं मिशनरी गतिविधियों के संचालन हेतु इस संस्थान को शांतिकुंज हरिद्वार द्वारा देश के आदर्श प्रज्ञापीठ में स्थान दिया है। 10 मार्च 2017 को विधिवत इस ट्रस्ट मंडल का पुनर्गठन किया गया। इसी के साथ कार्यकारिणी समिति व चारों प्रबंधन समिति का गठन किया गया। आपसी सौहार्द्रता इस संस्थान कि अनूठी विशेषता है। वर्ष भर में संस्थान द्वारा किए गए कार्यों का लेखा प्रस्तुत किया गया। पत्रिका एवं साहित्य स्टाल की जानकारी भोजराज पंडाग्रे ने दी।

परिजनों ने अंशदान संकलनकर्ता के नाम व उनके द्वारा संकलित अंशदान की घोषणा प्रेमनारायण देशमुख ने की। उन्होंने बताया इस वर्ष 2017-18 में कुल 36 परिजनों ने अंशदान संकलन कार्य में सहभागीता कर कुल 3 तीन लाख 6 हजार 562 रुपए जमा किए। स्थाई निधि कि जानकारी श्री माधोराव पाटनकर, आंदोलन समिति कि गतिविधियों कि जानकारी अरुणा देशमुख, शांतिकुंज अनुदान एवं गायत्री माता के वस्त्राभूषण की जानकारी हेमलता मालवी ने दी। हेमलता मालवी ने सभी आय-व्यय की जानकारी दी । आखिर में मुख्य प्रबंधन ट्रस्टी दीपचंद मालवी ने वर्ष 2018-19 की के लिए सभी समितियों के प्रभारी एवं सदस्यों के नाम की घोषणा की।

X
अशंदान और समयदान में सबसे आगे है गायत्री प्रज्ञापीठ : मालवीय
Astrology

Recommended

Click to listen..