कचरे से पटा नाला, बाढ़ आई तो किनारे पर बसे 196 परिवार होंगे प्रभावित, नप को स्वीकृति का इंतजार

Sehore News - नाले के सौन्दर्यीकरण में लगभग 15 करोड़ रुपए खर्च होना थे भास्कर संवाददाता| नसरुल्लागंज वर्ष 2015 में अतिवृष्टि व...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 08:41 AM IST
Nasrullaganj News - mp news 196 families affected by floods floods came flood affected nup to wait for approval
नाले के सौन्दर्यीकरण में लगभग 15 करोड़ रुपए खर्च होना थे

भास्कर संवाददाता| नसरुल्लागंज

वर्ष 2015 में अतिवृष्टि व बाढ़ के चलते आधा नगर बाढ़ से प्रभावित हुआ था। बाढ़ आने से निचली बस्तियों समेत कई दुकानों में भी बाढ़ का पानी भरा गया था। मानसून सत्र शुरू होने में एक माह का समय शेष बचा है। नगरवासियों को बारिश का इंतजार है। मानसून शुरू होने से पूर्व नाले गहरीकरण की कवायद शुरू नहीं की गई तो एक बार फिर नाले के किनारे बसे 196 परिवारों को बाढ़ की चपेट में आने की संभावना है। नाले की स्थिति को देखते हुए नगरवासियों द्वारा बाढ़ आने का अंदेशा लगाया जा रहा है।

15 साल पूर्व प्रदेश में भाजपा सरकार बनते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का सबसे पहला प्रोजेक्ट नाले का सौन्दर्यीकरण करना था, लेकिन 15 साल भाजपा सरकार रहते यह सपना सपना ही बनकर रह गया। नगर परिषद को प्रतिवर्ष सौंन्दर्यीकरण के नाम पर सिर्फ गहरीकरण कराकर ही इतिश्री करना पड़ी, क्योंकि नाले का सौन्दर्यीकरण में लगभग 15 करोड़ रुपए का खर्च होना था।

अब प्रदेश में सत्ता परिवर्तन हो चुकी है और नाले का सौन्दर्यीकरण अब भी सपना ही बना रहेगा। नाला अभी जलकुंभी व नगर का कचरे से पट चुका है। वहीं नगर के आंतरिक हिस्सों में कई जगह नाले पर अतिक्रमण भी हो चुका है। ऐसी स्थिति में एक माह बाद शुरू होने वाले मानसून से पूर्व यदि नाले का गहरीकरण व सफाई नहीं कराई गई तो नगरवासियों को पुन: बाढ़ का दंश झेलना पड़ सकता है।

रेलिंग व कब्रिस्तान की बाउंड्री से बनेंगे बाढ़ के हालात : नगर परिषद द्वारा नगर को सुंदर बनाने के लिए भले ही नाले पर बने पुल का सौंन्दर्यीकरण किया गया हो, लेकिन यह सौंन्दर्यीकरण कहीं ना कहीं बाढ़ के हालातों को जन्म देगा। मुस्लिम मोहल्ला स्थित कब्रिस्तान की बाउंड्री निर्माण के चलते वर्ष 2015 में बाढ़ आ गई थी। बाढ़ के पानी में बाउंड्री टूट जाने के बाद ही नाले का पानी उतरा था। इस वर्ष फिर वही स्थिति देखने को मिल रही है। क्योंकि मुस्लिम मोहल्ला स्थित नाले पर रेलिंग लगाये जाने व बाउंड्री निर्माण होने व तेज बारिश के कारण बाढ़ के हालत बन सकते हैं।

गहरीकरण से मिलेगा फायदा

नाले का गहरीकरण का कार्य पूर्ण होने पर किनारे बसे 196 परिवारों जो कि मुस्लिम मोहल्ला, सद्दाम कॉलोनी, बरकत कॉलोनी, सुभाष कॉलोनी, किसान मोहल्ला, वृंदावन कॉलोनी, गुड मंडी, चांदनी गार्डन में निवासरत लोगों को इसका फायदा मिलेगा। नगर के फोरलेन मुख्य मार्ग, नीलकंठ रोड, जेपी मार्केट, रायल मार्केट व ऋषि नगर कॉलोनी में बनी नालियों में एक साल से जमा मलबा निकालने का कार्य भी शुरू हो चुका है। इससे भी बारिश का पानी आसानी से निस्तार हो सकेगा।

कई जगह नाले पर अतिक्रमण भी हो चुका है, 2015 में बाढ़ से प्रभावित हुए थे लोग

आचार संहिता बाद की जाएगी नाले की सफाई


X
Nasrullaganj News - mp news 196 families affected by floods floods came flood affected nup to wait for approval
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना