• Hindi News
  • National
  • Nasrullaganj News Mp News After The Death Of The Patient The Family Beat Up The Civil Surgeon And The Medical Officer

मरीज की मौत होने पर परिजनों ने सिविल सर्जन व मेडिकल ऑफिसर से मारपीट की

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
परिजनों के खिलाफ डॉक्टरों ने कराई एफआईआर

भास्कर संवाददाता| नसरुल्लागंज

शुक्रवार रात अस्पताल में गंभीर हालत में भर्ती मरीज को रेफर करते समय उसकी मौत हो गई। इसके बाद मरीज के परिजनों ने सिविल सर्जन सहित डॉक्टर के साथ ही मारपीट शुरू कर दी। इतना ही नहीं अस्पताल का सामान भी तोड़फोड़ दिया। जिसकी रिपोर्ट डॉक्टरों ने थाने में कर आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की।

रात 11 बजे निम्नागांव निवासी सत्यनारायण पुत्र रामेश्वर जाट को परिजनों ने गंभीर हालत में अस्पताल भर्ती कराया गया। ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टर राहुल शर्मा ने मरीज की गंभीर स्थिति देख सिविल सर्जन डॉ. आरसी विश्वकर्मा को मरीज की जानकारी देकर उन्हें अस्पताल बुलाया। डॉ. विश्वकर्मा करीब 5-6 सालों से मरीज का उपचार कर रहे थे। डॉ. विश्वकर्मा ने मरीज की गंभीर स्थिति भोपाल रेफर कर दिया, लेकिन इसी दौरान मरीज की मौत हो गई। यह देख परिजनों डॉ. विश्वकर्मा व डॉ. शर्मा के साथ अभद्रता करते हुए मारपीट करने लगे। मारपीट में दोनों डॉक्टर घायल हो गए। इतना ही नहीं अस्पताल में लगे अग्निशमन यंत्र को उठाकर डॉक्टरों के पीछे दौड़े, लेकिन डॉक्टरों ने अपने आपको को बचाने के कमरे में बंद हो गए। घटना की जानकारी लगते ही अस्पताल का स्टॉफ मौके पर पहुंचा तब जाकर मामला शांत हुआ। घटना के बाद देर रात डॉक्टरों ने मृतक सत्यनारायण के परिजनों के विरुद्ध शासकीय कार्य में बाधा, मारपीट, शासकीय संपत्ति को नुकसान पहुंचाने, जान से मारने की धमकी देने के तहत एफआईआर दर्ज कराई। घटना के बाद डॉक्टरों ने कलेक्टर व सीएमएचओ के नाम तहसीलदार को कार्रवाई की मांग करते हुए ज्ञापन दिया।

खबरें और भी हैं...