• Hindi News
  • Mp
  • Sehore
  • Sehore News mp news cleaning was done two years ago now visible garbage in the drain running through the city

दो साल पहले हुई सफाई, अब फिर नगर के बीच बहने वाले नाले में दिखाई दे रहा कचरा

Sehore News - नगर के बीच स्थित नाले की सफाई नहीं होने के कारण काफी परेशानी हुआ करती थी। करीब एक साल पहले नाले किनारे हुए अतिक्रमण...

Dec 04, 2019, 10:26 AM IST
नगर के बीच स्थित नाले की सफाई नहीं होने के कारण काफी परेशानी हुआ करती थी। करीब एक साल पहले नाले किनारे हुए अतिक्रमण को हटाने के लिए जब प्रशासन ने मुहिम चलाई तो उस समय नाले की सफाई का भी प्लान बनाया गया। इसके लिए एक पहल हुई और फिर नाले की सफाई का काम शुरू कर दिया गया। करीब दो महीने तक इसकी सफाई कर सैकड़ों डंपर मिट्टी के निकाले गए थे।

सफाई के बाद नाले में गंदगी नहीं होने से अच्छा लग रहा था लेकिन अब फिर से नाले में काफी गंदगी फेंकी जा रही है। इस नाले को लंबे समय से साफ भी नहीं किया गया है था, यही कारण है कि नाले में बड़ी मात्रा में कचरा और गंदगी हो रही है। बरसात के समय नाला पानी से भर गया था। टाउन हाल के पास का नाला भी पानी से भर गया है लेकिन अब इसमें से कचरे को हटाया जाना जरूरी है जिसे नहीं हटाया गया है। इसी तरह नाले में कई जगह कचरा भरा हुआ है। इससे पानी दूषित हो रहा है।

सालों बाद हुई थी सफाई लेकिन उसे बरकरार रखना अब जरूरी : नाले की सफाई सालों से नहीं हो सकी थी। प्रशासन और नपा प्रबंधन ने इस नाले की सफाई करते हुए गहरीकरण भी किया था। इसके बाद इस काम की सभी ने सराहना की थी। नाले की सफाई पहली बार होते हुए लोगों ने देखा था। इसलिए सभी को अच्छा लगा था।

अब फिर से डाली जा रही गंदगी और कचरा

अब लोगों ने नाले में फिर से कचरा डालना शुरू कर दिया है। कुछ ही महीने अभी बारिश थमे हुए हैं लेकिन इतने कम समय में फिर से नाले में कचरा दिखाई देने लगा है। जबकि बारिश के बाद नाला पूरी तरह साफ दिखाई देता था।

कचरा डालने वालों पर होना चाहिए कार्रवाई

नाले में कचरा डालने वालों पर कार्रवाई होना जरूरी है। इसके लिए अभी तक सख्ती नहीं हुई। यही कारण है कि लोग इस नाले में कचरा डालने लगे हैं। अमर टॉकीज के पास की बात करें या फिर मछली पुल की, सभी जगह कचरे के ढेर लगे हैं। पूरा नाला कचरे से पटा पड़ा है। सालों से लोग नाले में कचरा डालते चले आ रहे हैं। सफाई के अभाव में समस्या बढ़ती जा रही है। अब नाले में जो पानी भरा हुआ है वह भी दूषित हो रहा है। इससे बीमारियों के फैलने का डर भी बना रहता है।

नाले की चौड़ाई और गहराई बढ़ी, लेकिन किनारे पर हो चुके हैं निर्माण

नदी में भी कई जगह कचरा

सीवन नदी भी पानी से लबालब भरी हुई है। इसमें कई जगह कचरा पड़ा है। महिला और पुरुष घाट पर कचरा हो रहा है। इस कारण पानी भी दूषित हो रहा है। इसी तरह आने वाले दिनों में नदी में जलकुंभी छाने लगेगी। हर साल जलकुंभी की समस्या से पानी खराब होता है।


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना