सायलो केंद्र पर 1 दिन में 400 ट्राली तौल क्षमता का लाभ ले रहे किसान, आते ही उपज बेच रहे

Sehore News - अब किसान जिस दिन उसका नंबर है वह उसी दिन अपनी उपज बेच रहे हैं भास्कर संवाददाता| सीहोर जिला मुख्यालय पर स्थित...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 09:05 AM IST
Sehore News - mp news farmers taking advantage of 400 trolley weights in 1 day at sailo center selling produce as soon as they arrive
अब किसान जिस दिन उसका नंबर है वह उसी दिन अपनी उपज बेच रहे हैं

भास्कर संवाददाता| सीहोर

जिला मुख्यालय पर स्थित स्टील सायलो बेग में 400 ट्रालियों तक एक दिन में तौल कराने की क्षमता है। इसका फायदा किसानों को मिल रहा है। एक दिन से अधिक समय के लिए किसानों को सायलो केंद्र पर उपज तौल कराने के लिए रात नहीं रुकना पड़ रहा है। मंगलवार को करीब 225 ट्रालियों की तौल हुई। इस बीच किसान घर से सीधे तौल कांटे पर पहुंचे और उपज तौल कराकर रसीद प्राप्त कर लौट गए।

सीहोर ब्लाक की 8 सोसायटियों के किसान सायलो बेग में अपनी उपज बेच रहे हैं। शुरुआत के दिनों में सायलो बेग के केंद्र पर 350 ट्रालियां तक पहुंची। पिछले दो दिनों से आवक में कमी आई है। इसका फायदा किसानों को मिल रहा है। अब किसान जिन दिन उसका नंबर है वह उसी दिन अपनी उपज बेच रहे हैं। हालांकि अपनी स्वेच्छा से किसान सुबह जल्दी नंबर आ जाए इसके लिए एक दिन पहले ही सायलो केंद्र के बाहर अपनी ट्रैक्टर-ट्राली लाइन में लगाकर खड़े हो जाते हैं। दूसरे दिन उनका नंबर परिसर में प्रवेश करते ही आ जाता है। इससे किसानों को काफी फायदा हो रहा है।

2 लाख क्विंटल उपज बेच चुके किसान : समर्थन मूल्य पर 25 मार्च से गेहूं की खरीदी शुरू की गई है। किसानों ने सायलो खरीदी केंद्र पर सोमवार तक करीब 2 लाख क्विंटल उपज बेच दी है। वहीं सायलो ने 3 लाख क्विंटल उपज खरीदने का लक्ष्य रखा है। सायलो केंद्र में खरीदी की शुरुआत के समय एक आधा और दो पूरे खाली थे। एक डोम में 12.50 हजार मीट्रिक टन गेहूं रखने की क्षमता है। 24 मई तक इसकी पूर्ति भी हो जाएगी। जहां 10 से 15 मिनट के अंतराल में ट्राली खाली कर दी जाती है। सायलो में एक दिन में करीब 400 ट्रालियों को खाली किया जा सकता है।

इस संबंध में सायलो केंद्र प्रबंधक मुकेश पटेल ने बताया कि किसानों को परेशानी न हो इसके लिए केंद्र पर पर्याप्त व्यवस्था है। परिसर में छाया के लिए टेंट और पीने के पानी के लिए पर्याप्त व्यवस्था है।

शरबती गेहूं 3324 रुपए तक बिका, लोकवन के दामों में भी आया उछाल

फायदा : शादी विवाह के सीजन में बढ़े दाम

गेहूं की डिमांड बढ़ने के कारण अब मंडी में भी दाम बड़े हैं। इसका फायदा किसानों को हुआ है। किसान समर्थन मूल्य पर उपज बेचने के साथ ही नकदी के लिए मंडी पहुंच रहा है। इधर शादी-विवाह का सीजन शुरू होने से मंडी में गेहूं के दाम बढ़ने से किसानों को काफी राहत मिली है। बीते दिन मंडी में लोकवन गेहूं 16039 से 2004 रुपए प्रति क्विंटल बिका। वहीं शरबती गेहूं प्रति क्विंटल 2096 से 3278 रुपए बिका। मंगलवार को 17 हजार क्विंटल आवक रिकार्ड की गई। इस दौरान शरबती अधिकतम 3324 और लोकवन 2038 रुपए बिका।

X
Sehore News - mp news farmers taking advantage of 400 trolley weights in 1 day at sailo center selling produce as soon as they arrive
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना