• Hindi News
  • Mp
  • Sehore
  • Ashta News mp news lack of space in the campus due to excess of buses plans are being made to divide the stand in two parts

बसों की अधिकता से परिसर में होने लगी जगह की कमी, स्टैंड दो भाग में बांटने बन रही योजना

Sehore News - नगर का उमराव सिंह यात्री वाहन स्थानक बस स्टैंड बसों की अधिकता के चलते जगह की कमी देखने को मिल रही है। इस कारण अपने...

Feb 12, 2020, 06:31 AM IST
Ashta News - mp news lack of space in the campus due to excess of buses plans are being made to divide the stand in two parts

नगर का उमराव सिंह यात्री वाहन स्थानक बस स्टैंड बसों की अधिकता के चलते जगह की कमी देखने को मिल रही है। इस कारण अपने रूटों पर आने वाली बसों को कई बार प्लेट फार्म नहीं मिलने के कारण उनको बीच में ही खड़ा करना पड़ रहा है। जिससे परिसर में जाम की समस्या भी होने लगी है। पिछले दिनों ऑपरेटरों की बैठक में प्रशासन व नगर पालिका ने इस बात को माना है कि बस स्टैंड छोटा पड़ने लगा है। वहीं अब इसे दो भागों में बांटने की भी योजना बनाई जा रही है।

भोपाल-इंदौर के बीच स्थित नगर के बस स्टैंड पर आसपास के सभी रूटों की बसें उपलब्ध रहती हैं। इस कारण यहां पर बसों का आवागमन भी अधिक होता है। भोपाल-इंदौर की बसों के अलावा ग्रामीण रूटों पर प्राइवेट बसों का संचालन होता है। इस कारण वैसे ही परिसर छोटा पड़ने लगा था। अपने रूट पर आने वाली बसों को प्लेट फार्म खाली नहीं मिलने की स्थिति में उन्हें परिसर के बीच ही बस को खड़ा करके यात्रियों को बैठाना पड़ता है। जिससे जाम की समस्या भी उत्पन्न होती है। अब यहां पर चार्टड बसों का भी प्रवेश होने लगा है जिससे जगह की कमी अधिक हो गई है। जबकि सीजन के समय तो यह समस्या सबसे अधिक हो जाती है। परिसर में यात्रियों की भीड़ बढ़ने से बसों को खड़े होने की जगह भी नहीं मिल पाती है। यहां पर सुबह से शाम तक यात्रियों की भीड़ देखने को मिल सकती है। वहीं यात्री प्रतीक्षालय के नाम पर यात्रियों को कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है। यहां पर गर्मी के दिनों में पंखों की सुविधा भी नहीं है। पहले यहां पर पंखे लगे थे, लेकिन वह चोरी हो गए। इसके अलावा बैठने के लिए भी कुर्सियों का अभाव है। जबकि नगर पालिका बस संचालकों से वाहन विराम शुल्क भी वसूलती है।

अधिकारियों ने भी माना जगह की कमी: पिछले दिनों चार्टड व प्राइवेट बस ऑपरेटरों की बैठक में एसडीएम व नपा प्रशासक अंजू अरूण कुमार व सीएमओ नीरज श्रीवास्तव ने भी बस स्टैंड के छोटा पड़ने की बात कहीं थी।

भोपाल-इंदौर जाने वाली व निजी बसों के बाद चार्टर्ड बसों के आने से बनी स्थिति

दो स्थानों पर खड़ी हो सकती हैं बसें

जगह की कमी तथा चार्टड व प्राइवेट ऑपरेटरों के बढ़ते विवाद को देखते हुए प्रशासन दो स्थानों पर बसों के स्टैंड बना सकती है। इसके लिए पुराना बस स्टैंड व कम्युनिटी हॉल का निरीक्षण भी किया था। अब देखना यह है कि इसे अमलीजामा कब तक पहनाया जा सकता है।

बस स्टैंड परिसर में पड़ने लगी जगह की कमी।

प्रवेश मार्ग में भी अड़चन

नए बस स्टैंड के प्रवेश मार्ग पर लोगों ने स्थायी रूप से ठेले लगा लिए हैं। साथ ही यहां पर चार पहिया छोटे वाहन खड़े रहते हैं। वहीं सीहोर चलने वाली टैक्सी का भी यहीं पर स्थान बना दिया है। जिससे बसों को अंदर में आने में परेशानी आती है।

कमी दूर करने स्थान का चयन किया जाएगा

-नीरज श्रीवास्तव, सीएमओ, नपा।

X
Ashta News - mp news lack of space in the campus due to excess of buses plans are being made to divide the stand in two parts

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना