लोक अदालत: बिजली चोरी और हादसों के मामलों में सबसे ज्यादा समझौते हुए

Sehore News - भास्कर संवादाता| नसरुल्लागंज/बुदन/आष्टा नेशनल लोक अदालत शनिवार को सभी तहसीलों में आयोजित की गई। लोक अदालत में...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:35 AM IST
Nasrullaganj News - mp news lok adalat the largest deal in the case of power theft and accidents
भास्कर संवादाता| नसरुल्लागंज/बुदन/आष्टा

नेशनल लोक अदालत शनिवार को सभी तहसीलों में आयोजित की गई। लोक अदालत में बैंक, राजस्व, बिजली कंपनी सहित अन्य विभागों ने अपने स्टॉल लगाए थे। जिनमें सबसे अधिक बिजली चोरी और दुर्घटना के प्रकरणों पर समझौते हुए। इसके अलावा जलकर संबंधी प्रकरणों का भी निराकरण किया गया।

नसरुल्लागंज में तहसील विधिक सेवा समिति के अध्यक्ष, द्वितीय अपर जिला न्यायाधीश नसरुल्लागंज अवधेश कुमार सिंह ने कार्यक्रम शुभारंभ किया। इसमें 4 खंडपीठों में 57 प्रकरणों को रखा गया। इसमें से 20 का निराकरण हुआ। मोटर दुर्घटना दावा के 20 प्रकरण रखे गए व चार का निराकरण करते हुए 11 लाख एक हजार रुपए की वसूली की गई। इसी तरह बिजली चोरी से संबंधित 200 मामले रखे गए । इसमें 21 का निराकरण करते हुए 8 लाख 9 हजार 135 रुपए की वसूली की। धारा 138 के प्रकरण 151 रखे गए थे। जिसमें से 8 प्रकरणों का निराकरण करते हुए 14 लाख 86 हजार रुपए की वसूली की। उक्त प्रकरणों के अतिरिक्त बिजली चोरी से संबंधित प्रीलिटिगेशन प्रकरण 400 रखे एवं 113 का निराकरण करते हुए 7 लाख 23 हजार रुपए वसूले।

नसरुल्लागंज में 4 खंडपीठों में 57 प्रकरण रखे जिसमें से 20 का निराकरण

लोक अदालत में बिजली चोरी और दुर्घटना के प्रकरणों पर हुए सबसे अधिक समझौते।

अलग-अलग प्रकरणों पर हुई सुनवाई

बुदनी| लोक अदालत के एडीजे न्यायालय में 58 प्रकरण व मजिस्ट्रेट न्यायालय में 90 प्रकरण रखे गए। इसमें से एडीजे न्यायालय में 5 प्रकरण आपराधिक, दो प्रकरण वसूली व मजिस्ट्रेट न्यायालय में 11 प्रकरण निराकरण किए गए। जिनसे 19 लाख 20 हजार रुपए राशि वसूली गई। वहीं नगर परिषद बुदनी ने जलकर के 19 प्रकरण रखे थे। जिनमें से 5 प्रकरण का निराकरण करते हुए 21 हजार 260 रुपए वसूले। प्री-लिटिगेशन प्रकरणों में 691 प्रकरण बैंक की ओर से गए। जिनमें से 19 प्रकरण का निराकरण करते हुए 8 लाख 42 हजार रुपए की वसूली की गई।

चार साल से लंबित प्रकरण में हुआ राजीनामा

लोक अदालत के दौरान राजकुमार विरुद्ध करण सिंह का मामला आया। इसमें परिवारी व अभियुक्त के बीच 7 लाख रुपए की राशि के चैक का राजीनामा हुआ। उक्त प्रकरण लगभग चार साल से लंबित था। राजीनामा होने से न केवल पक्षकारगण का समय बचा बल्कि न्याय शुल्क भी वापस किया जाता है। प्रकरण के सफल करने में ठाकुर प्रसाद मालवीय न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी बुदनी की अहम भूमिका रही।

89. 92 लाख रुपए की हुई वसूली, 137 मामलों का हुआ समाधान

आष्टा|तहसील में 3 हजार 278 प्रकरणों पर सुनवाई की गई। सुनवाई के बाद करीब 89 लाख 92 हजार रुपए की वसूली की गई। इसमें बिजली चोरी, जलकर, बैंक सहित अन्य प्रकरणों पर सुनवाई की गई। सुनवाई में 137 प्रकरणों पर समाधान हुआ।

X
Nasrullaganj News - mp news lok adalat the largest deal in the case of power theft and accidents
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना