• Hindi News
  • Mp
  • Sehore
  • Sehore News mp news not having battery brought the primary radio to the high school where all the arrangements were there the children did not come

बैटरी नहीं होने से प्राइमरी का रेडियो हाईस्कूल में लाए, जहां सारी व्यवस्थाएं थीं, वहां बच्चे नहीं आए

Sehore News - परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परीक्षार्थियों से सीधी बात की। इस दौरान...

Jan 21, 2020, 09:06 AM IST
Sehore News - mp news not having battery brought the primary radio to the high school where all the arrangements were there the children did not come
परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परीक्षार्थियों से सीधी बात की। इस दौरान छात्र-छात्राओं ने अपनी जिज्ञासाओं के कई सवाल पूछे। इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण रेडियो और टीवी के माध्यम से किया गया। प्रदेश में भी सभी हाई और हायर सेकंडरी स्कूलों में इस प्रसारण को छात्र-छात्राओं को सुनवाना था लेकिन कई स्कूलों की यह हालत रही कि कई जगह रेडियो पर प्रसारण तो सुनाई दे रहा था लेकिन उसे सुनने के लिए बच्चे ही बहुत कम थे। यही नहीं जहां बच्चे थे तो वहां पर रेडियो में सेल ही नहीं थे। ऐसे में ये बच्चे सीधा प्रसारण सुन ही नहीं सके।

बच्चों को परीक्षा के तनाव से मुक्त रहने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बच्चों के सवालों के जवाब दिए। इस दौरान देशभर के बच्चे दिल्ली में थे। यहां पर उन्होंने अपनी जिज्ञासा से संबंधित प्रश्न पूछे। इनके प्रधानमंत्री श्री मोदी ने जवाब भी दिए। इस कार्यक्रम का सभी बच्चों को फायदा मिल सके, इसके लिए प्रदेश में भी सभी हाई और हायर सेकंडरी स्कूलों में रेडियो पर इस संवाद को सुनवाने की व्यवस्था करने के लिए कहा गया था।

परीक्षा पे चर्चा
तनाव मुक्त परीक्षा... प्रधानमंत्री ने सुबह 11 बजे से एक बजे तक दिए परीक्षार्थियों के सवालों के जवाब

1.प्राइमरी का रेडियो उठाया तो बच्चे मुंह ताकते रह गए

नगर में स्थित शासकीय हाई स्कूल ग्वालटोली में भास्कर संवाददाता सुबह 11.40 बजे जब पहुंचा तो देखा कि यहां पर हाई स्कूल के बच्चे स्कूल परिसर में एकत्रित होकर बैठे थे। इन बच्चों के सामने तीन शिक्षिकाएं बैठी थीं लेकिन कहीं पर भी टेबल पर रेडियो नहीं दिखाई दे रहा था। जब शिक्षिकाओं से इसका कारण पता किया तो बताया गया कि एक रेडियो खराब हो गया है। दूसरा लाए थे लेकिन इसके सेल काम नहीं कर रहे हैं। नए सेल लेने के लिए शिक्षक बाजार गए हैं। इसके बाद यहां पर प्राइमरी स्कूल में चल रहे रेडियो को लाकर रख दिया। इससे जो बच्चे शुरू से इस कार्यक्रम को सुन रहे थे तो वे उस शिक्षिका की तरफ ही देखते रह गए लेकिन क्योंकि बच्चे थे इसलिए कुछ कह नहीं सकते थे।

जहां पर व्यवस्था नहीं की गई, वहां कार्रवाई की जाएगी

लापरवाही की हद.... सेल तक नहीं खरीद पाए और न ही बच्चे पूरे बुला पाए

ग्वालटोली हाई स्कूल में बच्चे तो बैठे थे, लेकिन नहीं था रेडियो।

2. रेडियो चल रहा था लेकिन सुनने के लिए नहीं थे परीक्षार्थी

नगर के ही शासकीय हाई स्कूल मनुवेन में दोपहर 12.30 बजे की स्थिति इस तरह की थी कि यहां पर रेडियो तो चल रहा था लेकिन प्रधानमंत्री के संबोधन को सुनने के लिए बहुत कम परीक्षार्थी थे। इन सभी बच्चों को मैदान परिसर में बैठा रखा था जहां पर रेडियो को टेबल पर रखा हुआ था। मंडी स्थित मनुवेन स्कूल में कक्षा 9वीं से 10वीं तक में कुछ दर्ज बच्चों की संख्या 229 है। जब सोमवार को प्रधानमंत्री का जरूरी संबोधन परीक्षा को लेकर था तब भी यहां पर बच्चों की संख्या बहुत कम थी। यहां पर दोपहर के समय 229 बच्चों में से केवल 26 बच्चे ही मौजूद थे। शिक्षकों का कहना था कि सुबह प्री-बोर्ड की परीक्षा थी, इसलिए बच्चे कम हैं।

प्री-बोर्ड परीक्षा का समय भी प्रसारण के समय को देखते हुए बदल दिया गया था। जिन स्कूलों में भी प्रसारण के लिए व्यवस्था नहीं की गई थी तो ऐसे स्कूलों में पदस्थ जिम्मेदार शिक्षकों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।-एसपीएस विसेन, डीईओ

3. जुगाड़ से व्यवस्था कर सुनाया संदेश

नगर के ही शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल सुभाष में रेडियाे ही नहीं था। हालांकि बच्चे प्रधानमंत्री का संदेश सुन सकें, इसके लिए यहां पर स्मार्ट मोबाइल को स्पीकर से जोड़ा गया था। इस तरह से प्रधानमंत्री का संदेश मोबाइल के माध्यम से सुनाया जा रहा था। शासकीय कस्तूरबा और विवेकानंद स्कूल में टीवी की व्यवस्था कर बच्चों को लाइव कार्यक्रम दिखाया जा रहा था। शासकीय कस्तूरबा स्कूल में टीवी पर बच्चों को लाइव प्रसारण दिखाने की व्यवस्था तो की गई थी लेकिन खास बात यह थी कि जिन बच्चों के लिए यह कार्यक्रम बहुत जरूरी था उन्हीं कक्षाओं के बच्चे यहां पर बहुत कम थे। यानि 9वीं से 12वीं तक के बच्चों की संख्या बेहद कम थी जबकि प्राइमरी स्कूल के बच्चों की संख्या अधिक थी।

X
Sehore News - mp news not having battery brought the primary radio to the high school where all the arrangements were there the children did not come
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना