• Hindi News
  • Mp
  • Sehore
  • Ashta News mp news siddhachakra vidhan get victory over karma with equanimity apurvamati mataji

सिद्धचक्र विधान....समता भाव से कर्म पर विजय प्राप्त करें: अपूर्वमति माताजी

Sehore News - मनुष्य को हमेशा समता भाव से कर्म पर विजय प्राप्त करने का प्रयास करना चाहिए, लड़ झगड़ कर नहीं। जब भी मुनि, तीर्थकर व...

Jan 11, 2020, 06:30 AM IST
Ashta News - mp news siddhachakra vidhan get victory over karma with equanimity apurvamati mataji
मनुष्य को हमेशा समता भाव से कर्म पर विजय प्राप्त करने का प्रयास करना चाहिए, लड़ झगड़ कर नहीं। जब भी मुनि, तीर्थकर व जिनवाणी का सानिध्य मिले तो देरी न करें, तत्काल उनकी वाणी को ग्रहण करें। मुनिराज के दर्शन व आशीर्वाद से जीवन में काफी परिवर्तन आता है।

यह बातें मैना में चल रहे श्रीसिद्धचक्र महामंडल विधान के अवसर पर संत शिरोमणि आचार्य विद्यासागर महाराज की प्रभाविका शिष्या आर्यिका र| अपूर्वमति माताजी ने कहीं। अपूर्वमति माताजी ने आगे कहा जीवन में तीन चीजों का पालन करना चाहिए। दिमाग में आईस, जुबान पर शुगर, दिल में लव की फैक्टरी बनाकर मनुष्य अपने जीवन को धन्य बना सकता है। जो जीवन में निष्कपट भाव से गुरु की सेवा करता है उसका जीवन धन्य हो जाता है। गुरु के चरण दबाना जरूरी नहीं है। गुरु भक्ति जीवन में सदैव बनी रहे उसके लिए गुरु के गुणों का विस्तार करना जरूरी है। जिन गुरु के सान्निध्य में उन्नति का मार्ग मिलता है, उसकी महिमा करना ही श्रेष्ठ गुरु भक्ति मानी गई है। बिना गुरु की कृपा के मोक्ष मार्ग भी संभव नहीं होता है। अपूर्वमति माताजी ने कहा कि मनुष्य शरीर मिलना अत्यंत दुर्लभ, इसके लिए स्वर्ग में बैठे देवता भी याचना करते हैं, जो आज हमें सुलभ है। मनुष्य तन पूर्व जन्म के पुण्य के फ लस्वरूप ही हमें प्राप्त होता है। उन्होंने कहा कि संसार में रहकर हम शरीर सुख के लिए ही प्रतिपल प्रयासरत रहते हैं जबकि प्राणी का शरीर तुच्छ है, क्षणभंगुर है। शारीरिक सुख क्षणिक है, अनित्य है। इसलिए ज्ञानीजन शरीर के प्रति ध्यान न देकर अंतरात्मा के प्रति सचेत रहने की बात करते हैं। आपने बताया कि अंतरात्मा की ओर ध्यान देने से प्राणी का जीवन सार्थक है। हमें ये जीवन भक्ति करके भगवान के पाने के लिए मिला है। संसार के पद प्राणी और पदार्थ सभी अनित्य हैं। परमात्मा और आत्मा ही नित्य तत्व है। उन्होंने कहा कि आत्मा के अभाव में शरीर तो शव मात्र है।

X
Ashta News - mp news siddhachakra vidhan get victory over karma with equanimity apurvamati mataji
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना