• Hindi News
  • Mp
  • Sehore
  • Sehore News mp news strictly sand by administration one thousand rupees per trolley expensive construction works slow

प्रशासन की सख्ती से रेत प्रति ट्रॉली एक हजार रुपए महंगी, निर्माण कार्यों की धीमी हुई चाल

Sehore News - लगातार रेत के अवैध उत्खनन और परिवहन जब थमा नहीं तो प्रशासन ने इस पर सख्त कार्रवाई का मन बनाया और राजस्व व पुलिस की...

Feb 15, 2020, 09:20 AM IST
Sehore News - mp news strictly sand by administration one thousand rupees per trolley expensive construction works slow

लगातार रेत के अवैध उत्खनन और परिवहन जब थमा नहीं तो प्रशासन ने इस पर सख्त कार्रवाई का मन बनाया और राजस्व व पुलिस की संयुक्त टीमें बनाई गईं। इन टीमों को दो शिफ्ट में लगाया ताकि रेत के अवैध कारोबार पर अंकुश लग सके। इसके बाद जब सख्ती की गई तो अब रेत के उत्खनन और परिवहन पर काफी कुछ रोक लग गई। रेत खदानों पर जहां सन्नाटा पसरा हुआ है, वहीं सड़कों पर भी पहले की तरफ रेत से भरे डंपर दौड़ते नहीं दिखाई दे रहे हैं। यह कारोबार तो रुक गया लेकिन अब रेत के दाम बढ़ गए। करीब प्रति ब्रास 800 से 1000 रुपए रेट बढ़ गए हैं। इसका सीधा असर निर्माण कार्यों पर पड़ा है।

पिछले एक सप्ताह से रेत माफिया पर शिकंजा कसा गया। बुदनी एसडीएम वरुण अवस्थी ने कार्रवाई शुरू की और फिर नसरुल्लागंज, रेहटी सहित अन्य जगहों पर भी रेत के वाहनों को पकड़ने की कार्रवाई एक साथ शुरू हो गई। हालत यह हो गई कि तीन दिन में ही रेत माफिया में हड़कंप मच गया। हर रोज जहां दर्जनों के हिसाब से डंपर पकड़े जाने लगे तो धीरे-धीरे इनमें कार्रवाई का डर होने लगा। इसके बाद तो रेत का परिवहन जैसे मानो ठहर सा गया हो।

कुछ दिनों बाद यदि रेत के दाम कम हुए तो फिर निर्माण कार्यों के लिए पानी की किल्लत होगी

एक हजार प्रति ब्रास हुई रेत महंगी

रेत के कारोबार से जुड़े लोगों का कहना है कि इस सख्ती के बाद अब रेत महंगे दामों में मिलने लगी है। एक ट्राली रेत पहले 3 हजार रुपए में मिल जाया करती थी लेकिन अब इसके दाम 4 हजार तक पहुंच गए हैं। यानि प्रति ब्रास 1000 रुपए की बढ़ोतरी मान रहे हैं। इसी तरह एक रेत से भरे डंपर जिसकी करीब 6 ब्रास रेत होती है उसकी कीमत 38 से 40 हजार तक हो गई है जबकि पहले के दाम काफी कम थे। पहले 6 ब्रास का एक डंपर 22 से 25 हजार रुपए में मिल जाया करता था। इस तरह से इस समय काफी दाम बढ़ गए।

रेत से भरे 8 डंपर जब्त

नसरुल्लागंज | पुलिस एवं राजस्व विभाग ने रेत के अवैध डंपरों पर कार्रवाई करते हुए 8 डंपरों को जब्त किया है। यह सभी क्षमता से अधिक रेत लेकर जा रहे थे। एसडीएम केके रावत, एसडीओपी प्रकाश मिश्रा, तहसीलदार पीसी पांडे राजस्व एवं पुलिस अमले ने ग्राम बड़गांव रेत घाट पर कार्रवाई की।

इस तरह रेत का स्टाक किया गया है लेकिन अब यह महंगे दामों में मिल रही है।

क्या कहते हैं ठेकेदार

रेत का कारोबार करने वाले राजू वर्मा और हरी कुशवाह का कहना है कि रेत महंगी हो चुकी है। करीब एक ब्रास के एक हजार रुपए बढ़ गए हैं, इसलिए इसकी डिमांड पर असर पड़ा है। लोग बहुत कम रेत ले रहे हैं। पहले लोग डंपर से रेत ले जाते थे लेकिन अब आधी या पूरी ट्राली रेत ले रहे हैं।

इन कामों पर पड़ेगा असर

इस समय कई शासकीय कार्य चल रहे हैं। इनमें कॉलेज भवन, आवासीय स्कूल भवन, फोरलेन सहित कई जगह चल रहे सीसी निर्माण प्रमुख हैं। इसके अलावा शहर में 35 जगहों पर मकानों का निर्माण कार्य चल रहा है। रेत महंगी होने से यहां पर निर्माण की गति धीमी हुई है। चाणक्यपुरी में मकान बना रहे रोहित शर्मा का कहना है कि रेत महंगी हो गई, इसलिए अभी ठेकेदार से कहा है कि वह जो जरूरी काम हैं उन्हें ही करें। अभी रेत तो ले रहे हैं लेकिन बहुत कम। इसी तरह गंज निवासी दिनेश राठौर का कहना है कि मकान बनाने में पहले ही महंगाई के कारण परेशानी हो रही थी लेकिन अब तो और परेशान होना पड़ेगा। रेत महंगी होने से कुछ दिन के लिए काम रोकना पड़ सकता है।

की जा रही सख्त कार्रवाई

-समीर यादव, एडिशनल एसपी

X
Sehore News - mp news strictly sand by administration one thousand rupees per trolley expensive construction works slow
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना