• Hindi News
  • Mp
  • Sehore
  • Sehore News mp news the pagoda of the city echoed with har har mahadev the influx of devotees the rituals continued till late night

हर-हर महादेव से गूंजे नगर के शिवालय, भक्तों का लगा रहा तांता, देर रात तक चले अनुष्ठान

Sehore News - महाशिवरात्रि पर जिले में सुबह से शाम तक शिवालयों में पूजा अर्चना का दौर चलता रहा। कहीं भोले का श्रृंगार किया गया...

Feb 22, 2020, 09:01 AM IST
Sehore News - mp news the pagoda of the city echoed with har har mahadev the influx of devotees the rituals continued till late night
महाशिवरात्रि पर जिले में सुबह से शाम तक शिवालयों में पूजा अर्चना का दौर चलता रहा। कहीं भोले का श्रृंगार किया गया तो कहीं शाम को शिव बाराज निकाली

आष्टा | नगर के मां पार्वती धाम प्राचीन शंकर मंदिर में अलसुबह से ही शिव भक्तों का तांता लगना शुरू हो गया था। मंदिर के पंडित महंत हेमंत गिरी ने बताया कि महाशिवरात्रि पर्व पर सुबह 5 बजे भस्म आरती व श्रंगार आरती, सुबह 6 बजे पंडितों ने रूद्र अभिषेक इसके पश्चात समस्त भक्तों के द्वारा सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक पूजा अर्चना व शाम 6 बजे भोले नाथ के श्रंगार की तैयारी व मध्य रात्रि 12 बजे महाश्रृंगार, महाआरती व प्रसाद वितरण व रात्रि जागरण कर धर्म लाभ लिया। शंकर मंदिर में दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ इतनी थी कि उन्हें भगवान भोलेनाथ के दर्शन करने के लिए कुछ देर लंबी लाइनों में खड़ा होना पड़ा। वहीं प्राचीन शंकर मंदिर स्थित किले के ऊपर गुफा मंदिर में प्राचीन शिवलिंग के भी दर्शन भी भक्तों ने किए। इसके अलावा नगर के बुधवारा राम मंदिर में स्थित शिवलिंग, संगम में स्थित प्राचीन शिव मंदिर जिनके शिवलिंग पर ब्रहमा, विष्णु व महेश के साक्षात दर्शन होते हैं। वहीं शांति नगर कॉलोनी के सामने कोषालय परिसर में शंकर मंदिर में भक्तों का तांता लगा रहा।

देवबड़ला में उमड़ी भीड़

जावर | महाशिवरात्रि पर स्थानीय शिवालयों के अलावा देवबड़ला देवांचल धाम पर दर्शन करने वाले श्रृद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। देवबड़ला नेवज नदी का उद्गम स्थल है। शिवरात्रि में यहां पर तीन दिवसीय मेले का आयोजन व कथा का आयोजन हुआ। टीआई योगेन्द्र यादव ने बताया कि देवबड़ला धाम पर लगे मेले में किसी प्रकार की अव्यवस्था न हो इसलिए पुलिस के जवानों को तैनात किया गया था।

शिव बारात निकाली : शुजालपुर| शिव भक्त मंडल ने प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी शिवबारात निकाली। बारात का शुभारंभ मंडी स्थित राम मंदिर से सुबह 10 बजे किया। जिसमें विधायक इंदर सिंह परमार व अन्य लोग शामिल थे। बारात में नृत्य करने के लिए मथुरा से कलाकारों को बुलाया गया था। जो बारात का मुख्य आकर्षण रहा। भगवान महाकाल का विशेष श्रृंगार किया गया। विद्यानगर स्थित ब्रह्मकुमारी आश्रम से भी भगवान की बारात निकाली गई। जिसमें आश्रम से जुड़े लोग शामिल हुए। शिव का चल समारोह निकाला गया जिसमें भी बड़ी संख्या में आश्रम से जुड़े लोगों ने भाग लिया। इसी प्रकार अकोदियामंडी में पशुपतिनाथ मंदिर, श्रीराम मंदिर, लक्ष्मीनारायण मंदिर, संजय कालोनी मंदिर के अलावा बालाजी आश्रम श्रंगारपुर,कुम्हारीया खेड़ा में शिवरात्रि में भक्तों की भीड़ रही। महिलाओं ने मंदिर में दिनभर भजन कीर्तन किए। साथ ही भजन मंडलियों द्वारा मंदिर में रातभर कीर्तन का दौर चलता रहा।

मंदिरों में हुआ अभिषेक : इछावर| महाशिवरात्रि पर शिवालयों में अभिषेक, हवन, पूजन का किया गया। नगर के पुराना बस स्टैंड स्थित हनुमान मंदिर में भगवान भोलेनाथ का अभिषेक और श्रृंगार कर आरती की गई। मंडी स्थित कैलाश धाम मंदिर में अभिषेक किया गया। योगेंद्र माहेश्वरी ने बताया कि कैलाश धाम मंदिर में शुक्रवार को मेले का आयोजन किया। वहीं नगर शिव सेना ने हनुमान मंदिर पुरानी तहसील से शिव बारात निकाली। जो कैलाश धाम पहुंचकर महा आरती के बाद समाप्त हुई। इसके अलावा माहेश्वर महादेव मंदिर, पारदीपुरा स्थिति शंकर मंदिर, थाने में स्थित शिव मंदिर में भी अभिषेक, हवन का आयोजन किया गया। इसी प्रकार भाऊखेड़ी में प्राचीन शिवालय में भी अभिषेक व हवन हुआ। यहां पर दिन भर श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही।

नसरुल्लागंज | महाशिवरात्रि का क्षेत्र में शिव परिवार की पूजा-अर्चना कर मनाया गया। नगर के शिवालयों में विशेष पूजन-पाठ के आयोजन सुबह से देर रात तक चलते रहे। इस दौरान क्षेत्र में चल रहे अतिरूद्र महायज्ञ, लक्ष्यचंडी यज्ञ, नव कुण्डात्मक महायज्ञ व विभिन्न याज्ञिक कार्यक्रमों की पूर्णाहुति भी संपन्न हुई। भगवान के दरबार में पहुंचकर दूध, दही, बिल पत्र, धतूरा, नर्मदा जल, शहद, शक्कर से भक्तों ने अभिषेक किया और इस सृष्टि की सुख समृद्धि के लिए कामना की। क्षेत्र के नीलकंठ, छीपानेर, सातदेव, सीलकंठ, मंडी तट पर भी भक्तों की भीड़ भारी तादाद में पहुंची और नर्मदा स्नान कर भगवान भोले के दर्शनों का लाभ लिया। भगवान भोले के महा पर्व पर श्रद्धालुओं ने नर्मदा स्नान कर पुण्य लाभ कमाया। नगर के पतालेश्वर मंदिर सुदामापुरी में शिव पार्थेश्वर निर्माण एवं महारुद्र अभिषेक का आयोजन किया किया गया। मिट्टी के पार्थेश्वर भगवान का निर्माण कर 25 जोड़ों के द्वारा पूजा अर्चना की गई।

शुजालपुर में निकाली शिव बारात में मथुरा से आए कलाकारों ने दी नृत्य की प्रस्तुति


रुद्रधाम आश्रम में चल रहा है पार्थिव शिवलिंग का निर्माण

रमगढ़ा| श्री रुद्रधाम आश्रम में चल रहे नवकुंडात्मक 20वां श्रीशिवशक्ति महायज्ञ में महाशिवरात्रि पर्व बड़ी संख्या में श्रद्धालु भगवान शिव के दर्शन के लिए पहुंचे। भोलेनाथ के शिवलिंग के दर्शन कर दूध, जल से उनका अभिषेक किया। महायज्ञ में प्रतिदिन वैदिक मंत्रों से हवन, पूजन और सवा 11 लाख पार्थिव शिवलिंगों को निर्माण ब्राह्मणों द्वारा किया जा रहा है। श्रद्धालुओं की भीड़ के कारण बुधनी संदलपुर हाईवे कई बार जाम की स्थिति बनी।

Sehore News - mp news the pagoda of the city echoed with har har mahadev the influx of devotees the rituals continued till late night
X
Sehore News - mp news the pagoda of the city echoed with har har mahadev the influx of devotees the rituals continued till late night
Sehore News - mp news the pagoda of the city echoed with har har mahadev the influx of devotees the rituals continued till late night

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना