इस साल भी भब्बड़ नदी की बाढ़ से निपटने के प्रशासन ने नहीं किए अभी तक इंतजाम

Sehore News - बारिश आने के पूर्व नगर परिषद ने बरसात के पानी से निपटने की तैयारी की ओर ध्यान नहीं दे रही है। जिस स्थानों से बारिश...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 09:00 AM IST
Rehati News - mp news this year too the administration has not yet arranged to tackle the flood of bhabad river
बारिश आने के पूर्व नगर परिषद ने बरसात के पानी से निपटने की तैयारी की ओर ध्यान नहीं दे रही है। जिस स्थानों से बारिश का पानी घुसता है वहां पर भी साफ-सफाई की व्यवस्था नहीं हुई है। दूसरी तरफ नगर की भब्बड़ नदी की सफाई भी प्रशासन ने नहीं कराई है। इसी नदी की सफाई नहीं होने के कारण नगर में बार-बार बाढ़ के हालात बनते हैं और कई घरों में पानी घुस जाता है।

रेहटी नगर के बाहर भब्बड़ नदी की सफाई और गहरीकरण व्यवस्थित तरीके से हो जाए तो नगर में बाढ़ की समस्या समाप्त हो जाएगी, लेकिन इस समस्या से निपटने के लिए प्रशासन कागजी तैयारी कर लेता है। जमीनी स्तर पर कोई तैयारी नहीं की जाती है। यह समस्या कई वर्षों से जस की तस बनी है। अब भी बरसात आने में अधिक समय नहीं बचा है, लेकिन प्रशासन ने बाढ़ से निपटने के लिए भब्बड़ नदी में साफ-सफाई या पानी निकासी की कोई व्यवस्था नहीं की है। ऐसे में बरसात आने पर बाढ़ के हालात निर्मित होंगे। इससे लोगों को नुकसान उठाना पड़ेगा। वर्षों से यही क्रम चला आ रहा है, लेकिन प्रशासन भब्बड़ बाढ़ की समस्या का स्थायी हल नहीं कर रहा है। इटावा से रेहटी तक 2 किमी क्षेत्र में भब्बड़ नदी का गहरीकरण और सफाई कर दी जाए तो बाढ़ के हालात नगर में नही बनेंगे, लेकिन इस ओर प्रशासन ध्यान नही दे रहा। प्रतिवर्ष नगर में बाढ़ का पानी घुसती है और लाखों का नुकसान नगर में होता है। नगर के जो वार्ड बाढ़ से प्रभावित होते हैं उनमें वार्ड 13 और 15 शामिल है। इन वार्डों में ही भब्बड़ नदी का पानी प्रभावित करता है।

हनुमान चौक तक आ जाता है पानी

लगातार 5 या 6 घंटे बारिश होने पर ही नगर की भब्बड़ नदी में पानी ओवर फ्लो हो जाता है। यह पानी नगर के हनुमान चौक तक आ जाता है। जिससे लोगों को काफी मशक्कत का सामना करना पड़ता है। लोगों के घरों तक में पानी आ जाता है। स्कूली बच्चों को स्कूल जाने में समस्या हो जाती है।

सालों से बनते आ रहे हैं हालत : यह हालात कई सालों से बने हुए हैं, लेकिन अभी तक इस समस्या का कोई समाधान नहीं निकल पाया है। नगर परिषद को चाहिए कि वह पुरानी समस्याओं से सबक लेकर भब्बड़ नहीं में आने वाली बाढ़ से निपटने के लिए कोई ठोस कदम उठाए।

हर साल लोगों के घरों में बारिश का पानी घुसने से सामान खराब हो जाता है

दशहरा मैदान हो जाता पानी से लबरेज

वर्तमान में दशहरा मैदान की जमीन खेल मैदान के अधीनस्थ है। यहां खेल विभाग ने नगर की खेल समस्या दूर करने के लिए स्टेडियम, घास, जिम आदि बनाया है। बारिश में भब्बड़ नदी का पानी यहां तक आ जाने से यहां कीचड़ हो जाता है। जिससे यहां खर्च किया गया लाखों रुपए बर्बाद हो जाता है।

व्यवस्था कर रहे हैं


X
Rehati News - mp news this year too the administration has not yet arranged to tackle the flood of bhabad river
COMMENT