--Advertisement--

महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए रेलवे का पैसेंजर एप

Sehore News - अब ट्रेन में सफर करने वाली महिलाओं और युवतियों को सुरक्षा की चिंता करने की जरूरत नहीं है। क्योंकि महिला रेल...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 04:46 AM IST
Sehore News - passenger ape of railway for the safety of women passengers
अब ट्रेन में सफर करने वाली महिलाओं और युवतियों को सुरक्षा की चिंता करने की जरूरत नहीं है। क्योंकि महिला रेल यात्रियों की सुरक्षा से जुड़ा एक एप रेलवे जल्द शुरू करने जा रहा है।

महिला यात्रियों को सिर्फ पैसेंजर मोबाइल एप डाउनलोड करना होगा। यदि महिला से कोई दुर्व्यवहार की कोशिश करता है, तो उसे एप में सिर्फ हेल्प ऑप्शन को दबाना होगा। फिर एप की मदद से आटोमैटिक एक छोटा वीडियो बनकर कंट्रोल रूम पहुंच जाएगा, जिसकी किसी को भनक तक नहीं लगेगी।

एप के हेल्प बटन को दबाते ही नजदीकी जीआरपी और आरपीएफ कंट्रोल रूम में एसएमएस के जरिए लोकेशन तथा ट्रेन की जानकारी पहुंच जाएगी। इस एप की विशेषता यह है कि हेल्प ऑप्शन दबने के साथ ही 30 सैकंड का वीडियो आटोमैटिक बनकर कंट्रोल रूम चला जाएगा।

महिला रेल यात्री को अलग से वीडियो बनाने की जरूरत नहीं होगी। महिला के अलर्ट भेजने के साथ ही कंट्रोल रूम पास के आरपीएफ, जीआरपी चौकी या थाना जो भी नजदीक होगा, उसे संदेश भेजेगा। यदि ट्रेन में आरपीएफ या जीआरपी का दस्ता सफर कर रहा है तो संदेश उनके पास चला जाएगा। इससे जवान तुरंत महिला की मदद कर सकेंगे।

रेलवे के इस प्रयास से महिला यात्रियों को सुरक्षा की दृष्टि से सुविधा मिलेगी।

सफर में इंटरनेट भी समस्या नहीं बनेगा

यदि सफर के दौरान इंटरनेट की समस्या है तो भी रिकॉर्ड हो चुका वीडियो इंटरनेट आने पर कंट्रोल रूम स्वत: पहुंच जाएगा। मोबाइल एप एक निजी सॉफ्टवेयर कंपनी से ट्रेन में अकेली महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए तैयार कराया गया है। वर्तमान में पुणे रेल मंडल की ट्रेनों में यह ट्रॉयल बेस पर है। मध्य प्रदेश राज्य में रेलवे के सभी 16 जोन में जनवरी से यह एप शुरू हो जाएगा। इससे महिला यात्रियों को खासी राहत मिलेगी।

एप शुरू होने से यह मिलेगी सुविधा




X
Sehore News - passenger ape of railway for the safety of women passengers
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..