• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sehore
  • Sehore - कोर्ट ने टिप्पणी में लिखा- समाज में ऐसा संदेश जाना
--Advertisement--

कोर्ट ने टिप्पणी में लिखा- समाज में ऐसा संदेश जाना

कोर्ट ने टिप्पणी में लिखा- समाज में ऐसा संदेश जाना चाहिए कि कोई व्यक्ति जिसने अपराध किया है कानून से बच नहीं सकता ...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 05:15 AM IST
Sehore - कोर्ट ने टिप्पणी में लिखा- समाज में ऐसा संदेश जाना
कोर्ट ने टिप्पणी में लिखा- समाज में ऐसा संदेश जाना चाहिए कि कोई व्यक्ति जिसने अपराध किया है कानून से बच नहीं सकता

सीहोर | किशोरी को बहला-फुसलाकर जबरन घर से भगा ले जाने और उसके साथ ज्यादती करने वाले 28 वर्षीय आरोपी को न्यायालय ने आजीवन कारावास तथा शेष प्राकृत जीवनकार के लिए कारावास की सजा सुनाई। मामले में शासन की ओर से पैरवी जिला अभियोजन अधिकारी निर्मला सिंह चौधरी ने की। न्यायालय ने टिप्पणी करते हुए लिखा कि दण्ड का आशय केवल आरोपी को दंडित किया जाना नहीं है, बल्कि समाज में एक ऐसा संदेश जाना चाहिए कि कोई भी व्यक्ति जिसने अपराध किया है वह कानून से बच नहीं सकता।

डीपीओ सुश्री चौधरी ने बताया कि 12 जुलाई 2017 को जब घर में कोई नहीं था कि तो दोपहर में इछावर निवासी एक नाबालिग घर में बिना किसी को बताए कहीं चली गई। इसके बात उसके पिता ने इछावर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। बाद में पता चला कि उसके पिकअप वाहन का चालक सोनू वर्मा भी गायब है। जांच में पुलिस ने पाया कि आरोपी सोहन उर्फ सोनू वर्मा पुत्र रामचरण निवासी नीमपुरा तहसील इछावर किशोरी की मर्जी के बिना शादी करने के लिए जबरन साथ ले गया। जब किशोरी ने इसका विरोध किया तो आरोपी सोनू ने उसका मुंह दबा दिया और बस में बैठाकर सीहोर ले गया। यहां से वह इंदौर गया और वहां से किशोरी को लेकर बड़ौदा चला गया। वहां एक झुग्गी में 4-5 दिन तक उसे रखा और उसके साथ ज्यादती की। मुखबिर की सूचना के बाद पुलिस ने किशोरी को आरोपी के चंगुल से मुक्त कराया था। द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश नवीन कुमार शर्मा ने आरोपी सोहन उर्फ सोनू को ज्यादती और पास्को एक्ट का दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई है।

X
Sehore - कोर्ट ने टिप्पणी में लिखा- समाज में ऐसा संदेश जाना
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..