--Advertisement--

सीवन नदी को संवारने में कर रहे अनदेखी फव्वारे नहीं लगे, फुटपाथ भी अधूरा छोड़ा

Sehore News - सीवन नदी का सौंदर्यीकरण नहीं हाेने से घूमने जाने वाले लाेगाें काे अन्य स्थानाें पर जाना पड़ता है भास्कर...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 04:45 AM IST
Sehore News - unaware fountains are being done to clean the river sivan the pavement is left unfinished
सीवन नदी का सौंदर्यीकरण नहीं हाेने से घूमने जाने वाले लाेगाें काे अन्य स्थानाें पर जाना पड़ता है

भास्कर संवाददाता | सीहोर

सीवन नदी को संवारने के लिए नगर पालिका ने एक साल पहले प्लान तैयार किया था। नदी के सौंदर्यीकरण के लिए दोनों तरफ जाली, फव्वारे और फुटपाथ बनाने का काम शुरु किया गया था। इस दौरान पुरुष घाट के पास ही करीब 500 मीटर रोड बनाई गई। इसके बाद काम बंद कर दिया गया।

शहर को सुंदर बनाने के साथ ही सीवन नदी को संवारने के लिए नगर पालिका ने पिछले साल एक प्लान तैयार किया था। इस प्लान में नदी के दोनों तरफ फुटपाथ बनाया जाना था। इसके साथ ही नदी के गहरीकरण और नियमित सफाई के साथ ही शहरी क्षेत्र में दोनों तरफ फव्वारे लगाने का प्लान बनाया था। वहीं फुटपाथ और फव्वारे लगाने के बाद कोई अनहोनी घटना न हो इसके लिए दोनों किनारे पर जाली लगाने की भी नगर पालिका की मंशा थी लेकिन अब यह प्लान फाइलों में बंद हो चुका है। शुरुआती दिनों में जरूर इस पर काम हुआ था। कुछ हिस्सों में फुटपाथ बनाकर नगर पालिका ने काम बंद कर दिया। इससे सीवन के सौंदर्यीकरण का काम अभी भी अधूरा है।

सुबह, शाम मॉर्निंग वॉक के लिए थी सुविधा

सीवन नदी के किनारे फुटपाथ बनाकर लोगों को घूमने के लिए व्यवस्था बनाई जाना थी। अब लोगों को घूमने के लिए अन्य स्थानों पर जाना पड़ता है। सीवन के किनारे रास्ता नहीं होने के कारण लोग शहर छोड़कर इंदौर-भोपाल हाइवे के अलावा अन्य क्षेत्रों में सुबह शाम भ्रमण करने के लिए जाते हैं।

लोगों को मिल सकता है स्वरोजगार रोजगार

सीवन नदी के किनारे फुटपाथ और सौंदर्यीकरण के बाद यहां पर लोग शाम के समय घूमने के लिए पहुंचते। यहां पर फुटपाथ पर चलित बाजार भी विकसित हो सकता था। इससे लोगों को भी स्वरोजगार मिलता। इस संबंध में चाट सेंटर संचालक राजू कुशवाह ने बताया कि सीवन नदी का सौंदर्यीकरण और उसकी सफाई हो जाती है। साथ ही फुटपाथ बनने के बाद यदि लोग भ्रमण के लिए जाते तो वहां पर छोटे लोगों को स्वरोजगार भी मिल सकता है।

सीवन किनारे चाट सेंटर, फ्रूट, ज्यूस कार्नर, चाय स्टॉल सहित अन्य चलित दुकानें लग सकती है। इससे लोगों को भी स्वरोजगार मिल सकता है और नपा को अामदानी हो सकती है।

शुरुआत में इस पर काम हुआ, कुछ हिस्सों में फुटपाथ बनाकर नपा ने काम बंद किया

इन क्षेत्रों में विकसित करना था फुटपाथ

सीवन नदी के पुरूष और महिला घाट, बडिय़ाखेड़ी क्षेत्र बकरी पुल, भूतेश्वर मंदिर सहित अन्य स्थानों पर फुटपाथ बनाकर फव्वारे लगाने का प्लान बनाया गया था। फुटपाथ बनने के बाद लोगों को पैदल आवागमन में भी काफी सुविधा मिलती। वहीं भूतेश्वर मंदिर इंदौर नाका क्षेत्र में अभी शुगर फैक्ट्री और बकरी मुख्य मेन रोड से घूमकर जाना पड़ता है। ऐसे पैदल आवागमन करने वाले लोगों के लिए यह फुटपाथ कारगर साबित होता।

प्लान बना हुआ है, सौंदर्यीकरण होगा


X
Sehore News - unaware fountains are being done to clean the river sivan the pavement is left unfinished
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..