• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Shajapur
  • Shajapur - जिला अस्पताल में 80 % मरीज वायरल व मलेरिया के, भीड़ इतनी कि 16 पलंग पर भर्ती किए 32 बच्चे
--Advertisement--

जिला अस्पताल में 80 % मरीज वायरल व मलेरिया के, भीड़ इतनी कि 16 पलंग पर भर्ती किए 32 बच्चे

मुख्यालय से करीब 40 ग्राम मंगलाज में डेंगू के दो संदिग्ध मरीज भी सामने आए हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग के पास एक ही...

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2018, 05:05 AM IST
Shajapur - जिला अस्पताल में 80 % मरीज वायरल व मलेरिया के, भीड़ इतनी कि 16 पलंग पर भर्ती किए 32 बच्चे
मुख्यालय से करीब 40 ग्राम मंगलाज में डेंगू के दो संदिग्ध मरीज भी सामने आए हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग के पास एक ही मरीज की सूचना है। सामान्य बुखार सहित वायरल के मरीजों की जांच कर उनकी स्लाइड बनाना भी शुरू कर दिया गया है।

मंगलाज निवासी प्रेमबाई पति बद्रीप्रसाद (55) को 15-20 दिन पहले बुखार आया। उन्होंने दवाई ली। बाद में सारंगपुर, शाजापुर और उज्जैन में इलाज कराया। उज्जैन में उपचार के दौरान डेंगू के लक्षण दिखे। उन्हें इंदौर रैफर कर दिया गया। यहां भी कुछ जांचों में डेंगू होने की पुष्टि हुई है। हालांकि डॉक्टर अधिकृत रूप से अब तक उन्हें डेंगू का मरीज घोषित नहीं कर पा रहे हैं। संदिग्ध होने की सूचना ने ही जिले के स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मचा दिया।

दूसरे मरीज का पता ही नहीं

प्रेमबाई के अलावा गांव में एक और महिला में डेंगू के लक्षण दिखाई दिए हैं। 40 वर्षीय महिला को परिजन ने इंदौर के गोकुलदास अस्पताल में भर्ती करा दिया है। स्वास्थ्य विभाग के पास सूचना नहीं है। इधर, प्रेम बाई को एमवाय में भर्ती किए 5 दिन हो चुके हैं। उनके देवर हरिनारायण मीणा ने बताया उन्हें पीलिया, पथरी, अटैक ने भी घेर लिया था। हालात नाजुक हो गई थी। अब सुधार होने लगा है।

जिला अस्पताल के हालात यह हैं कि एक वार्ड में 16 पलंग पर 32 बच्चों को भर्ती कर उपचार दिया जा रहा है।

जिले में टेंशन बढ़ने के दो कारण आए सामने

रोज 500 से ज्यादा मरीज, सुधार में लग रहा ज्यादा वक्त

8-10 दिन में स्वस्थ हो रहे मरीज

स्वास्थ्य विशेषज्ञों की माने तो सामान्यतः बुखार या वायरल फीवर उपचार कराने के बाद 3 दिन में आदमी स्वस्थ हो जाता है। लेकिन इस बार उपचार के बाद भी पीड़ितों को स्वस्थ होने में 8-10 दिन का समय लग रहा है। यानी जो मौसम चल रहा है वह वायरल के अनुकूल है। इस कारण वायरल अभी ज्यादा सक्रिय होने के साथ ही ताकतवर भी है।

तेजी से बढ़े वायरल और मलेरिया के मरीज

जिला अस्पताल के डॉ. आलोक सक्सेना ने बताया 75-80 प्रतिशत मरीज वायरल और मलेरिया के ही पेशेंट होते हंै। सक्सेना ने बताया डेंगू या मलेरिया के लक्षण वाले सभी मरीजों का स्लाइड भी बनवाई जा रही है। सीएमएचओ डॉ. जी.एस. सोढ़ी ने बताया डेंगू के एक संदिग्ध मरीज की सूचना मिलने पर अलर्ट कर दिया गया है। डेंगू के संदिग्ध मरीज की सूचना मिलते ही जिला मलेरिया अधिकारी आर.एस. जाटव टीम के साथ गांव पहुंचे।

अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या भी बढ़ती जा रही

दिनांक मरीज भर्ती

02 सितंबर 183 78

03 सितंबर 164 75

04 सितंबर 682 81

05 सितंबर 768 110

06 सितंबर 539 77

07 सितंबर 668 103

08 सितंबर 543 99

X
Shajapur - जिला अस्पताल में 80 % मरीज वायरल व मलेरिया के, भीड़ इतनी कि 16 पलंग पर भर्ती किए 32 बच्चे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..