• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Shajapur
  • जादमी बैराज को वित्तीय स्वीकृति, 6 हायर सेकंडरी स्कूलों के भवन और दो सड़कों के लिए भी राशि मंजूर
--Advertisement--

जादमी बैराज को वित्तीय स्वीकृति, 6 हायर सेकंडरी स्कूलों के भवन और दो सड़कों के लिए भी राशि मंजूर

करीब 20 करोड़ से ज्यादा की स्वीकृति मिली भास्कर संवाददाता | शाजापुर मध्यप्रदेश के बजट में इस बार शाजापुर...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 05:20 AM IST
करीब 20 करोड़ से ज्यादा की स्वीकृति मिली

भास्कर संवाददाता | शाजापुर

मध्यप्रदेश के बजट में इस बार शाजापुर शहरवासियों की पेयजल समस्या का निपटारा कराने के लिए जादमी के पास लखुंदर नदी पर बैराज बनाने के लिए वित्त मंत्री जयंत मलैया ने बुधवार को बजट में मंजूरी दे दी। इस बैराज का पानी चीलर डेम तक पहुंचाने के लिए भी अब प्लान बनकर तैयार हो चुका है। जिसे संभवत: अगली बार स्वीकृत मिल जाएगी।

बता दें अल्पवर्षा की स्थिति में चीलर डेम के खाली रह जाने की स्थिति में शहरवासियों के सामने पेयजल संकट खड़ा हो जाता है। इसी को ध्यान में रखते हुए पिछले तीन साल से विधायक अरुण भीमावद ने मंगल कलश यात्रा शुरू कर जिले के आमजन को इसमें शामिल किया। यात्रा शाजापुर से नैनावद तक निकालकर सीएम को अवगत कराया। इसी को ध्यान में रखते हुए डीपीआर तैयार की गई। दो हिस्से में बनी डीपीआर में पहली डीपीआर नदी पर बैराज बनाने की थी। जिसे गत दिनों प्रशासनिक स्वीकृति मिली। बुधवार को उसे वित्तीय स्वीकृति भी मिल गई। अब दूसरे हिस्से में उक्त बैराज का पानी डेम में लाने के लिए अलग से पाइप लाइन आदि की योजना बनी है। जिसे अगले पार्ट में शामिल किया जाएगा।

बजट में शाजापुर को मिला

6 स्कूल भवनों के लिए भी मंजूरी मिली

इतना ही नहीं इस बार बजट में शाजापुर विधानसभा के 6 हायर सेकंडरी स्कूलों का भवन बनाने के लिए वित्त मंत्री ने मंजूरी देते हुए बजट में शामिल कर लिया। इससे जिले के मक्सी, झोंकर, बेरछा, लाहोरी, बर्डियासोन, दुपाड़ा में संचालित हो रहे स्कूलों के भवन बनकर तैयार हो जाएंगे। प्रत्येक स्कूल भवन की लागत एक करोड़ से ज्यादा रहेगी।

छतगांव से टुकराना व रुलकी से सामगी बोर्डी मार्ग के लिए मंजूरी

बजट में छतगांव से टुकराना मार्ग व रुलकी से सामगी बोर्डी मार्ग के लिए भी 7 करोड़ रुपए मंजूर किए हैं। इससे ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की कनेक्टिविटी बढ़ जाएगी। भावांतर भुगतान योजना के लिए भी बजट में 3 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान कर किसानों को लाभ पहुंचाया गया है।

जल्द शुरू होंगे निर्माण कार्य