--Advertisement--

निजी कंपनी के सॉफ्टवेयर से काम नहीं कराने की मांग

निजी कंपनी के सॉफ्टवेयर से काम नहीं कराने की मांग शाजापुर | शासकीय सॉफ्टवेयर एनआईसी के बजाए निजी कंपनी के...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 05:25 AM IST
निजी कंपनी के सॉफ्टवेयर से काम नहीं कराने की मांग

शाजापुर
| शासकीय सॉफ्टवेयर एनआईसी के बजाए निजी कंपनी के सॉफ्टवेयर के माध्यम से जिले की जमीन का रिकॉर्ड अपडेट करने की बाध्यता को लेकर गुरुवार को पटवारी संघ ने कलेक्टर के नाम ज्ञापन एडीएम मीनाक्षी सिंह को सौंपा। पटवारियों का कहाना है वेब जीआईएस निजी कंपनी का साफ्टवेयर होने के कारण गड़बड़ी होने की आशंका बढ़ जाएगी। पटवारी संघ जिलाध्यक्ष दिनेश अहिरवार, ललित कुंभकार सहित जिलेभर के पटवारी मौजूद थे।





कंपनी कर्मचारियों द्वारा की जाने वाली गड़बड़ी का खामियाजा पटवारी और तहसीलदारों को भुगतना पड़ेगा। कई विकल्प निजी कंपनी के सॉफ्टवेयर में दर्ज नहीं होने के कारण रिकार्ड अपडेट करने में भी परेशानी आएगी। एडीएम सिंह ने पटवारियों को आश्वासन दिया है। पटवारी संघ जिलाध्यक्ष दिनेश अहिरवार, ललित कुंभकार सहित जिलेभर के पटवारी मौजूद थे। ज्ञात रहे इससे पहले भी शासन स्तर से आए निजी सॉफ्टवेयर के उपयोग को लेकर जिले में विरोध हुआ था। इसके बाद निजी सॉफ्टवेयर के उपयोग को बंद करा दिया गया था। अब फिर राजस्व अधिकारियों पर इसका दबाव डाला जा रहा है।

फोटो: 01एस- 46 शाजापुर. एडीएम मीनाक्षी सिंह को ज्ञापन सौंपते पटवारी संघ पदाधिकारी।