--Advertisement--

डिपो की दीवार से 6 फीट तक ठेले लगा सकेंगे व्यापारी, बसों के लिए भी स्थान तय

Shajapur News - ट्रैफिक पाइंट के पास डिपो परिसर के सामने से शुक्रवार को अस्थाई अतिक्रमण हटाने के बाद शनिवार को नगर पालिका ने चूने...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 04:50 AM IST
Shajapur News - depot can be deployed for 6 feet by the wall of the depot and also for the buses
ट्रैफिक पाइंट के पास डिपो परिसर के सामने से शुक्रवार को अस्थाई अतिक्रमण हटाने के बाद शनिवार को नगर पालिका ने चूने की लाइन डाल दी। डिपो परिसर की दीवार से 6 फीट दूर चूने की लाइन डालकर यहां अस्थाई हाथठेलों को खड़ा करने के लिए स्थान सुरक्षित कर दिया गया है। ताकि वे इस लाइन से बाहर अपना सामान नहीं रख सके। बसों को खड़ा करने के लिए भी यहां डिपो परिसर के गेट के समीप ही स्थान बना दिया गया है। इन बसों को सड़कों पर खड़ा होने की जरूरत न पड़े।

ट्रैफिक पाइंट के समीप से मूलीखेड़ा रोड तक हाईवे पर व्यापारियों ने अस्थाई दुकानें लगाकर हाईवे तक सामान फैला लिया था। नपा ने शुक्रवार शाम 4 घंटे तक कार्रवाई करते हुए यहां के स्थाई अतिक्रमण के लिए रखी गई गुमटियां और स्टैंड जब्त कर लिए। सड़क के पास दूर-दूर तक लगी दुकानों के सामान भी हटा दिए। पुलिस बल की मौजूदगी में हुई कार्रवाई के दौरान यहां के छोटे हाथ ठेला व्यापारियों ने विरोध जताया। व्यापारियों को आर्थिक नुकसान न उठाना पड़े इसके लिए नपाधिकारी भूपेंद्र कुमार दीक्षित ने व्यवस्था बनाने के लिए उन्हें हाथ ठेला खड़े करने के लिए स्थान सुरक्षित करने का आश्वासन दिया। शनिवार को नपा ने डिपो परिसर के लिए बनी दीवार से 6 फीट दूर तक चूने की लाइन डाल दी। इस लाइन के अंदर हाथ ठेला व्यापारियों को ठेले खड़े करने की छूट दे दी गई। इससे आगे किसी को भी सामान नहीं फैलाने की चेतावनी भी दी गई है।

नगर पालिका ने हाईवे की सड़क को छुड़वाकर ठेलों के लिए जगह बनाई

बसों के खड़े करने के लिए भी हाईवे के साइड में ऐसे स्थान तय कर दिया गया है।

टंकी चौराहे तक कार्रवाई की जरूरत

गौरतलब है कि जनपद पंचायत परिसर से लेकर टंकी चौराहे के बीच में पिछले साल हटाया गया अतिक्रमण फिर वैसा ही फैल गया है। इस तरफ किसी भी जिम्मेदार ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया। हाईवे तक ही व्यापारियों ने दुकानों का सामान फैला रखा है। इससे बार-बार जाम लगता है।

11 दिसंबर के बाद करेंगे कार्रवाई


हाईवे पर कम हुआ दुर्घटना का खतरा

हाईवे से गुजरने वाली बसें जो बस स्टैंड के अंदर नहीं जाती है, उन्हें खड़ा करने के लिए अब तक कोई स्थान नहीं था। इस कारण ये बसें ऐसे ही हाईवे पर खड़ी हो जाती थी। साइड में दुकानें होने के कारण बसों को वहां जगह नहीं मिल पाती। ऐसे में हाईवे पर ही बसों को खड़ा करना पड़ता था। ऐसे में हमेशा दुर्घटना का खतरा बना रहता। लेकिन अतिक्रमण हटाने के बाद इन बसों को खड़ा करने के लिए भी सड़क के साइड में स्थान तय कर दिया गया है। चूने की लाइन और स्टापर लगाकर इस स्थान चिह्नित कर दिया गया है। अब डायरेक्ट निकलने वाली बसें यहां खड़ी होकर यहां की सवारियों को बैठाने और उतारने लगी है।

X
Shajapur News - depot can be deployed for 6 feet by the wall of the depot and also for the buses
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..