Hindi News »Madhya Pradesh »Shajapur» 58 मिनट में 12 बार बोले- क्या कांग्रेस ऐसा कर पाती

58 मिनट में 12 बार बोले- क्या कांग्रेस ऐसा कर पाती

किसान सम्मेलन में शामिल होने आए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान इस बार पूरी तरह से चुनावी मूड में थे। करीब सवा 1 बजे...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 04:45 AM IST

58 मिनट में 12 बार बोले- क्या कांग्रेस ऐसा कर पाती
किसान सम्मेलन में शामिल होने आए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान इस बार पूरी तरह से चुनावी मूड में थे। करीब सवा 1 बजे से संबोधित करने पहुंचे सीएम लगातार 58 मिनट तक बोलते रहे। इस दौरान उन्होंने अपनी हर योजना की तुलना कांग्रेस की सरकारों से की। उन्होंने कहा कांग्रेस के समय किसानों को प्राकृतिक आपदा पर ढाई हजार रुपए प्रति हेक्टेयर मिलता था। मैंने इसे 15 हजार रुपए किया। अब इसे 30 हजार रुपए कर रहा हूं। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार होती तो क्या ऐसा हो पाता? यही प्रश्न सीएम ने अपनी अलग-अलग योजनाओं की उपलब्धि बताते हुए करीब 12 बार पूछा।

करीब 20 मिनट लेट (12.40 बजे) आए मुख्यमंत्री तय समय (20.30 बजे) से पहले 2 बजे रवाना हो गए। वे आते ही मंच पर पहुंचे और कार्यक्रम को जल्दी निपटाने का हवाला देते हुए प्रभारी मंत्री दीपक जोशी और शाजापुर विधायक अरुण भीमावद को स्वागत भाषण पर बुलाया। इसके बाद खुद संबोधित किया। खास बात यह रही कि पूरे कार्यक्रम के दौरान सीएम ने एक बार भी प्रधानमंत्री मोदी का नाम नहीं लिया।

नंबर नोट करिए- अफसर न सुनें तो सीएम हाउस फोन करें

सीएम ने कहा किसानों व आमजनों को कोई परेशानी नहीं होगी। अफसर आपकी बात नहीं सुनते हैं, तो सीधे सीएम हाउस पर बनाए गए कंट्रोल रूम पर फोन लगाएं। रात 11 बजे तक वहां अधिकारी तैनात रहेंगे। उन्होंने कंट्रोल रूम के नंबर 0755-2540500 भी नोट कराए। जरूरत पड़ी तो इन नंबरों पर मैं खुद भी आपकी बात सुनूंगा।

किसान पुत्रों को उद्यमी बनाएंगे

मुख्यमंत्री ने कहा युवा कृषक उद्यमी योजना शुरू की है। इसमें किसानों के बेटे-बेटियों को उद्योग लगाने के लिए 50 हजार से लेकर दो करोड़ रुपए तक का लोन देंगे। इसकी गारंटी राज्य सरकार लेगी। इस वर्ष प्रत्येक विकासखंड के 100-100 युवाओं को लाभ देने की योजना है।

डिफाल्टर किसानों का चक्रवर्ती ब्याज सरकार देगी, आप आधा मूल दे दें : सीएम

सभा में बड़ी संख्या में महिलाएं भी मौजूद रहीं। मुख्यमंत्री ने आते ही संबोधित करना शुरू कर दिया और वक्त से पहले कार्यक्रम खत्म हुआ।

प्रदेश के 10 लाख से ज्यादा किसानों के खातों में पहुंची पिछले साल की राशि

सभा के बाद सीएम ने पिछले साल समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने वाले 10.21 लाख किसानों खाते में 1669 करोड़ रुपए बटन दबाते ही आॅनलाइन किसानों के खाते में जमा करा दिए। कार्यक्रम में शाजापुर सहित 8 जिले के 30 हजार से ज्यादा किसान शामिल हुए। स्वागत भाषण प्रभारी मंत्री दीपक जोशी और विधायक अरुण भीमावद ने किया। आभार कलेक्टर श्रीकांत बनोठ ने माना।

साउंड सिस्टम गिरा, एक घायल

सभा से पहले ही दोपहर करीब 12.15 बजे तेज हवा के कारण डोम के समीप लगाया गया टेंट उड़ने लगा। हालांकि पोल लोगों ने पकड़ लिए। इस कारण फिर यह गिरने से बच गया। हालांकि इसी बीच समीप लगा साउंड सिस्टम गिरने से कचरूलाल पिता बापूलाल पुरी (65) निवासी राणोगंज शुजालपुर घायल हो गया। ताबड़तोड़ उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

3 घंटे तक हाईवे पर बिगड़ी रही व्यवस्था, 7 वाहन टकराए

शाजापुर सहित प्रदेश के 8 जिलों के किसानों को लेकर पहुंची 3 हजार बसों की पार्किंग के लिए पुलिस और जिला प्रशासन ने तीन दिन पहले से तैयारी कर ली थी, लेकिन बस चालकों ने व्यवस्था बिगाड़ दी। सभा शुरू होने के 1 घंटे पहले से पुलिस ने मक्सी से आने वाले वाहनों को उज्जैन की ओर डायवर्ट कर दिया। इसके बाद बसें आना शुरू हुई। 13 स्थानों पर तय पार्किंग छोड़ कई बसें इधर-उधर ही खड़ी हो गईं। यह देख ट्रैफकि प्रभारी पीके व्यास ने टीम के साथ लालघाटी से टंकी चौराहे तक लगे जाम को मशक्कत के बाद सुचारु कराया। इस दौरान कई वाहन चालक टकराते रहे। तीन घंटे तक यातायात गड़बड़ाता रहा।

मुख्यमंत्री ने यह घोषणाएं भी की

राजस्व प्रकरणों के निराकरण के लिए चलाए गए विशेष अभियान में 3 माह में 14 लाख नामांतरण बंटवारे के प्रकरण निपटाए। अब नामांतरण के आदेश के बाद खसरा और नक्शे की नकल की कॉपी संबंधित किसान को नि:शुल्क दी जाएगी। तब ही प्रकरण समाप्त माना जाएगा।

खराब ट्रांसफार्मर बदलने के लिए यदि किसान लाते हैं तो विद्युत कंपनी इसका किराया देगी। यदि वह 3 माह में खराब हो जाएगा, तो बिना बकाया राशि लिए उसे फिर बदला जाएगा।

डिफाल्टर किसानों का चक्रवती ब्याज सरकार भरेगी। वे सिर्फ मूलधन की राशि का अाधा ही जमा करा देंगे तो उन्हें भी शून्य प्रतिशत ब्याज पर लोन मिल पाएगा।

विभिन्न निर्माणों का लोकार्पण

सीएम ने शाजापुर जिले के करीब 2500 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण और 57 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास किया। इस दौरान 1 लाख 13 हजार किसानों को भू-अधिकार पुस्तिका देने की शुरुआत भी की।

ये भी थे मौजूद- सांसद मनोहर ऊंटवाल, विधायक जसवंत सिंह हाड़ा, इंदरसिंह परमार, मुरलीधर पाटीदार, गोपाल परमार, राज्य कृषि आयोग अध्यक्ष ईश्वरलाल पाटीदार, ऊर्जा विकास निगम अध्यक्ष विजेंद्र सिंह सिसौदिया, संचालक सीसीबी नरेंद्र सिंह बैस, प्रमुख सचिव कृषि डॉ. राजेश राजौरा, प्रबंध संचालक मंडी बोर्ड फैज अहमद किदवई, कृषि उत्पादन आयुक्त पी.सी. मीणा, संचालक कृषि एम.एल. मीणा, संभागायुक्त एम.बी. ओझा, एडीजीपी वी. मधुकुमार, डीआईजी डॉ. रमनसिंह सिकरवार, कलेक्टर श्रीकांत बनोठ, एसपी शैलेंद्रसिंह चौहान आदि मौजूद थे।

विधायक और एएसपी में बहस

कार्यक्रम के दौरान हेलीपेड क्षेत्र की तरफ जा रहे तराना विधायक अनिल फिरोजिया को वहां मौजूद एएसपी ज्योति ठाकुर ने रोक दिया। इसे लेकर विधायक आक्रोशित हो गए। करीब 5 मिनट तक दोनों में बहस हुई।

सभा में आए ग्रामीण की अटैक से मौत

दोपहर 12.30 बजे टेंट में बैठे बद्रीलाल गुर्जर (70) निवासी टांडाबोर्डी की तबीयत बिगड़ी और कुर्सी से गिर गए। किसान को तत्काल जिला अस्पताल भेजा गया, जहां डॉक्टरों ने उसे घोषित कर दिया। बाद में सीएम पहुंचे तो कलेक्टर ने मौत की जानकारी दी। इस पर सीएम ने दु:ख व्यक्त करते हुए परिजन की आर्थिक मदद के लिए 5 लाख रुपए देने की बात कही।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shajapur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×