• Hindi News
  • National
  • Maksi News Mp News Awareness Of Hygiene Maksi Got 182nd Position In The State With The Effort Of Council

स्वच्छता के प्रति लोगों की जागरूकता, परिषद के प्रयास से मक्सी को मिला प्रदेश में 182वां स्थान

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
स्वच्छ सर्वेक्षण-2019 के रिजल्ट में शहर 235 नंबर की लंबी छलांग लगाकर एक ही वर्ष में स्वच्छता में 182 वे स्थान पर पहुंच गया। बीते वर्ष हुए स्वच्छता सर्वेक्षण में शहर को 416 वां स्थान मिला था, जिसके बाद स्वच्छता रैंकिंग में सुधार करने के लिए नगर परिषद मक्सी ओर शहर वासियों द्वारा शहर को साफ सुथरा रखने के लिए युद्धस्तर पर प्रयास किए गए। नप ने इस वर्ष अपने 64 कर्मचारी शहर को स्वच्छ बनाने के लिए दिए जिन्होंने सुबह शाम कचरा इकट्ठा करने के साथ शहर की गलियों चौराहों पर दोनों समय साफ सफाई की नतीजा एक वर्ष बाद आई स्वच्छता सर्वेक्षण नतीजों में शहर की सफाई व्यवस्था को सुधार कर लिया।

हालांकि जिले के अन्य शहरों की रेटिंग के मुकाबले शहर कुछ पिछड़ा है, लेकिन कुछ शहरों से आगे भी निकल गया है। नप का लक्ष्य अगले वर्ष होने वाले स्वच्छता सर्वेक्षण में टॉप 50 में आने का है। जिसके लिए स्वच्छता टीम के साथ शहरवासी भी इसके लिए भरसक प्रयास करेंगें। नगर परिषद मक्सी द्वारा पिछले वर्ष आई रेटिंग में सुधार करने के लिए शहरवासियों को साफ सफाई के प्रति जाग्रत करने के अलावा कई ऐसे प्रयास किए गए। डोर टू डोर कचरा इकट्ठा करने के लिए नप के पास सिर्फ दो ही गाडिय़ां दिन में एक बार घर घर जाकर कचरा उठती थी लेकिन उसमे सुधार करते हुए नप ने इस वर्ष सात गाड़ियों से सुबह शाम दोनों समय घर घर जाकर कचरा इकट्ठा किया नतीजा शहर दिखने लगा साफ सुथरा।

कॉलोनियां भी रहती है साफ सुथरी।

नप द्वारा दिए गए इस मटके में गीले कचरे से बनती है खाद।

गीले कचरे को घर में डंप करके बनाईं खाद
शहर के घरों से निकलने वाले गीले कचरे से शहरवासियों ने घर मे ही होम कम्पोस्ट यूनिट लगाकर गीले कचरे को घर मे डंप कर उससे खाद बनाई नतीजा कचरे की मात्रा में कमी आई। नप मक्सी द्वारा कचरा इकट्ठा करने के लिए 1500 से ज्यादा घरों में फ्री डस्टबिन वितरित किए। वहीं चौपाल के माध्यम से शहरवासियों को साफ सफाई रखने के लिए जागरूक किया गया। जिससे शहर के अधिक कचरा निकालने वाले वार्ड भी रहने लगे चकाचक।

टाप 50 के लिए करेंगे प्रयास

शहर को स्वच्छ और साफ सुथरा रखने लिए नप हरसंभव प्रयास कर रही है शहरवासियों को भी स्वच्छता के प्रति ओर जागरूक होने की जरूरत है दोनों के सामूहिक प्रयास से शहर को अगले वर्ष ओर अच्छा स्थान मिल सकता है। राजेन्द्र सिंह पटेल, नप अध्यक्ष मक्सी

बीते एक वर्ष में हमनें युद्धस्तर पर प्रयास किए है, तब जाकर 182 वां स्थान मिला है। हमारा अगला लक्ष्य मक्सी नप को टॉप 50 के अंदर लाने का रहेगा इसके लिए ओट अधिक संसाधन जुटाकर शहर को स्वच्छ रखेंगे। राजेन्द्र वर्मा, मुख्य नप अधिकारी

खबरें और भी हैं...