• Hindi News
  • Mp
  • Shajapur
  • KANAD News mp news no foot prints were found no other marks forest department said only rumor to be lion

न फुट प्रिंट मिले, न अन्य निशान, वन विभाग बोला- शेर होने की सिर्फ अफवाह

Shajapur News - कानड़ के आसपास शेर नहीं है। यह केवल अफवाह है। यह दावा वन विभाग ने बुधवार को किया। इससे पहले विभाग ने इलाके में सर्च...

Nov 28, 2019, 08:11 AM IST
KANAD News - mp news no foot prints were found no other marks forest department said only rumor to be lion
कानड़ के आसपास शेर नहीं है। यह केवल अफवाह है। यह दावा वन विभाग ने बुधवार को किया। इससे पहले विभाग ने इलाके में सर्च आपरेशन चलाया था। इस दौरान उसे न तो शेर के फुट प्रिंट मिले न ही कोई अन्य सबूत।

दो दिनों से कानड़ के रायपुरिया रोड़ स्थित देवसागर तालाब के आसपास शेर होने की अफवाह से लोग दहशत में थे। इस संबंध में अशोक खतेडिया वनपरिक्षेत्र अधिकारी आगर ने बताया कि कानड़ क्षेत्र के जंगल में शेर होने की सूचना एवं वीडियो वायरल होने पर मंगलवार की रात एवं बुधवार की सुबह कानड़ क्षेत्र के जंगल का सूक्ष्मता से निरीक्षण किया गया। निरीक्षण में कहीं पर भी फुट प्रिंट मार्क नहीं मिले। उन्होंने कहा कि वनविभाग की टीम द्वारा लगातार निरीक्षण किया जाएगा।

यहां हुआ निरीक्षण- बुधवार सुबह 7 बजे से 10 बजे तक देवसागर तालाब से लेकर कानड़ क्षेत्र के इट भट्टे, देवनारायण मंदिर क्षेत्र, अयोध्या बस्ती के आसपास, हायर सेकंडरी स्कूल के पीछे एवं क्षेत्र के अन्य जंगल मे सूक्ष्मता से निरीक्षण किया गया। निरीक्षण में कही भी पगमार्क नहीं मिले। इधर वनरक्षक छगन परमार ने बताया कि देश मंे केवल गुजरात नेशनल गिर पार्क में ही शेर मिलते है और जो शेर का वीडियो वायरल हुआ हैं। वह भी गुजरात का होना प्रतीत होता हैं। असामाजिक तत्वों द्वारा दहशत फैलाने का प्रयास किया गया हैं। वनविभाग द्वारा पुलिस को कार्रवाई के लिए कहा गया है। टीम में अशोक खतेडिया, छगन परमार, विपिन शर्मा आदि शामिल थे।

वन विभाग के अधिकारियों ने बुधवार को किया निरीक्षण।

X
KANAD News - mp news no foot prints were found no other marks forest department said only rumor to be lion
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना