--Advertisement--

अफसरों को नहीं मिला... भास्कर ने तलाशा तो दुकानों पर मिला प्रतिबंधित चायना मांझा

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 04:40 AM IST

Shajapur News - प्रतिबंध के बाद भी शहर में खुलेआम चायना मांझे का कारोबार हुआ, लेकिन अफसरों की इस तरफ नजर नहीं पड़ी। कार्रवाई के नाम...

Shajapur News - mp news officers did not get it bhaskar searched and found shops at the shops of china
प्रतिबंध के बाद भी शहर में खुलेआम चायना मांझे का कारोबार हुआ, लेकिन अफसरों की इस तरफ नजर नहीं पड़ी। कार्रवाई के नाम पर 26 दिसंबर को पटवारियों की टीम कुछ दुकानों पर पहुुंची, जिन्हें एक भी दुकान पर चायना मांझा नहीं मिला। अफसरों की जांच की पोल खोलते हुए रविवार को भास्कर ने चायना मांझा खरीदने वाले लोगों को ही पकड़ लिया। हालांकि खरीदी करने वाले नाबालिग बच्चे होने से उनके नाम व फोटो को सार्वजनिक नहीं किया जा सकता। वे चायना मांझा कहां से लाए, यह उन्होंने खुलकर भास्कर को बताया।

चायना मांझे के प्रतिबंध से अनजान इन बच्चाें को जब चायना मांझे से होने वाले नुकसान से अवगत कराया तो वे भी बाद में पछताते हुए नजर आए। उन्होंने यहां तक कहा कि चायना मांझा व्यापारियों द्वारा कीमत से महंगे में भी दिया जा रहा है। रविवार को चायना मांझा खरीदकर जा रहे ग्रामीण क्षेत्र से आए पिता व पुत्र से जब भास्कर ने पूछा कि चायना मांझा किस दुकान से लाए हो तो उन्होंने बताया कि भंसाली मोहल्ले में लगी पतंग की दुकान से लाए हैं। 600 रुपए में एक गट्टा दिया है। शहर के ही एक अन्य युवक ने भास्कर को बताया कि वह सुगंधी गली स्थित बंदू की दुकान से तीन बार चायना मांझा खरीद चुका है। अपना नाम नहीं छापने की शर्त पर युवक ने बताया कि दुकान पर चायना मांझे की डिमांड करते ही वे मोबाइल से किसी को सूचना देकर चायना मांझा दूसरी जगह से बुलवाते हैं। यहां भी दुकान से करीब 50 मीटर दूर ले जाकर हमें मांझा दिया गया। महूपुरा क्षेत्र की तीन दुकानों में से सबसे ऊपर महूपुरा चौराहे पर लगी दुकान से भी चायना मांझा की खरीदी करने की बात युवक ने कही है।

आज प्रशासन को ध्यान रखने की जरूरत - संक्रांति पर आज व कल अफसरों को सतर्क रहने की जरूरत है। यदि इन दो दिन अधिकारियों ने गंभीरता बरतते हुए चायना मांझे की बिक्री पर रोक लगा दी तो कई पक्षियों की जान बच जाएगी।

पिता पर धारा 144 का उल्लंघन करने पर कार्रवाई न हो, इसलिए चेहरे नहीं दिखा रहे।

भंसाली मोहल्ले से छोटा चौक की तरफ जा रहे पिता-पुत्र के हाथों में जानलेवा चायना मांजा था। पूछा तो बताया कि पतंग दुकान से लिया।

कोड वर्ड के नाम से बिक रहा है चायना मांझा

मीरकलां क्षेत्र स्थित एक दुकान पर ग्राहक बन पहुंचे एक व्यक्ति ने दुकान पर जाकर चायना मांझे का पूछा तो व्यापारी ने इंकार कर दिया। बाद में दूसरे युवक को भेजा। जिसने व्यापारी से सीधे पूछा की मोनोकाइड गोल्ड मिल जाएगा। इस पर व्यापारी ने कहा मिल जाएगा। बाकायदा गट्टे की कीमत 600 रु. भी बताई।

भास्कर अपील

बच्चों को चायना मांझा न दिलाए माता-पिता

मकर संक्रांति को लेकर सोमवार व मंगलवार लगातार दो दिन तक पतंगबाजी का सिलसिला चलेगा। इस दौरान भास्कर ने लाेगाें से अपील की कि वे अपने बच्चों को कतई चायना मांझा न दिलाएं। सामान्य डोर से ही बच्चों को पतंग उड़ाने की समझाइश दें। ताकि आमजन के लिए चायना मांझे का खतरा न बने। पतंग लूटने के बाद भी अपनी जान जोखिम में न डालें। माता-पिता को भी इसका ध्यान रखने की जरूरत है।

X
Shajapur News - mp news officers did not get it bhaskar searched and found shops at the shops of china
Astrology

Recommended

Click to listen..