डेम की पाल के पास रखी मोटर जब्त, 70 के कनेक्शन काटे, अब केस दर्ज होगा

Shajapur News - चीलर डेम का पूरा पानी खाली हो जाने के बाद आखिरकार बुधवार को जिम्मेदारों की नींद खुली। पुलिस बल के साथ नपा, बिजली...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 04:40 AM IST
Shajapur News - mp news seized the seized motor near dame pal cut the connection of 70 now the case will be registered
चीलर डेम का पूरा पानी खाली हो जाने के बाद आखिरकार बुधवार को जिम्मेदारों की नींद खुली। पुलिस बल के साथ नपा, बिजली कंपनी व प्रशासनिक अफसर डेम पर पहुंचे। यहां डेम की पाल के समीप ही सांपखेड़ा के किसानों की खुलेआम चल रही मोटरों को जब्त किया। हालांकि कुछ देर बार जब्त की गई दोनों मोटरें लौटा दी। लेकिन अब पानी चोरी करने पर सीधे एफआईआर दर्ज कराने की चेतावनी दे डाली। इधर, वहां बिछे बिजली के तारों को समेटकर बिजली कंपनी की टीम ने कनेक्शन काटना शुरू कर दिया। एक ही दिन में 70 कलेक्शन काट डाले।

डेम से लगातार हो रहे पानी चोरी को लेकर कलेक्टर श्रीकांत बनोठ ने अफसरों को निर्देश दिए। इस पर दो नायब तहसीलदार गब्बू डाबर व संदीप इवने, नगर पालिका सीएमओ भूपेंद्र दीक्षित, एमपीईबी के जूनियर इंजीनियर व पुलिस टीम ने संयुक्त रूप से कार्रवाई शुरू कर दी। अधिकारियों का अमला सांपखेड़ा से लेकर 5 किमी दूर ग्राम आला उमरोद के समीप डेम किनारे तक पहुंचा। इस दौरान उन्होंने मोटर से डेम का पानी निकालकर सिचाई करने वाले किसानों से मोटरें बंद करवा दी। बिजली कंपनी ने किसानों के कलेक्शन काटना शुरू किया और शाम तक 70 किसानों के बिजली कनेक्शन काट दिए। अधिकारियों ने किसानों को हिदायत दी हैं कि अब किसी भी स्थिति में डेम के पानी से सिचाई नहीं की जाए। यदि मोटरें डेम में पाई गई तो सीधे मोटरों को जब्त कर संबंधित किसान के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

डेम में इस तरह अंडर ग्राउंड तरीके से हो रहा पानी चोरी, तार भी पाइप के साथ अंडर ग्राउंड डाल रखे हैं।

लापरवाही... पहली बार फरवरी में बने ऐसे हालात

शहरवासियों की प्यास बुझाने के लिए एकमात्र स्रोत चीलर डेम है। इसमें इस बार बारिश के दौरान 15 फीट पानी जमा हो गया था। लेकिन ज्यादा पानी जमा होने के बाद भी अफसरों ने इस बार इतनी लापरवाही की कि सर्दी के सीजन से ही पेयजल संकट खड़ा होता दिखाई दे रहा है। पहली बार ऐसी स्थिति बनी की फरवरी माह में ही पानी की लिफ्टिंग करने की नौबत आ गई। इस कारण नपा वहां मोटरें लगाकर डेम का पानी नहर में बहाते हुए नदी के रास्ते वाटर वर्कर्स तक लाएगी।

चोरी की तकनीक... अंडरग्राउंड बिछा है पाइप का जाल

डेम के पानी से सिंचाई करने के लिए किसानों ने अंडरग्राउंड पाइपों को जाल बिछा रखा है। इन पाइप लाइन के जरिए डेम से करीब 10 किमी दूर तक पानी पहुंचाया जा रहा है। इन मोटरों को ढूंढना अधिकारियों के लिए भी मुश्किल रहेगा। ऐसे में अफसरों को सख्ती दिखाते हुए कवर्ड क्षेत्र के बाद जेसीबी से खुदाई कर दें तो सारे पाइप सामने आ जाएंगे। ज्ञात रहे पाइपों के साथ ही किसानों ने तार भी अंडरग्राउंड डाल रखे है।



इस कारण ऊपर किसी को न तो तार दिखाई देते हैं और न ही पाइप। मोटरें भी सीधे पानी में डाल दी जाती है। यानी सिर्फ डेम किनारे किसानों को सिर्फ एक स्टार्टर ही रखना पड़ता है। उसे भी वे गड्ढ़ा खोदकर छुपा देते हैं।

भास्कर के खुलासे पर की कार्रवाई

तीन विभाग डेम की पाल पर पहुंचे

विरोध के डर से अधिकारी नहीं कर रहे हैं किसानों पर कार्रवाई

उठाया था मुद्दा... कलेक्टर ने दिए थे निर्देश पानी चोरी के कारण लगातार गिरते चीलर डेम के जल स्तर को देखते हुए भास्कर ने 13 फरवरी को प्रमुखता से खबर प्रकाशित की। मामले को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर श्रीकांत बनोठ ने निर्देश दिए और बुधवार को ही दोपहर 2 बजे नपा, बिजली कंपनी, राजस्व अफसर मय पुलिस बल के डेम की तरफ रवाना हो गए। कार्रवाई शाम करीब 5.30 बजे तक चली। पहले दिन अधिकारियों ने समझाईश देकर किसानों से मोटरें बंद करवाकर वहां से घर ले जाने की हिदायत दी।

लगातार होगी पेट्रोलिंग : सीएमओ

सीएमओ भूपेंद्र दीक्षित ने बताया कि पहले दिन किसानों को समझाईश दी गई है। इसके बाद अब इस क्षेत्र में मोटरें मिली तो जब्त कर कानूनी कार्रवाई करेंगे। डेम के दूसरी तरफ वाले किसानों को मुनादी कराकर सूचित किया जा रहा है।

Shajapur News - mp news seized the seized motor near dame pal cut the connection of 70 now the case will be registered
X
Shajapur News - mp news seized the seized motor near dame pal cut the connection of 70 now the case will be registered
Shajapur News - mp news seized the seized motor near dame pal cut the connection of 70 now the case will be registered
COMMENT